You are here
Home > Previous Papers > GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ दिसम्बर- 2015 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल 0010.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ दिसम्बर- 2015 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल 0010.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ दिसम्बर- 2015 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल

निर्देश : इस प्रश्न-पत्र में पचहत्तर (75) बहु-विकल्पीय प्रश्न हैं। प्रत्येक प्रश्न के दो (2) अंक हैं। सभी प्रश्न अनिवार्य हैं।
1. निम्नलिखित में से कौन सा लेखक भू-अभिनति की अवधारणा से सम्बंधित है?
(a) पेंक और डेविस (b) बुलरिज और मोरगन
(c) हॉल और डाना (d) वुलरिज ओर लैपिचोन
उत्तर-(c) : भूसन्नतियाँ लम्बे किन्तु संकरे तथा उथले जलीय भाग होती है जिनमें तलछटीय निक्षेप के साथ-साथ धसाव होता रहता है। प्रमुख उदाहरण में टेथीस भूसन्नति‚ अप्लेसियन भूसन्नति‚ रॉकी भूसन्नति यूराल भूसन्नति प्रमुख है। प्रश्नगत दिये गये विद्वानों में हॉल तथा डाना ने भूसन्नति से सम्बन्धित संकल्पना दी है। मोड़दार पर्वतों की व्याख्या के दौरान हाल तथा डाना ने 1978 में अपनी संकल्पना को जन्म दिया। उन्होंने मोड़दार पर्वतों तथा भूसन्नतियों के बीच सम्बन्ध स्थापित करते हुए बताया कि सभी वलित पर्वतों का अर्विभाव भूसन्नतियों से ही हुआ है। इनके अलावा भूसन्नतियों से सम्बन्धित संकल्पना का अर्विभाव करने वाले प्रमुख विद्वान निम्न है- हॉग‚ शुशर्ट‚ आर्थर होम्स आदि।
2. सूची – I को सूची – II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
सूची – I सूची – II
(लेखक) (किताब)
(1) केÊडब्ल्यूÊबटजर (i) प्रोसेस इन जियोमॉर्फोलोजी
(2) डब्ल्यूÊएमÊ डेविस (ii) जियोमॉर्फोलोजी एंड टाइम
(3) सीÊइमबलेटन‚ इत्यादि (iii) जियोमॉर्फोलोजी फ्राम द अर्थ
(4) जेÊ थोर्नेस‚ इत्यादि (iv) द जियोमॉर्फिक साइकल
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iii) (iv) (ii) (i)
(b) (iv) (iii) (ii) (i)
(c) (iii) (i) (iv) (ii)
(d) (iii) (iv) (i) (ii)
उत्तर-(d) :
सूची – I सूची – II
(लेखक) (किताब)
(1) केÊडब्ल्यूÊबटजर (i) जियोमॉर्फोलोजी फ्राम द अर्थ
(2) डब्ल्यूÊएमÊ डेविस (ii) द जियोमॉर्फिक साइकल
(3) सीÊइमबलेटन‚ इत्यादि (iii)प्रोसेस इन जियोमॉर्फोलोजी
(4) जेÊ थोर्नेस‚ इत्यादि (iv) जियोमॉर्फोलोजी एंड टाइम
3. निम्नलिखित में से किसे अंतरापर्वतीय पठार कहा जा सकता है?
(a) ब्राजिलयी (b) भारतीय
(c) तिब्बतीय (d) अरेबीयाई
उत्तर-(c) : भौगोलिक अवस्थिती के आधार पर पठारों को कई भागों में बांटा जा सकता है जैसे अर्न्तपर्वतीय पठार‚ पर्वतपदीय पठार‚ महाद्वीपीय पठार‚ तटीय पठार तथा गुम्बदाकार पठार इत्यादि। अर्न्तपर्वतीय पठार ऐसे पठार को कहते हैं जिनकी अवस्थिती पर्वतमालाओं के बीच में होती है। जैसे तिब्बत का पठार‚ बोलिविया का पठार‚ पेरू का पठार ईरान का पठार‚ कोलम्बिया का पठार इत्यादि।
4. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
वायु की निक्षेपीय क्रिया के कारण एस्कर बनते हैं।
कारण (R) : एस्कर सरिता-हिमी निक्षेप के कारण बनते हैं।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ लेकिन (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ लेकिन (R) सही है।
उत्तर-(d) : एस्कर हिम के पिघलने से प्राप्त जलधाराओं के द्वारा मलबा के निक्षेपण से बनते है। एस्कर लम्बे संकरे तथा सर्पिलाकार कटक होते है। इनके किनारे तीव्र ढाल वाले होते है। इनका विस्तार हिमनद तथा जलधारा की दिशा के समानान्तर होता है।
5. तलस्तरीय नकारात्मक गतियों का परिणाम है:
(a) पुनर्युवन (b) स्थिरीकरण
(c) संनिघर्षण (d) साल्टेशन
उत्तर-(a) : जलीय प्रक्रमों (सरिता) के अपरदन की शक्ति में अपरदन के आधार तल में ऋणात्मक परिवर्तन के फलस्वरूप त्वरित गति से वृद्धि को नवोन्मेष (पुनर्युवन) कहते है। नवोन्मेष के कारण नदियाँ अपनी घाटी को निम्नवर्ती अपरदन द्वारा पुन: गहरा करने लगती है। नवोन्मेष की स्थिति में अपरदन चक्र की अवधि बढ़ जाती है। उदाहरण के लिए यदि जलीय अपरदन चक्र अपनी प्रवणता‚ मन्द सरिता प्रवाह तथा उथली तथा चौड़ी जलोढ़ घाटियों का विकास हो गया है। तो उनमें नवोन्मेषण के कारण व्यवधान हो जायेगा तथा नदियाँ पुन: लम्बवत अपरदन द्वारा अपनी घाटी को गहरा करना प्रारम्भ कर देती है। 81
6. निम्नलिखित शैल विशेषताओें पर विचार करें:
(1) ये परतदार होती हैं।
(2) इनमें जीवाश्म होते हैं।
(3) ये वाहित शैल होते हैं।
(4) ये जलनिकायों में बनती हैं। उपर्युक्त में से कौन-सी विशेषताएँ अवसादी शैलों के बारे में सही है?
कूट:
(a) (1)‚ (2) और (3) (b) (1)‚ (2) और (4)
(c) (1) और (4) (d) (1)‚ (2)‚ (3) और (4)
उत्तर-(d) : अवसादी चट्टानों का निर्माण चट्टान चूर्ण तथा जीवावशेषों एवं वनस्पतियों के समूहन से होता है। यही कारण है कि अवसादी शैलों में जीवावशेष पाये जाते है। अवसादी शैलों में परतें पायी जाती है‚ परन्तु यह शैल रवेदार नहीं होती है। अवसादी चट्टानों की विशेषता उनमें सन्धियों तथा जोड़ों का पाया जाना है। इसके अलावा चट्टानों के दो अन्य प्रमुख प्रकार है जो निम्न है-
1.आग्नेय चट्टान−ज्वालामुखी उद्गार के समय गर्म एवं तरल लावा पृथ्वी के अन्दर तथा बाहर जमकर ठोस होकर आग्नेय शैल का रूप ले लेता है। आग्नेय शैल के प्रमुख उदाहरण – ग्रेनाइट तथा बेसाल्ट।
2. रूपान्तरित चट्टान−अवसादी व आग्नेय शैल में परिवर्तन के फलस्वरूप रूपान्तरित शैल का निर्माण होता है। इनके प्रमुख उदाहरण निम्न हैं−संगमरमर‚ क्वार्टजाइट‚ स्लेट‚ नीस‚ सिस्ट आदि।
7. सूची−I को सूची−II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
सूची – I सूची – II
(निक्षेप का स्थान) (निक्षेप का नाम)
(1) चैनल (i) ऊर्ध्व अभिवृद्धी निक्षेप
(2) चैनल मार्जिन (ii) पश्च निक्षेप
(3) ओवरबैंक फ्लड प्लेन (iii) मिश्रोढक
(4) वेली मार्जिन (iv) पार्श्व अभिवृद्धी निक्षेप
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (ii) (i) (iii) (iv)
(b) (iv) (ii) (i) (iii)
(c) (ii) (iv) (i) (iii)
(d) (ii) (iv) (iii) (i)
उत्तर-(c) :
सूची – I सूची – II
(निक्षेप का स्थान) (निक्षेप का नाम)
(1) चैनल (i) पश्च निक्षेप
(2) चैनल मार्जिन (ii) पार्श्व अभिवृद्धी निक्षेप
(3) ओवरबैंक फ्लड प्लेन (iii) ऊर्ध्व अभिवृद्धी निक्षेप
(4) वेली मार्जिन (iv) मिश्रोढक
8. जब एक चूनापत्थर कंदरा ढह जाती है तो निम्नलिखित में से कौन सी आकृति बनती है?
(a) टार्न (b) पोलजे
(c) विलय रंध्र (d) डोलाइन
उत्तर-(c) : चूना पत्थर से निर्मित कन्दरा जब ढह जाती है तो उसकी आकृति विलय रंध्र जैसे हो जाती है।
9. निम्नलिखित में से कौन सा वायुमंडल का हिस्सा नहीं है?
(a) मध्यस्थ मंडल (b) समताप मंडल
(c) चुम्बकत्व नियंत्रण क्षेत्र (d) बाह्य
उत्तर-(c) : चुम्बकत्व नियन्त्रण क्षेत्र को छोड़कर सभी वायुमण्डल का हिस्सा है। वायुमण्डलीय परतों का नीचे से ऊपर स्थित क्रम निम्नवत है
1. क्षोभमण्डल
2. समतापमण्डल
3. मध्यमण्डल 4 तापमण्डल
5. बर्हिमण्डल
10. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
पृथ्वी के वायुमंडल में CO2 की उपस्थिति आवश्यक है।
कारण (R) : CO2 ताप को अवशोषित कर सकती है।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ लेकिन (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ लेकिन (R) सही है।
उत्तर-(a) : पृथ्वी के वायुमण्डल में CO2 की उपस्थित आवश्यक है। पौधों द्वारा प्रकाश संश्लेषण की क्रिया के समय CO2 का उपयोग होता है। लेकिन CO2 की अधिकता भी वायुमण्डल के लिए हानिकारक है क्योंकि यह ताप को अवशोषित कर वायुमण्डल के तापमान को बढ़ा देता है। अत: कथन और कारण दोनों सही है और कारण कथन की व्याख्या करता है।
11. सूची – I को सूची – II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
सूची – I सूची – II
(वायुमंडल में 100 किÊमीÊ (ऊँचाई की ऊँचाई के ऊपर गैसें) अन्तराल)
(1) नाइट्रोजन (i) 200 – 1100 किÊमीÊ
(2) ऑक्सीजन (ii) 1100 – 3500 किÊमीÊ
(3) हीलियम (iii) 100 – 200 किÊमीÊ
(4) हाइड्रोजन (iv) 3500 किÊमीÊ और उससे ऊपर 82
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iv) (ii) (i) (iii)
(b) (iii) (i) (ii) (iv)
(c) (iii) (ii) (i) (iv)
(d) (ii) (i) (iii) (iv)
उत्तर-(b) : कूटों का सही मिलान निम्नवत है-
(1) नाइट्रोजन – 100 – 200 K.M.
(2) आक्सीजन – 200- 1100 K.M.
(3) हीलियम – 1100- 3500 K.M.
(4) हाइड्रोजन – 3500 K.M. और उससे ऊपर
12. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
उष्णकटिबंधीय चक्रवात की जीवन अवधि – एक सप्ताह होती है।
कारण (R) : वे कम वायुमंडलीय दबाव के कारण कम वर्षा पैदा कर सकते हैं।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ लेकिन (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ लेकिन (R) सही है।
उत्तर-(c) : उष्ण कटिबंधीय चक्रवातों की उत्पत्ति कर्क तथा मकर रेखा के बीच होती है। इस प्रकार के चक्रवातों के केन्द्र में कम वायुदाब पाया जाता है इसी कारण कम वर्षा होती है। अत: कारण सही है जबकि कथन गलत है।
13. विषुवतीय पछुवा हवाओं के बनने के लिए निम्नलिखित में से क्या आवश्यक है?
(a) भूमध्यरेखा के ऊपर बड़े पैमाने पर भूकम्प
(b) ध्रुवों की ओर ट्रेड – विंड बेल्ट का विस्थापन होना
(c) भूमध्यरेखा की ओर धु्रवीय पूर्वी पवन का विस्थापन
(d) विषुवतीय वर्षा वन में बड़े पैमाने पर दावानल
उत्तर-(b) : विषुवतीय पछुआ हवाओं के बनने के लिए धु्रवों की ओर व्यापारिक पवनों की बेल्ट का विस्थापन होना आवश्यक है।
14. कोपेन के अनुसार वह जलवायु जिसमें वर्षण की मात्रा समस्त वर्ष लगभग समान रहती है परन्तु सबसे शुष्क मास में वर्षण की मात्रा 6 सेÊमीÊ से अधिक हो तथा दैनिक तापान्तर न्यूनतम हो‚ किस के द्वारा अंकित की जाती है?
(a) Aw (b) Af
(c) Am (d) As
उत्तर-(b) : कोपेन ने अपने जलवायु वर्गीकरण में A, B, C, D तथा E अक्षर का प्रयोग किया‚ जिनमें प्रत्येक का अर्थ निम्न है-
A. उष्ण कटिबन्धीय आर्द्र जलवायु‚ शीत ऋतु का अभाव
B. शुष्क जलवायु
C. मध्य अक्षांशीय आर्द्र जलवायु‚ सामान्य शीत ऋतु युक्त
D. मध्य अक्षांशीय शीत आर्द्र जलवायु
E. ध्रुवीय जलवायु इस प्रकार प्रश्नगत दिये गये संकेतों का निम्न अर्थ है-
Af वर्षा का मौसमी वितरण समान‚ शुष्कतम महीने में भी 6 सेमी वर्षा। वार्षिक तथा दैनिक तापान्तर न्यून। विषुवत रेखीय जलवायु। Aw शीतकाल शुष्क‚ तापक्रम वर्ष भर उच्च। उष्ण कटिबन्धीय सवाना जलवायु। Am लघु शुष्क मौसम। वार्षिक वर्षा की अधिकता। उष्ण कटिबन्धीय मानसूनी जलवायु।
15. निम्नलिखित में से कौन स्थानीय शीत पवन है?
(a) चिनूक (b) बोरा
(c) फोलीन (d) खमसिन
उत्तर-(b) : बोरा एक अतिशीतल शुष्क पवन है‚ उत्तर-पूर्वी पर्वतों से
उत्तरी एड्रियाटिक सागर की ओर प्रचण्ड रूप से बहती है यह पवन अधिकांशत: शीत ऋतु में चलती है। चिनूक – शुष्क‚ गर्म दक्षिण-पश्चिम पवन जो उत्तरी अमेरिका के रॉकीज पर्वतों के पूर्वी ढालों पर नीचे की ओर बहती है। यह अल्बर्टा‚ पश्चिमी सस्केचवान तथा मोण्टाना राज्यों को प्रभावित करता है। बसन्त ऋतु में इसके प्रभाव से ताप एकाएक बढ़ जाता है जिससे हिम तेजी से पिघलने लगता है। खमसिन-मिश्र के उत्तरी भाग में चलती है यह भी धूल भरी गर्म हवा है।
16. निम्नलिखित में से किस ऊँचाई पर ओजोन सघन रूप में पाई जाती है?
(a) 10 – 25 किÊमीÊ (b) 15 – 35 किÊमीÊ
(c) 35 – 50 किÊमीÊ (d) 50 – 65 किÊमीÊ
उत्तर-(b) : वायुमण्डल के संरचनात्मक विकास के क्रम में O2 के अणुओं के प्रतिक्रिया द्वारा UV की सहायता से 3O2 अणुओं के योग से समताप मण्डल में ओजोन किरणों का निर्माण प्रारम्भ हुआ। गुरूत्व बल के प्रभाव में क्षोभमण्डल के ऊपर इन गैसों का संकेन्द्रण प्रारम्भ हुआ‚ जिससे समतापमण्डल का अर्विभाव हुआ। समतापमण्डल में O3 की प्रधानता के कारण सूर्य से आने वाली UV किरणों को इसमें अवशोषण हो जाता है। 15 से 35 किमी तक ओजोन का अधिकतम विस्तार पाया जाता है जबकि 22 किमी की ऊँचाई पर यह सघनतम स्थिति में पायी जाती है।
17. निम्नलिखित में से वाताग्री अवदाब का सामान्य जीवन चक्र की सही पहचान कीजिए:
(a) 1 – 2 दिन (b) 2 – 3 दिन
(c) 3 – 4 दिन (d) 4 – 5 दिन
उत्तर-(d) 83 व्याख्या : वाताग्री अवदाब का सामान्य जीवन चक्र 4-5 दिन का होता है।
18. निम्नलिखित में से किस तापमान पर समुद्री जल का घनत्व सबसे अधिक होता है?
(a) 20C (b) 40C
(c) 60C (d) 250C
उत्तर-(b) : 40C तापमान पर समुद्री जल का घनत्व सबसे अधिक होता है। ध्यातव्य है कि अन्य तत्वों के घनत्व के मापन के लिए शुद्ध जल के घनत्व को मानक के रूप में प्रयुक्त किया जाता है। सागरीय जल के घनत्व में सामान्यत: सागरीय जल के तापमान में कमी होने पर वृद्धि होती है।
19. निम्नलिखित में उनके आकार के अनुसार बढ़ते क्रम में महासागरों का कौन सा क्रम सही है?
(a) हिन्द आर्कटिक अटलांटिक प्रशांत
(b) आर्कटिक हिन्द अटलांटिक प्रशांत
(c) प्रशांत अटलांटिक हिन्द आर्कटिक
(d) अटलांटिक प्रशांत आर्कटिक हिन्द
उत्तर-(b) : बढ़ते क्रम में महासागरों का निम्न क्रम सही है-
आर्कटिक – हिन्द – अटलांटिक – प्रशांत प्रशान्त महासागर विश्व का सबसे बढ़ा तथा सबसे गहरा महासागर है। इसका क्षेत्रफल 16‚57‚23‚ 740 वर्ग किमी है।जो पृथ्वी के क्षेत्रफल का 1/3 भाग है। इस प्रकार इस विशाल महासागर का क्षेत्रफल पृथ्वी के कुल स्थलीय भाग से भी अधिक है। दूसरा क्रम पर आन्ध्र महासागर का विस्तार है। आन्ध्र महासागर का कुल क्षेत्रफल 8‚ 24‚ 63‚ 800 वर्ग किमी है। इस प्रकार इसका क्षेत्रफल प्रशान्त महासागर से आधा है। विश्व के 1/6 भाग पर फैला हुआ है। इसकी आकृति अंग्रेजी के s अक्षर जैसी है। हिन्द महासागर का विस्तार आन्ध्र महासागर से कम क्षेत्रफल पर पाया जाता है। इसका कुल क्षेत्रफल 7‚ 34‚ 25‚ 500 वर्ग किमी है।
20. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
सूची – I सूची – II
(महासागर) (धाराएं)
(1) हिन्द (i) अल-नीनो
(2) उत्तर-प्रशांत (ii) क्योरोशिओ
(3) दक्षिण-प्रशांत (iii) मानसून ड्रिफ्ट
(4) अटलांटिक (iv) गल्फस्ट्रीम
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iv) (iii) (ii) (i)
(b) (iii) (ii) (i) (iv)
(c) (i) (iv) (iii) (ii)
(d) (ii) (i) (iv) (iii)
उत्तर-(b) :
सूची – I सूची – II
(महासागर) (धाराएं)
(1) हिन्द (i) मानसून ड्रिफ्ट
(2) उत्तर-प्रशांत (ii) क्योरोशिओ
(3) दक्षिण-प्रशांत (iii) अल-नीनो
(4) अटलांटिक (iv) गल्फस्ट्रीम
21. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
सूची – I सूची – II
(महासागर की गहराई) (तापीय स्तर)
(1) 0 – 500 मीटर (i) शीत
(2) 500 – 1000 मीटर (ii) शीतल
(3) 1000 – 1500 मीटर (iii) उष्ण
(4) 1500 से अधिक मीटर (iv) ताप – प्रवणता
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (i) (ii) (iii) (iv)
(b) (ii) (iii) (iv) (i)
(c) (iv) (ii) (iii) (i)
(d) (ii) (iv) (i) (iii)
उत्तर-(*) : कोई भी विकल्प सुमेलित न होने के कारण आयोग द्वारा इस प्रश्न को हटा दिया गया है।
22. समुद्री लहरें निम्नलिखित में से कहाँ से ऊर्जा प्राप्त करती हैं?
(a) सौर प्रणाली (b) गर्म पानी का चशमा
(c) नदी जल (d) बहती हवा
उत्तर-(d) : समुद्री लहरें बहती हवा से ऊर्जा प्राप्त करती है।
23. विगत शताब्दी के दौरान विश्व में समुद्र के स्तर में लगभग कितनी वृद्धि हुई है?
(a) 15 सेÊमीÊ (b) 25 सेÊमीÊ
(c) 35 स (d) 45 सेÊमीÊ
उत्तर-(a) : विगत शताब्दी के दौरान विश्व में समुद्र के स्तर में लगभग 15 सेमी. की वृद्धि हुई। यद्यपि ऑस्ट्रेलिया के कुछ शोधकर्ताओं ने पाया है कि 1870 से 2004 के बीच समुद्री जलस्तर में 19.5 सेमी. की वृद्धि हुई है। वैज्ञानिक ने चेतावनी दी है कि अगर समुद्र का जलस्तर इसी तरह बढ़ना जारी रहा तो जलस्तर इस शताब्दी में 28 से 34 सेमी. तक बढ़ सकता है।
24. निम्नलिखित में से पर्वतीय पर्यावरण में बढ़ते हुए क्रम में वानस्पतिक मेखला का सही क्रम पहचानिए:
(a) अध:पर्वतीय‚ पर्वतीय‚ अध:अल्पाइन‚ अल्पाइन
(b) अल्पाइन‚ अध:अल्पाइन‚ पर्वतीय‚ अध:पर्वतीय
(c) पर्वतीय‚ अध:पर्वतीय‚ अल्पाइन‚ अध:अल्पाइन
(d) अल्पाइन‚ पर्वतीय‚ अध:अल्पाइन‚ अध:पर्वतीय
उत्तर-(a) 84 व्याख्या : पर्वतीय पर्यावरण में बढ़ते हुए क्रम में वानस्पति मेखला का सही क्रम इस प्रकार है− अध:पर्वतीय‚ पर्वतीय‚ अध:अल्पाइन‚ अल्पाइन।
25. वृत्त को 360 डिग्री विभाजित करने वाले सबसे प्रथम व्यक्ति निम्नलिखित में से कौन थे?
(a) टॉलमी (b) हेरोडोटस
(c) इरेटोसेनस (d) हिपारक्स
उत्तर-(d) : हिपारक्स ने अक्षांशों के आधार पर विश्व को क्लाईमाटा अक्षांश की पेटियों में विभाजित किया। वह प्रथम विद्वान था जिसनें विश्व को 360 अक्षांशों में विभाजित किया। अक्षांश तथा देशान्तर को निश्चित करने के लिए हिप्पार्कस ने एस्ट्रोलेब नामक यन्त्र का अविष्कार किया है।
26. ‘पर्यावरण‚ प्रतिबिम्ब और निर्णय लेने के बीच एक सशक्त सम्बन्ध होता है’। यह कथन किससे सम्बन्धित है?
(a) मानवतावाद (b) व्यवहारवाद
(c) अतिवाद (d) कल्याणकारी दृष्टिकोण
उत्तर-(b) : पर्यावरण‚ प्रतिबिम्ब‚ और निर्णय लेने के बीच एक सशक्त सम्बन्ध होता है। यह कथन व्यवहारवाद से सम्बन्धित है। व्यवहारवाद की संकल्पना का प्रार्दुभाव 1952 ई0 में क्रीक ने किया था। मानवतावाद शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग तुआन ने किया था। तुआन के अनुसार मानवतावाद वह परिदृष्टि है। जिससे मानव तथा स्थान के बीच के सम्बन्धों को वैज्ञानिक रूप से व्याख्यायित किया जाता है।
27. गणितीय भूगोल के संस्थापक किन्हें माना जाता है?
(a) प्लेटो और अरस्तू (b) थेल्स और एनेक्सीमेंडर
(c) हेक्टेयस और हीरोडोटस (d) टौलेमी
उत्तर-(b) : थेल्स तथा एनेक्जीमेन्डर को गणितीय भूगोल का संस्थापक कहा जाता है। थेल्स यूनान के प्रथम दार्शनिक तथा यात्री थे जिन्होंने ज्यामितीय तथा अनेक प्रमेयों की रचना की थी वह प्रथम विद्वान था जिसने पृथ्वी को मापने का कार्य आरम्भ किया और पृथ्वी के तल पर स्थानों की स्थिति को अंकित करने का प्रयास किया। थेल्स को गणितीय भूगोल का संस्थापक माना जाता है। उन्होंने पृथ्वी को पानी में तैरती हुयी तश्तरी के रूप में माना। एनेक्जीमेण्डर थेल्स का शिष्य था उन्होंने नोमोन नामक यन्त्र का आविष्कार किया था। एनेक्जीमेण्डर प्रथम व्यक्ति थे जिन्होंने विश्व का मानचित्र मापक पर बनाया।
28. मीटीयोरोलोजिका किताब किसने लिखी थी?
(a) अरस्तू (b) पोजीडोनियस
(c) प्लेटो (d) थालेस
उत्तर-(a) : मेटीयोरोलोजिका पुस्तक अरस्तू ने लिखी है। अरस्तू प्लेटो के शिष्य थे। अरस्तू‚ आगमनात्मक पद्धति से सिद्धान्त प्रतिपादित करने में विश्वास करते थे। इन्होंने पृथ्वी की परिधि की गणना की तथा उसे 4‚00‚000 स्टेडिया के बराबर बताया।
29. आधुनिक भौगोलिक विचारधारा की आधार शिला किसने रखी?
(a) हमबोल्ट और रिटर (b) कांट और वेरीनियस
(c) हेटनर और रिचथोपेन (d) हम्बोल्ट और डेविस
उत्तर-(a) : आधुनिक भौगोलिक विचारधारा की आधारशिला हम्बोल्ट तथा रिटर ने रखी। हम्बोल्ट की महत्वपूर्ण कृति कॉसमास सन् 1845 ईÊ में प्रकाशित हुयी। हम्बोल्ट पहला व्यक्ति था जिसने स्पेनिश मेसेटा की सही ऊँचाई मापी थी। उन्होंने 1899 ईÊ में ओरिनिको नदी की खोज की तथा इसका अमेजन से सम्बन्ध के सत्य को स्थापित किया। इन्होंने ही पेरू की ठण्डी धारा का प्रथम बार अवलोकन कर उसे अंकित किया। कार्ल रिटर (1779-1869 ईÊ) को भी आधुनिक भौगोलिक विचार-
धारा का संस्थापक माना जाता है। रिटर की महत्वपूर्ण कृति अर्डकुण्डे है।
30. निम्नलिखित कथनों को पढ़िए:
(1) रैटजेल का 19वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में जर्मन भूगोल में आधिपत्य था।
(2) रैटजेल ने एन्थ्रोपोजियोग्राफी शब्द प्रतिपादित किया।
(3) रैटजेल डार्विन के प्रजातियों के विकास के सिद्धान्त से अत्यधिक प्रभावित थे। उपर्युक्त में से कौन से कथन रैटजेल से सही सम्बद्ध हैं?
(a) (1)‚ (2) और (3) (b) (1) और (2)
(c) (2) और (3) (d) केवल (3)
उत्तर-(a) : रेटजेल की अन्य पुस्तक है-
1. वाल्करकुण्डे
2. पृथ्वी एवं जीवन
3. राजनीतिक भूगोल रेटजेल ने लेबेन्सराय जीवन क्षेत्र की संकल्पना का प्रतिपादन किया था। इसका अर्थ होता है कि ऐसा भौगोलिक क्षेत्र जिसमें जीवित प्राणियों का विकास होता है।
31. निम्नलिखित में कालक्रमानुसार यूनानियों का सही क्रम क्या है जिन्होंने प्राचीन काल में भौगोलिक विचारधारा के विकास में अत्याधिक योगदान किया?
(a) अरस्तू‚ ईरेटोस्थनीज‚ एनेक्सीमैंडर‚ टोलेमी
(b) ईरेटोस्थनीज‚ एनेक्सीमैंडर‚ टोलेमी‚ अरस्तू
(c) एनेक्सीमैंडर‚ अरस्तू‚ ईरेटोस्थनीज‚ टोलेमी
(d) टोलेमी‚ एनेक्सीमैंडर‚ अरस्तू‚ ईरेटोस्थनीज
उत्तर-(c) 85 व्याख्या : इरेटोस्थनीज प्रथम दार्शनिक था जिसने भूगोल के लिए ‘ज्योग्रॉफिका’ शब्द का प्रयोग किया। उसने भूगोल को पृथक शाध्Eा के रूप में स्थापित किया। अरस्तू प्रथम दार्शनिक था जिसने पृथ्वी के आकार को गोलाभ माना। टॉलमी को मानचित्र कला का जनक माना जाता है।
32. निम्नलिखित में से कौन सी अवधारणा एक बड़े शहर की 75 किÊमीÊ की परिधि के अन्तर्गत शहरों और कस्बों की अनुपस्थिति को वर्णित करती है?
(a) नगर पुंज (b) नगरीय प्रकीर्णन
(c) नगर समूह (d) नगरीय छाया
उत्तर-(d) : नगरीय छाया की अवधारणा एक बड़े शहर की 75 किमी0 की परिधि के अन्तर्गत शहरों एवं कस्बों की अनुपस्थिति को वर्णित करता है।
33. जनसंख्या के फिजियोलोजिकल घनत्व को निम्न में से कैसे परिभाषित किया जाता है?
(a) कुल जनसंख्या और कुल क्षेत्र के बीच अनुपात।
(b) कुल ग्रामीण जनसंख्या और कुल ग्रामीण क्षेत्र के बीच अनुपात
(c) कुल जनसंख्या और कुल कृष्य क्षेत्र के बीच अनुपात।
(d) (b) और (c) दोनों।
उत्तर-(c) : फिजियोलोजिकल घनत्व अंकगणितीय घनत्व का परिमार्जित रूप है‚ जो अपेक्षाकृत अधिक सार्थक तथा उपयोगी है। इसकी गणना के लिए कुल क्षेत्रफल के स्थान पर केवल कुल कृषि योग्य भूमि को ही सम्मिलित किया जाता है। यह घनत्व यह प्रकट करता है कि किसी प्रदेश की प्रति ईकाई कृषि भूमि पर औसतन कितने मनुष्यों का भार है। प्रदेश को कुल जनसंख्या फिजियोलोजिकल घनत्व प्रदेश को कुल योग्य भूमि 34. 2014 के अनुमान के अनुसार‚ विश्व की कितनी जनसंख्या अफ्रीका में पाई जाती है?
(a) लगभग 12% (b) लगभग 14%
(c) लगभग 16% (d) लगभग 18%
उत्तर-(c) : 2014 के अनुमान के अनुसार अफ्रीका में लगभग 16% जनसंख्या पायी जाती है। अफ्रीका में लगभग 74 करोड़ औसतन जनसंख्या एवं घनत्व 25 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी है।
35. ग्रामीण बस्तियों का ‘त्रिकोणीय प्रतिरूप’ आमतौर पर निम्न में से कहाँ विकसित होता है?
(a) सीधी नदियों के किनारे पर
(b) दो नदियों के संगम पर
(c) दो पहाड़ियों के बीच
(d) दो नदियों और एक पहाड़ी के संगम पर
उत्तर-(b) : ग्रामीण बस्तियों का ‘त्रिकोणीय प्रतिरूप’ दो नदियों के संगम पर विकसित होता है। ऐसे स्थलों पर सड़कें व नहरें एक-दूसरे के आर-पार न ही निकलती है और न ही मिलती है। ऐसे गाँव अंतरीपों के सिरों पर तीन ओर जल से घिरे भागों में भी पाये जाते हैं। भारत में इस प्रकार की बस्तियाँ दक्षिणी सिरे पर कुमारी अंतरीप पर देखे जाते हैं।
36. योजना आबंटनों के लिए किसी क्षेत्र में जनसंख्या की आवश्यकताओं के अनुमान के लिए निम्नलिखित में से किस तकनीक पर आप विचार करेंगे?
(a) क्षमता विश्लेषण करना (b) लागत – लाभ विश्लेषण
(c) जनसंख्या अनुमान (d) कोटि क्रम नियम
उत्तर-(c) : योजना आबंटनों के लिए किसी क्षेत्र में जनसंख्या की आवश्यकताओं के अनुमान के लिए जनसंख्या अनुमान के लिए जनसंख्या अनुमान तकनीकी पर विचार करेंगे।
37. ‘‘क्षेत्र का संचयी प्रतिशत के मुकाबले जनसंख्या के संचयी’’ निम्नलिखित में से किसे प्रदर्शित करता है?
(a) ग्रेवीटी मॉडल (b) बीटा सूचकांक
(c) ओजइव कर्व (d) लोरेंज कर्व
उत्तर-(d) : क्षेत्र का संचयी प्रतिशत के मुकाबले जनसंख्या के संचयी प्रतिशत को लॉरेंज कर्व द्वारा प्रदर्शित करेंगे। गुरुत्व मॉडल का सिद्धान्त रेली व स्टूवर्ट ने दिया है। गुरुत्व मॉडल के अनुसार दो स्थानों के बीच लोगों का परिसंचरण दोनों स्थानों की जनसंख्या के गुणनफल के समानुपाती तथा उसके मध्य की दूरी के वर्ग का व्युत्क्रमानुपाती होता है।
38. वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार भारत में जनसंख्या का सबसे अधिक घनत्व निम्नलिखित में से किस में है?
(a) बिहार (b) पंजाब
(c) उत्तर प्रदेश (d) पश्चिम बंगाल
उत्तर-(a) : 2011 की जनगणना के अनुसार बिहार भारत का सबसे अधिक जनघनत्व वाला राज्य है। भारत के शीर्ष चार जनघनत्व वाले राज्य इस प्रकार हैं−
(1) बिहार−1106 जनघनत्व/वर्ग किमी.
(2) पश्चिम बंगाल−1028 जनघनत्व/वर्ग किमी.
(3) केरल−860 जनघनत्व/वर्ग किमी.
(4) उत्तर प्रदेश−829 जनघनत्व/वर्ग किमी.-
39. निम्नलिखित सड़क नेटवर्क आरेख पर विचार करें

उपरोक्त नेटवर्क के लिए सही कनेक्टविटी मेट्रिक्स चुनिए। 1


उत्तर-(a) : उपरोक्त सड़क नेटवर्क के लिए चित्र a सही कनेक्टविटी मेट्रिक्स से होगा।
40. भारत में निम्नलिखित औद्योगिक क्षेत्रों में किसे ‘रूर ऑफ इंडिया’ कहा जाता है?
(a) बेंगलुरू – तमिलनाडु औद्योगिक क्षेत्र
(b) छोटा नागपुर औद्योगिक क्षेत्र
(c) विशाखापट्टनम – गुंटूर औद्योगिक क्षेत्र
(d) हुगली औद्योगिक क्षेत्र
उत्तर-(b) : भारत में औद्योगिक क्षेत्र में रूर ऑफ इण्डिया छोटा नागपुर औद्योगिक क्षेत्र को कहा जाता है। छोटा नागपुर क्षेत्र का फैलाव प्रायद्वीप के उत्तरी पूर्वी भाग पर है। जिसमें झारखण्ड‚ बिहार‚ उड़ीसा और पश्चिम बंगाल राज्यों के भाग सम्मिलित है। यह क्षेत्र प्राचीन नीस और ग्रेनाइट शैलों का बना है तथा देश का खनिज सम्पन्न क्षेत्र है। यहाँ कोयला‚ अभ्रक‚ मैगनीज‚ क्रोमाइट‚ इलेमेनाइट‚ बाक्साइट‚ फास्फेट‚ लौह अयस्क‚ ताँबा‚ डोलोमाइट इत्यादि के भण्डार पाये जाते है। देश के लौह अयस्क का 93% कोयला का 84%‚ क्रोमाइट का 70%‚ अभ्रक का 70%‚ भण्डार इस क्षेत्र में संरक्षित है।
41. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(उद्योग) (गतिविधि/प्रौद्योगिकी)
(1) कुटीर (i) पेट्रोलियम शोधन
(2) लघु (ii) सूचना प्रौद्योगिकी
(3) वृहत्त (iii) ताला विनिर्माण
(4) फुट-लूज (iv) कशीदाकारी
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (i) (iv) (ii) (iii)
(b) (iii) (ii) (iv) (i)
(c) (iv) (iii) (i) (ii)
(d) (ii) (i) (iii) (iv)
उत्तर-(c) :
सूची – I सूची – II
(उद्योग) (गतिविधि/प्रौद्योगिकी)
(1) कुटीर (i) कशीदाकारी
(2) लघु (ii) ताला विनिर्माण
(3) वृहत्त (iii) पेट्रोलियम शोधन
(4) फुट-लूज (iv) सूचना प्रौद्योगिकी
42. किस द्वीप में जापान का ‘चावल का कटोरा’ स्थित है?
(a) क्यूश (b) होंशू
(c) शी कोकू (d) रियूकू
उत्तर-(b) : जापान में लगभग 3900 द्वीप है‚ जिसमें चार बड़े आकार के द्वीप है – होन्शू‚ हौकेडो‚ क्यूशू तथा शिकोकू। होन्शू द्वीप जापान का सबसे बड़ा द्वीप है। इसी द्वीप पर जापान का सबसे बड़ा मैदान क्वांटो स्थित है तथा इसी द्वीप पर सुषुप्त ज्वालामुखी फ्यूजीयामा स्थित है। टोकियो जो देश की राजधानी है‚ इसी द्वीप पर स्थित है। इसी द्वीप पर देश की 80% जनसंख्या निवास करती है। 87
43. निम्नलिखित में से किस लेखक ने नई जानकारी अंगीकृत करने और कार्रवाई करने के समय के बीच के अंतर के आधार पर पाँच गुना मार्ग परिवर्तन का सुझाव दिया है जैसा कि नीचे दिए गए डायग्राम में दर्शाया गया है?

(a) ईÊएमÊ रोजर (b) एलÊडब्ल्यूÊ बाउडेन
(c) जेडÊ गिरीलिचेस (d) टीÊ हेगर्सट्रेंड
उत्तर-(a) : उपरोक्त जानकारी का सुझाव ई.एम. रोजर ने दिया है।
44. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(लेखक) (तकनीक)
(1) पीÊ आरÊ गाउल्ड (i) फसल-संयोग विश्लेषण
(2) ईÊ एलÊ उलमैन (ii) आर्थिक रेंट की अवधारणा
(3) जेÊ सीÊ वीवर (iii) गेम सिद्धान्त
(4) डीÊ रिकार्डो (iv) फ्लो सिद्धान्त
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (i) (ii) (iv) (iii)
(b) (iii) (iv) (i) (ii)
(c) (ii) (iii) (iv) (i)
(d) (iv) (i) (ii) (iii)
उत्तर-(b) :
सूची – I सूची – II
(लेखक) (तकनीक)
(1) पीÊ आरÊ गाउल्ड (i) गेम सिद्धान्त
(2) ईÊ एलÊ उलमैन (ii) फ्लो सिद्धान्त
(3) जेÊ सीÊ वीवर (iii) फसल-संयोग विश्लेषण
(4) डीÊ रिकार्डो (iv) आर्थिक रेंट की अवधारणा
45. निम्नलिखित में से किस लेखक ने ‘द प्रि-इंडस्ट्रियल सिटी पास्ट ऐंड प्रेजेंट’ नामक पुस्तक में औद्योगीकरण के व्यापक प्रभाव से पूर्व नगरीय बस्तियों की संरचना की जाँच की?
(a) एमÊ पैसिओ (b) जीÊ जोबर्ग
(c) पीÊ हल (d) डीÊ डायर
उत्तर-(b) : जीÊ जोबर्ग ने दि प्रि इंडस्ट्रियल सिटी पास्ट ऐंड प्रेजेंट नामक पुस्तक में औद्योगीकरण के व्यापक प्रभाव में पूर्व नगरीय बस्तियों की संरचना की जाँच की।
46. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(मानव प्रजातियाँ) (जिसमें निम्नलिखित देश के लोग सबसे अधिक संख्या में हैं)
(1) मंगोलायड (i) श्रीलंका
(2) काकेशायड (ii) दक्षिण कोरिया
(3) आस्टे्रलायड (iii) इथोपिया
(4) निग्रोयड (iv) जर्मनी
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (i) (iii) (iv) (ii)
(b) (ii) (iv) (i) (iii)
(c) (iv) (ii) (iii) (i)
(d) (ii) (i) (iii) (iv)
उत्तर-(b) :
सूची – I सूची – II
(मानव प्रजातियाँ) (जिसमें निम्नलिखित देश के लोग सबसे अधिक संख्या में हैं)
(1) मंगोलायड (i) दक्षिण कोरिया
(2) काकेशायड (ii) जर्मनी
(3) आस्ट्रेलायड (iii) श्रीलंका
(4) निग्रोयड (iv) इथोपिया
47. निम्नलिखित में से किस जलमार्ग का अधिक राजनीतिक – आर्थिक महत्व है?
(a) पाक जलड्मरूमध्य (b) मलक्का जलड्मरूमध्य
(c) स्वेज नहर (d) पनामा नहर
उत्तर-(c) : स्वेज नहर व्यापारिक दृष्टिकोण से अत्यन्त महत्वपूर्ण है। इस नहर का निर्माण 1869 ई0 में पूर्ण हुआ था। यह भूमध्यसागर और लाल सागर के मध्य स्थित है तथा भूमध्य सागर को हिन्द महासागर से जोड़ती है। इस नहर की लम्बाई 162 किमी तथा चौड़ाई 60 मीटर तथा गहरायी 10 मीटर है। इस नहर के भूमध्यसागरीय तट पर पोर्ट सईद प्रमुख बंदरगाह है। स्वेज नहर द्वारा यूरोपीय देशों और भारत‚ पाकिस्तान‚ बांग्लादेश‚ इण्डोनेशिया और अन्य यूरोपीय देशों के मध्य की दूरी कम हो गयी है।
48. एचÊ जेÊ मैकिन्डर लंदन विश्वविद्यालय में निम्नलिखित में से किस विषय के प्रोफेसर थे?
(a) राजनीति विज्ञान (b) अर्थशाध्Eा
(c) भूगोल (d) सामाजिक नृविज्ञान
उत्तर-(c) 88 व्याख्या : एचÊ जेÊ मैकिन्डर लंदन विश्वविद्यालय में भूगोल के प्रोफेसर थे। मैकिण्डर ने हृदय स्थल सिद्धान्त दिया था। इनकी प्रमुख पुस्तक निम्न है – डेमोक्रेटिक आइडियाज एण्ड रियलिटिज (1919 ई0) मैकिण्डर ने 1943 ई0 में एक लेख प्रस्तुत किया ‘द राउण्ड वर्ल्ड ए विनिंग आफ द पीस’।
49. पानी के जहाजों तथा तटवर्ती प्लेटफार्मों से होने वाले प्रदूषण पर भारत सरकार के निम्नलिखित किस अधिनियम के प्रावधान द्वारा नियन्त्रण रखा जाता है?
(a) मुख्य पत्तन न्यास अधिनियम‚ 1963 ई0
(b) वाणिज्यिक पोत परिवहन अधिनियम‚ 1958 ई0
(c) सामुद्रिक क्षेत्र अधिनियम‚ 1976 ई0
(d) भारतीय पत्तन अधिनियम‚ 1908 ई0
उत्तर-(b) : वाणिज्यिक पोत परिवहन अधिनियम‚ 1958 ई0 के द्वारा पानी के जहाजों तथा तटवर्ती प्लेटफार्मों से होने वाले प्रदूषण पर नियंत्रण रखा जाता है।
50. निम्नलिखित में से कौन सही ढंग से सुमेलित नहीं हैं?
(a) बतवा जनजाति और कांगो बेसिन
(b) रूवाला जनजाति और मध्य ईरान
(c) इनयूट और कनाडा
(d) युखागीर और साइबेरिया
उत्तर-(b) : रूवाला जनजाति एवं मध्य ईरान सुमेलित नहीं है। रूवाला जनजाति अरब प्रायद्वीप में निवास करने वाली जनजाति है। जबकि अन्य जनजाति एवं उनके निवास स्थान का सही सुमेलन हुआ है।
51. निम्नलिखित में से किस लेखक के प्राइमेट सिटी के सिद्धान्त में बड़े शहरों के विकास में समूहन की शक्तियों तथा समूहन के संचयी प्रभावों पर सबसे अधिक बल दिया गया है?
(a) वाल्टर क्रिस्टलर (b) जीÊ केÊ जिफ
(c) सीÊ राबर्ट मेफील्ड (d) मार्क जेफर्सन
उत्तर-(d) : मार्क जैफरसन ने प्राइमेट सिटी के सिद्धान्त मे बड़े शहरों के विकास में समूहन की शक्तियों तथा समूहन के संचयी प्रभाव पर सबसे अधिक बल दिया किसी वृहद प्रदेश का सबसे बड़ा नगर वहाँ का प्राथमिक नगर कहलाता है। जिसकी विशेषता विशालतम होने के कारण समूचे प्रदेश को नेतृत्व और प्रतिनिधित्व प्रदान करना है। मार्क जैफरसन प्राइमेट सिटी सिद्धान्त के प्रणेता थे। वाल्टर क्रिस्टालर ने केन्द्र स्थल सिद्धान्त को प्रस्तुत किया। जीÊ के जिफ ने कोटि आकार नियम का प्रतिपादन किया।
52. निम्नलिखित में से कौन-सी गतिविधि सूखा प्रभावित क्षेत्र के अंतर्गत नहीं आती है?
(a) सिंचाई संसाधनों का विकास और प्रबंधन
(b) मृदा और आर्द्रता संरक्षण और वानिकी
(c) फसल प्रतिरूप का पुनर्विन्यास तथा चारागाह विकास
(d) बाढ़ नियंत्रण और मृदा अपरदन
उत्तर-(d) : बाढ़ नियंत्रण एवं मृदा अपरदन गतिविधियाँ सूखा प्रभावित क्षेत्र के अन्तर्गत नहीं आती है। जबकि अन्य गतिविधियाँ सूखा प्रभावित क्षेत्र के अन्तर्गत आती हैं। कम वर्षा या वर्षारहित क्षेत्र सूखा के प्रमुख कारण बनते हैं।
53. निम्नलिखित में से कौन सी शक्ती में विस्तारवादी गति होती है जो आर्थिक विस्तार के केन्द्रों से प्रारम्भ होकर अन्य क्षेत्रों तक जाती है?
(a) केन्द्राभिमुखी (b) बहिर्मुखी
(c) गुरूत्वाकर्षक (d) कर्षण
उत्तर-(b) : बहिर्मुखी शक्ती में विस्तारवादी गति होती है जो आर्थिक विस्तार के केन्द्रों से प्रारम्भ होकर अन्य क्षेत्रों तक जाती है।
54. ग्रोथ पोल मॉडल की अवधारणा निम्नलिखित में से किसकी है?
(a) स्मिथ (b) पेरोक्स
(c) एरेटोस्थनीज (d) हैगरस्ट्रैंड
उत्तर-(b) : ग्रोथ पोल मॉडल की अवधारणा पेरोक्स ने दी थी। पेरोक्स की मान्यता के अनुसार वृद्धि ध्रुवों या केन्द्रों पर कुछ ऐसे प्राथमिक उद्योग तथा आर्थिक क्रियाएँ होती है‚ जो बाद में नवीनीकरण एवं वृद्धि जनक के रूप में कार्य करते है। ये उद्योग नयी तकनीकों तथा वृद्धि जनक विशेषताओं से पूर्ण होते है। वृद्धि ध्रुव अपने प्रदेश में स्थापित छोटे बड़े उद्योगों में अग्रगामी तथा पश्चगामी अर्न्तसम्बन्धों को स्थापित करते है‚ साथ ही ये विकास का सृजन भी करते है।
55. टाउन ऐंड कंट्री प्लानिंग ऑर्गनाइजेशन ऑफ इंडिया द्वारा निम्नलिखित में से कौन से बृहत और मध्यम क्षेत्रों के समूहों को सीमाबद्ध किया गया है?
(a) 13 बृहत क्षेत्र और 32 मध्यम क्षेत्र
(b) 15 बृहत क्षेत्र और 61 मध्यम क्षेत्र
(c) 7 बृहत क्षेत्र और 42 मध्यम क्षेत्र
(d) 13 बृहत क्षेत्र और 35 मध्यम क्षेत्र
उत्तर-(d) : टाउन ऐंड कंट्री प्लानिंग ऑर्गनाइजेशन ऑफ इंडिया द्वारा 13 वृहद क्षेत्र और 35 मध्यम क्षेत्र के समूहों को सीमाबद्ध किया गया है। इनके विभाज्य का आधार आर्थिक विकास स्तर‚ संसाधनों का विवरण उपयोग आदि है।
56. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(क्षेत्र/जोन) (विशेषता)
(1) आवास्य क्षेत्र (i) अत्यधिक प्रकीर्ण आर्थिक गतिविधियाँ 89
(2) गहन वास्य क्षेत्र (ii) ग्रामीण दखल; विस्तृत प्रकार की कृषि
(3) यांत्रिक वास्य क्षेत्र (iii) भावी विकास के लिए खाली स्थान
(4) विस्तृत वास्य क्षेत्र (iv) नगरीय दखल और औद्योगिक प्रतिरूप‚ गहन कृषि
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (ii) (iv) (iii) (i)
(b) (i) (ii) (iv) (iii)
(c) (iii) (iv) (i) (ii)
(d) (iv) (i) (ii) (iii)
उत्तर-(c) :
सूची – I सूची – II
(क्षेत्र /जोन) (विशेषता)
(1) आवास्य क्षेत्र भावी विकास के लिए खाली स्थान
(2) गहन वास्य क्षेत्र नगरीय दखल और औद्योगिक प्रतिरूप‚ गहन कृषि
(3) यांत्रिक वास्य क्षेत्र अत्यधिक प्रकीर्ण आर्थिक गतिविधियाँ
(4) विस्तृत वास्य क्षेत्र ग्रामीण दखल‚ विस्तृत प्रकार की कृषि
57. निम्नलिखित में से किस वर्ष में दिल्ली का पहला मास्टर प्लान पारित किया गया था?
(a) 1952 (b) 1962
(c) 1965 (d) 1968
उत्तर-(b) : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली नगर के हृदय क्षेत्र के चारों ओर 113 किमीÊ की परिधि में कुल 30242 वर्ग किमीÊ क्षेत्र पर फैला हुआ है। इसमें दिल्ली राज्य के अलावा उत्तर प्रदेश‚ हरियाणा‚ राजस्थान की 33 तहसीले शामिल है।
58. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(1) केन्द्रीय स्थान का सिद्धान्त (i) एक नहीं अनेक असतत बृहत नगरीय केन्द्रों में भूमि उपयोग का विकास
(2) बहु केन्द्रक सिद्धान्त (ii) दो शहरों के बीच ब्रेकिंग प्वाइंट की स्थिति
(3) खुदरा व्यापार आकर्षण (iii) षडभुजाकार सेवा क्षेत्र का नियम
(4) ब्रेकिंग प्वाइंट थ्येरी (iv) ऐसे खुदरा व्यापार के अनुपात की भविष्यवाणी करना जिसे दो शहर उनके बीच स्थित बस्ती से प्राप्त करेंगे।
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (i) (iv) (iii) (ii)
(b) (iii) (i) (ii) (iv)
(c) (iii) (i) (iv) (ii)
(d) (iv) (ii) (iii) (i)
उत्तर-(c) :
सूची – I सूची – II
(1) केन्द्रीय स्थान का सिद्धान्त (i) षडभुजाकार सेवा क्षेत्र
(2) बहु केन्द्रक सिद्धान्त (ii) एक नहीं अनेक असतत बृहत नगरीय केन्द्रों में भूमि उपयोग का विकास
(3) खुदरा व्यापार आकर्षण (iii) दो शहरों के बीच का नियम ब्रेकिंग प्वाइंट की स्थिति
(4) ब्रेकिंग प्वाइंट थ्येरी (iv) ऐसे खुदरा व्यापार के अनुपात की भविष्यवाणी करना जिसे दो शहर उनके बीच स्थित बस्ती से प्राप्त करेंगे।
59. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(क्षेत्र/जोन) (परिभाषाएँ)
(1) मलिन बस्ती क्षेत्र (i) प्रतिष्ठा में कमी जहाँ निम्नकोटि के खुदरे स्टोर‚ भंडार गृह और थोक व्यापार परिसर तथा खाल संपत्ति के स्थान हों
(2) समामेलन क्षेत्र (ii) कम घनत्व वाले आवास के विस्तृत क्षेत्र
(3) अर्ध नगरीय क्षेत्र (iii) पहले के आवासीय क्षेत्रों में व्यापक विकास और दुकानों‚ कार्यालयों तथा होटलों का प्रसार
(4) जोन ऑफ डिस्कार्ड (iv) सीÊ बीÊ डीÊ के चारों ओर अत्यधिक घनी आवासीय पट्टी 90
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iv) (iii) (ii) (i)
(b) (ii) (i) (iv) (iii)
(c) (i) (iv) (iii) (ii)
(d) (iii) (ii) (i) (iv)
उत्तर-(a) :
सूची – I सूची – II
(क्षेत्र/जोन) (परिभाषाएँ)
(1) मलिन बस्ती क्षेत्र (i) सीÊ बीÊ डीÊ के चारों ओर अत्यधिक घनी आवासीय पट्टी
(2) समामेलन क्षेत्र (ii) पहले के आवासीय क्षेत्रों में व्यापक विकास और दुकानों‚ कार्यालयों तथा होटलों का प्रसार
(3) अर्ध नगरीय क्षेत्र (iii) कम घनत्व वाले आवास के विस्तृत क्षेत्र
(4) जोन ऑफ डिस्कार्ड (iv) प्रतिष्ठा में कमी जहाँ निम्नकोटि के खुदरे स्टोर‚ भंडार गृह और थोक व्यापार परिसर तथा खाली संपत्ति के स्थान हों
60. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(राष्ट्रीय उद्यान) (राज्य)
(1) जीवाश्म (i) हिमाचल प्रदेश
(2) ब्रह्मगिरि (ii) मध्य प्रदेश
(3) गुवंडी (iii) तमिलनाडु
(4) रोहिया (iv) कर्नाटक
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (i) (ii) (iii) (iv)
(b) (iii) (iv) (ii) (i)
(c) (iv) (iii) (i) (ii)
(d) (ii) (iv) (iii) (i)
उत्तर-(d) :
सूची – I सूची – II
(राष्ट्रीय उद्यान) (राज्य)
(1) जीवाश्म (i) मध्य प्रदेश
(2) ब्रह्मगिरि (ii) कर्नाटक
(3) गुवंडी (iii) तमिलनाडु
(4) रोहिया (iv) हिमाचल प्रदेश
61. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
भारतीय अर्थव्यवस्था गैर-प्राथमिक गतिविधियों की दिशा में अपने आधार विविध रूप दे रही है।
कारण (R) : स्वातंत्र्योत्तर काल में सेवा के क्षेत्र धीरे-धीरे परंतु शनै:-शनै: भारत के सकल घरेलू उत्पाद में अपना योगदान बढ़ा रहे हैं।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R)‚ (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ लेकिन (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ लेकिन (R) सही है।
उत्तर-(a) : स्वतंत्रता के पश्चात भारतीय अर्थव्यवस्था में धीरे-धीरे प्राथमिक क्षेत्र का योगदान कम एवं सर्विस सेक्टर का योगदान बढ़ रहा है गौरतलब है कि किसी भी अर्थव्यवस्था में तृतीय सेक्टर का योगदान बढ़ता है तो उस अर्थव्यवस्था को तीव्र गति से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था का नाम दिया जाता है। उपरोक्त तर्क भारतीय अर्थव्यवस्था के संदर्भ में सही प्रतीत होता है। इस तरह कथन एवं कारण दोनों सही है एवं कारण कथन की सही व्याख्या भी कर रहा है।
62. राजस्थान नहर (इंदिरा गाँधी नहर) को निम्नलिखित नदियों से पानी प्राप्त होता है:
(a) यमुना नदी (b) चम्बल नदी
(c) रावी (d) सतलुज और ब्यास
उत्तर-(d) : इन्दिरा गांधी नहर एक महत्वकांक्षी नहर परियोजना है। जिसके द्वारा रावी‚ ब्यास तथा सतलज नदियों के अतिरिक्त जल को राजस्थान के शुष्क क्षेत्रों की तरफ मोड़ा गया है। इसमें रावी नदी पर एक बैराज बनाया गया है। जिससे ब्यास नदी तक एक 32 किमीÊ लम्बी नहर निकाली गयी है। एक दूसरा बैराज हरीके के निकट ब्यास तथा सतलज के संगम के पास निर्मित किया गया है जिससे इन्दिरा गांधी नहर निकाली गयी है।
63. भारत में जनसंख्या की गणना का कार्य शुरू होने के समय से ही किस राज्य/संघ राज्य क्षेत्र ने लगातार अनुकूल लिंग अनुपात बनाए रखा है?
(a) अरूणाचल प्रदेश (b) मेघालय
(c) केरल (d) पुडुचेरी
उत्तर-(c) 91 व्याख्या : केरल ने जनसंख्या की गणना का कार्य शूरू होने के समय से ही लगातार अनुकूल लिंग अनुपात बनाये रखा है। 2011 की जनगणना के अनुसार उपरोक्त राज्यों का लिंगानुपात इस प्रकार है-
(1) केरल – 1084
(2) मेघालय – 989
(3) पुदुचेरी – 1037
(4) अरुणाचल प्रदेश – 938
64. वर्ष 2013-14 में किस राज्य समूह का सकल घरेलू उत्पाद (जीÊ डीÊ पीÊ) हिस्सा‚ जनसंख्या के हिस्से और भौगोलिक क्षेत्र के हिस्से से अधिक था?
(a) अरूणाचल प्रदेश‚ नागालैंड‚ असम‚ मेघालय‚ छत्तीसगढ़ और राजस्थान
(b) उत्तर प्रदेश‚ बिहार‚ मध्य प्रदेश‚ झारखंड‚ राजस्थान‚
उत्तराखंड और मणिपुर
(c) महाराष्ट्र‚ तमिलनाडु‚ कर्नाटक‚ पंजाब‚ हरियाणा‚ आंध्र प्रदेश‚ केरल और गुजरात
(d) जम्मु और कश्मीर‚ हिमाचल प्रदेश‚ उत्तराखंड‚ आंध्र प्रदेश और केरल
उत्तर-(c) : महाराष्ट्र‚ तमिलनाडु‚ कर्नाटक‚ पंजाब‚ हरियाणा‚ केरल एवं गुजरात जैसे राज्यों का वर्ष 2013-14 में सकल घरेलू उत्पाद का हिस्सा‚ जनसंख्या के हिस्से और भौगोलिक क्षेत्र के हिस्से से अधिक था।
65. वर्ष 2011 की जनगणना में निम्नलिखित में से किस राज्य में सबसे अधिक जनसंख्या रिकार्ड की गई थी?
(a) उत्तर प्रदेश (b) महाराष्ट्र
(c) बिहार (d) पश्चिम बंगाल
उत्तर-(a) : 2011 की जनगणना के अनुसार उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक जनसंख्या रिकार्ड की गई। 2011 की जनगणना के अनुसार उपरोक्त राज्यों की जनसंख्या निम्नवत है-
(1) उत्तर प्रदेश – 19.981 (करोड़)
(2) महाराष्ट्र – 11.237 (करोड़)
(3) बिहार – 10.409 (करोड़)
(4) पश्चिम बंगाल – 9.127 (करोड़)
66. भारत का कौन सा क्षेत्र ‘चावल का कटोरा’ के रूप में विख्यात है?
(a) सिन्धु – गंगा का मैदान
(b) कृष्णा – गोदावरी डेल्टा क्षेत्र
(c) पूर्वोत्तर क्षेत्र
(d) केरल और तमिलनाडु
उत्तर-(b) : कृष्णा-गोदावरी डेल्टा का क्षेत्र भारत में ‘चावल के कटोरे’ के रूप में विख्यात है।
67. निम्नलिखित में से कौन सा आँकड़ा वर्णमात्री विधि मानचित्र के माध्यम से प्रस्तुत किया जा सकता है?
(a) स्थान विशिष्ट (b) बिन्दु विशिष्ट
(c) भौगोलिक क्षेत्र विशिष्ट (d) रेखा विशिष्ट
उत्तर-(c) : विधि मानचित्र के माध्यम से भौगोलिक क्षेत्र विशिष्ट को प्रस्तुत किया जा सकता है। वर्णमात्री मानचित्र में भिन्न-भिन्न छायाओं के द्वारा किसी वस्तु की प्रति इकाई क्षेत्र औसत संख्या या प्रतिशत मूल्य जैसे जनसंख्या का प्रति वर्ग किमीÊ घनत्व‚ कृष्ट भूमि का प्रतिशत‚ विभिन्न राज्यों में प्रति व्यक्ति राष्ट्रीय आय अथवा किसी फसल का भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में प्रति हेक्टेयर उत्पादन आदि प्रदर्शित किया जाता है। इस मानचित्र में घनत्व आदि की भिन्नता को राजनीतिक अथवा प्रशासनिक क्षेत्रों के आधार पर दर्शाया जाता है।
68. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(पक्ष) (डायग्राम)
(1) ग्रामीण और शहरी (i) तुलनात्मक बार जनसंख्या
(2) जनसंख्या का घनत्व (ii) समरेखा
(3) सापेक्ष उच्चावच (iii) बिन्दु एवं गोलक
(4) दशकीय जनसंख्या वृद्धि (iv) कोरोप्लेथ
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iv) (iii) (i) (ii)
(b) (i) (ii) (iii) (iv)
(c) (ii) (i) (iv) (iii)
(d) (iii) (iv) (ii) (i)
उत्तर-(d) :
सूची – I सूची – II
(पक्ष) (डायग्राम)
(1) ग्रामीण और शहरी जनसंख्या (i) बिन्दु एवं गोलक
(2) जनसंख्या का घनत्व (ii) कोरोप्लेथ
(3) सापेक्ष उच्चावच (iii) समरेखा
(4) दशकीय जनसंख्या वृद्धि (iv) तुलनात्मक बार
69. निम्नलिखित में से किन आरेखों को वृत्तारेख कहा जाता है?
(a) चित्रीय आरेख (b) वृत्त और वृत्तखंड आरेख
(c) वलय आरेख (d) गोला आरेख
उत्तर-(b) : व्नृत्त एवं वृत्तखंड आरेख को वृत्तारेख आरेख कहते हैं।
70. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(सैटेलाइट) (ऊँचाई)
(1) आईÊ आरÊ एसÊ -1A(i) 36‚000 किÊमीÊ
(2) स्पॉट – 3 (ii) 705 किमीÊ 92
(3) लैण्डसैट – (iii) 932 किमीÊ
(4) इनसैट सिरीज (iv) 832 किमीÊ
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iii) (iv) (ii) (i)
(b) (iv) (iii) (ii) (i)
(c) (iii) (i) (iv) (ii)
(d) (iii) (iv) (i) (ii)
उत्तर-(a) :
सूची – I सूची – II
(सैटेलाइट) (ऊँचाई)
(1) आईÊ आरÊ एसÊ -1A (i) 932 किमीÊ
(2) स्पॉट – 3 (ii) 832 किमीÊ
(3) लैण्डसैट – (iii) 705 किमीÊ
(4) इनसैट सिरीज (iv) 36‚000 किÊमीÊ
71. निम्नलिखित में से किस प्रकार के जल का दृश्य पट्टी में सबसे अधिक प्रतिबिम्बन होगा?
(a) निर्मल जल
(b) चिकनी मिट्टीयुक्त/निलंबित जल
(c) शैवाल मिश्रित जल
(d) तलछट और शैवाल मिश्रित जल
उत्तर-(b) : चिकनी मिट्टी युक्त/निलम्बित जल का दृश्य पट्टी में सबसे अधिक प्रतिबिम्बित होता है। ध्यातव्य है कि चिकनी मिट्टी का व्यास 0.002 मिमी. से कम व्यास वाले कण होते हैं
72. सैटेलाइट बिम्बों के भू-संदर्भित होने पर निम्नलिखित में से क्या घटित होगा?
(a) बिम्बों के विपर्यास में सुधार होता है।
(b) स्थिति विषयक त्रुटियाँ दूर हो जाती है।
(c) डीÊएनÊमूल्यों की त्रुटियाँ समाप्त हो जाती है।
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं।
उत्तर-(b) : सैटेलाइट बिम्बों के भू-संदर्भित होने पर स्थिति विषयक त्रुटियां दूर हो जाती हैं।
73. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(रेखीय लंबाई) (भिन्नीय मापन)
(1) नैनोमीटर (i) 10 -6
(2) माइक्रोमीटर (ii) 100
(3) मिलीमीटर (iii) 10 -9
(4) मीटर (iv) 10 -3
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iv) (iii) (ii) (i)
(b) (iii) (iv) (i) (ii)
(c) (iii) (i) (iv) (ii)
(d) (i) (iii) (ii) (iv)
उत्तर-(c) :
सूची – I सूची – II
(रेखीय लंबाई) (भिन्नीय मापन)
(1) नैनोमीटर (i) 10 -9
(2) माइक्रोमीटर (ii) 10 -6
(3) मिलीमीटर (iii) 10 -3
(4) मीटर (iv) 100
74. निम्नलिखित में से किसका पता लगाने के लिए लारेंज वक्र का प्रयोग किया जाता है?
(a) किसी तथ्य का सापेक्ष संकेन्द्रण
(b) किसी तथ्य का अनन्य संकेन्द्रण
(c) किसी तथ्य के सापेक्ष और अनन्य दोनों संकेन्द्रण
(d) किसी तथ्य के प्रकीर्णन की संभाव्यता
उत्तर-(a) : किसी तथ्य का सापेक्ष सकेंद्रण का पता लगाने के लिए लारेंज वक्र का प्रयोग किया जाता है।
75. सूची – I को सूची – I I के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें:
सूची – I सूची – II
(ऊर्जा-स्तर) (तरंग-दैर्ध्य माइक्रोमीटर में)
(1) फोटोग्राफीय (i) 3.0 – 15.0
(2) प्रकाशीय (ii) 0.7 – 3.0
(3) प्रतिबिंबित अवरक्त (iii) 0.3 – 15.0
(4) सूदूर अवरक्त (iv) 0.3 – 0.9
कूट:
(1) (2) (3) (4)
(a) (iv) (iii) (ii) (i)
(b) (i) (ii) (iii) (iv)
(c) (iii) (i) (iv) (ii)
(d) (ii) (iv) (i) (iii)
उत्तर-(a) :
सूची – I सूची – II
(ऊर्जा-स्तर) (तरंग-दैर्ध्य माइक्रोमीटर में)
(1) फोटोग्राफीय (i) 0.3 – 0.9
(2) प्रकाशीय (ii) 0.3 – 15.0
(3) प्रतिबिंबित अवरक्त (iii) 0.7 – 3.0
(4) सूदूर अवरक्त (iv) 3.0 – 15.0

Top
error: Content is protected !!