अध्याय 34. आधुनिक भारत – प्रान्तीय चुनाव तथा मंत्रिमण्डलों का गठन L2

1851. 1937 के प्रान्तीय चुनावों में कांग्रेस ने ग्यारह में-से पाँच प्रान्तों में बहुमत हासिल कर लिया और निम्नलिखित मेंसे एक में उसका बहुमत कुछ मतों से ही कम रहा:
(a) उड़ीसा (b) मद्रास
(c) बम्बई (d) सेन्ट्रल प्राविन्सेस
Answer: ─ (c)


1852. कांग्रेस ने 1937 के चुनावों में भाग लेकर कितने प्रान्तों में पूर्ण बहुमत प्राप्त किया?
(a) तीन (b) चार (c) पाँच (d) छ:
Answer:–(c)


1853. वर्ष 1937 के चुनावों में कितने प्रान्तों में कांग्रेस का मन्त्रिमण्डल बना था?
(a) 11 (b) 9 (c) 6 (d) 3
Answer: – (*)


1854. 1937 ई0 के चुनावों में कांग्रेस द्वारा बहुमत प्राप्त प्रान्तों की संख्या है─
(a) तीन (b) चार (c) पाँच (d) छ:
Answer: (c)


1855. 1937 ई. के प्रान्तीय विधान सभा चुनावों में इण्डियन नेशनल कांग्रेस को पूर्ण बहुमत प्राप्त हुआ।
(a) चार प्रान्तों में (b) छ: प्रान्तों में
(c) आठ प्रान्तों में (d) सभी ग्यारह प्रान्तों में
Answer: (*)


1856. 1937 में प्रान्तों में मंत्रिमण्डल के निर्माण के उपरान्त काँग्रेस का शासन कितने महीने चला था?
(a) 28 महीने (b) 29 महीने
(c) 30 महीने (d) 31 महीने
Answer: – (a)


1857. 1935 के अधिनियम के उपरान्त ‚ 1937 में हुए चुनावों में गठित कांग्रेस मंत्रिमण्डलों का कार्यकाल था
(a) 20 माह (b) 22 माह
(c) 24 माह (d) 28 माह
Answer: – (d)


1858. वह प्रान्त ‚ जहाँ 1937 के आम चुनाव के बाद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने अपनी सरकार नहीं बनायी ‚ थी
(a) बंगाल (b) बिहार
(c) मद्रास (d) उड़ीसा
Answer:–(a)


1859. वह कौन सा प्रान्त था जहाँ 1937 के आम निर्वाचन में भारतीय राष्ट्रीय कांगे्रस को पूर्ण बहुमत नहीं प्राप्त हुआ था?
(a) बम्बई (b) असम
(c) उड़ीसा (d) बिहार
Answer:─(*)


1860. 1937 में सम्पन्न विधान सभा चुनावों में इंडियन नेशनल कांग्रेस को निम्न में से किस प्रान्त में पूर्ण बहुमत नहीं मिला था─
(a) मध्य प्रान्त (b) बिहार
(c) पंजाब (d) मद्रास
Answer:─(c)


1861. जनवरी एवं फरवरी ‚ 1937 के प्रथम आम चुनावों में कांग्रेस पार्टी ने निम्नलिखित को छोड़कर सभी प्रान्तों में बहुमत प्राप्त कर लिया
(a) बंगाल एवं असम
(b) पंजाब एवं सिन्ध
(c) असम ‚ पंजाब एवं सिन्ध
(d) बंगाल ‚ असम ‚ पंजाब ‚ एवं सिन्ध
Answer: (d)


1862. 1937 के चुनावों के बाद प्रांतों में स्थापित कांग्रेसी सरकारों की गतिविधियों के मार्गदर्शन और समन्वय के लिए तथा कांग्रेस के प्रांतीयकरण को रोकने के लिए एक संसदीय उपसमिति का गठन किया गया। निम्नलिखित में से कौन इसका सदस्य नहीं था?
(a) सी. राजगोपालाचारी
(b) डॉ. राजेन्द्र प्रसाद
(c) मौलाना अबुल कलाम आजाद
(d) सरदार वल्लभभाई पटेल
Answer: (a)


1863. 1937 के चुनाव के पश्चात् यू. पी. में गठित मंत्रिमंडल में किसको वित्त विभाग सौंपा गया था?
(a) गोविन्द वल्लभ पन्त को
(b) रफी अहमद किदवई को
(c) कैलाशनाथ काटजू को
(d) मोहम्मद इब्राहीम को
Answer: – (b)


1864. फरवरी 1937 के चुनावों के बारे में क्या सही नहीं है?
(a) 1937 में चुनाव हुए।
(b) कांग्रेस ने चुनाव में भाग लिया।
(c) इसे बंगाल में बहुमत मिला।
(d) कांग्रेस ने छह राज्यों में सरकार का गठन किया।
Answer: – (c)


1865. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएकथन
A: 1939 ई. में कांग्रेस मंत्रिमण्डलों का कार्यकाल समाप्त हो गया। कारण- R: मंत्रिमण्डल सुचारू रूप से कार्य नहीं कर सके। अपना सही उत्तर निम्नलिखित संकेतों से चुनियेकूट:
(a) A और R दोनों सत्य है और R, A की सही व्याख्या है।
(b) A और R दोनों सत्य है परन्तु R, A की सही व्याख्या नहीं है
(c) A सत्य है पर R असत्य है
(d) A असत्य है किन्तु R सत्य है
Answer: (d)


1866. ग्यारह प्रांतों में से सात प्रांतों में कांग्रेस की सरकार कब बनी थी?
(a) जुलाई 1935 (b) जुलाई 1936
(c) जुलाई 1937 (d) जुलाई 1938
Answer:─(c)


1867. 1937 के प्रान्तीय विधान सभा चुनावों के उपरान्त मुस्लिम लीग की राजनीति के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही नही हैं?
(a) मुस्लिम लीग द्वारा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के साथ गठजोड़ मंत्रिमण्डल बनाने की इच्छा थी
(b) जिन्ना ने कांग्रेस के “शक्ति के मद में चूर” होने की आलोचना की
(c) मुस्लिम लीग ने कांग्रेस-शासित प्रान्तों में मुसलमानों के प्रति दुव्र्यवहार पर रिपोर्ट तैयार करायी
(d) बंगाल ‚ सिन्ध और उत्तर-पश्चिम सीमान्त प्रान्त में मुस्लिम लीग मंत्रिमण्डलों ने त्यागपत्र दे दिया
Answer: ─ (d)


1868. 1937 में मध्य भारत और बरार में कांग्रेस मंत्रिमण्डल बनने पर पहला मुख्यमंत्री कौन बना?
(a) एन. बी. खरे (b) रविशंकर शुक्ल
(c) डी. पी. मिश्र (d) राघवेन्द्र राव
Answer: (a)


1869. सन् 1937 ई. में जब भारत में लोकप्रिय सरकारें बनीं तो किसान आन्दोलन को उनसे कोई प्रोत्साहन नहीं मिला क्योंकि
(a) महात्मा गाँधी किसानों की माँगों के विरुद्ध थे
(b) किसान आन्दोलन अत्यन्त अतिवादी था
(c) सरकारों को जब प्रान्तों में सत्ता मिली तो उन्हें कई व्यावहारिक समस्याओं का सामना करना पड़ा
(d) किसानों की माँगों को पूरा करना उनके कार्यक्रम में नहीं था
Answer: (c)


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *