You are here
Home > Previous Papers > GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जुलाई- 2016 भूगोल व्याख्या सहित द्वितीय प्रश्न-पत्र का हल 007.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जुलाई- 2016 भूगोल व्याख्या सहित द्वितीय प्रश्न-पत्र का हल 007.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जुलाई- 2016 भूगोल व्याख्या सहित द्वितीय प्रश्न-पत्र का हल

1. अपरदन का सामान्य चक्र ………. से सम्बद्ध है।
(a) हिमनदीय अपरदन (b) नदीय अपरदन
(c) समुद्री अपरदन (d) पवन अपरदन
उत्तर (b)−नदी द्वारा अपरदन चक्र के अपरदन का सामान्य चक्र कहा जाता है इसे सामान्य चक्र इसलिए कहा जाता है कि बहते हुये जल का कार्य अपरदन के साधनों से अधिक व्यापक तथा महत्वपूर्ण होता है।
2. अपवाह प्रतिरूप जो इसके प्रवाहित होने की मूल संरचना द्वारा नियंत्रित नहीं होती है‚ को कहा जाता है:
(a) क्रमवर्ताे (b) अनुवर्ती
(c) अक्रमवर्ती (d) पुन:क्रमवर्ती
उत्तर (c)−अपवाह तन्त्र या सरिताओं को दो प्रमुख वर्गों में विभाजित किया जाता है।
1. क्रमवर्ती सरिता − जो क्षेत्र विशेष के ढ़ाल के अनुरूप प्रवाहित होती है तथा भौमिकीय संरचना के साथ समायोजित होती है यथा − अनुवर्ती‚ परवर्ती आदि
2. अक्रमवर्ती सरिता − जो प्रादेशिक ढाल का अनुसरण नहीं करती तथा भौमिकीय संरचना की प्रतिकूल प्रवाहित होती है यथा पूर्ववर्ती तथा पूर्वारोपित
3. ‘‘स्वाश’’ पद का अर्थ है
(a) तरंग रोध के पश्चात समुद्र तट पर समुद्री जल का पश्चवर्ती संचलन
(b) तरंग रोध के पश्चात समुद्र तट पर समुद्री जल का तिर्यक संचलन
(c) तरंग रोध के पश्चात समुद्र तट पर समुद्री जल का अग्रवर्ती संचलन
(d) तरंग रोध के पश्चात समुद्री जल का पार्श्ववर्ती संचलन
उत्तर (c)−सागरीय तरंगे प्राय: सागरीय तट की ओर अग्रसर होती है जैसे−जैसे ये तट के निकट होती जाती है‚ जल की गहरायी कम होती जाती है। इस कारण निचले जल में तरंग का निचला भाग तली से रगड़ खाकर आगे बढ़ता चलता है परन्तु इस अग्रिम गति में रगड़ के कारण रुकावट होती है। इस कारण लहरों की ऊँचाई अधिक हो जाने से वह टूट कर आगे गिरता है तथा तट की ओर चलता है। इस टूटी हुयी जल की तरंग को सर्क‚ ब्रेकर या स्वाश कहते हैं।
4. निम्नलिखित में से कौन-सी हिमजलीय निक्षेप से बनी भू-आकृति नहीं है?
(a) ड्रमलिन (b) एस्कर
(c) हॉर्न (d) केम
उत्तर (c)−हार्न हिमनद अपरदन से निर्मित स्थलाकृति है। जब किसी पहाड़ी के पार्श्वों पर कई सर्क बन जाते हैं तथा जब निरन्तर अपघर्षण द्वारा ये पीछे हटते जाते हैं तो उनके मिल जाने पर एक पिडामिड के आकार की चोटी का निर्माण हो जाता है इस तरह की नुकीली चोटी को हार्न कहते हैं।
5. किसी भृगु के आधार में सतही प्रक्षालन द्वारा जमा असंर्पिडित चट्टान सामग्री को ……… कहा जाता है।
(a) जलोढक (b) मिश्रोढ़क
(c) हिमाढ़ (d) गाद
उत्तर (b)−किसी शृंग के आधार में सतही प्रक्षालन द्वारा जमा असंपिडित चट्टान सामग्री को मिश्रोढक कहा जाता है । (क्लिफ) से सागरीय तरंगे टकरा कर उसके आधार पर दाँत या खांच
(notch) का निर्माण करती है।
6. निम्नलिखित में से कौन वायुमंडलीय ऊर्जा का दोत है?
(a) बादलों से नीचे की ओर अवरक्त विकिरण उत्सर्जित होता है।
(b) दृष्टव्य विकिरण अंतरिक्ष में ऊपर की ओर बिखरा हुआ है।
(c) गुप्त उष्मा दाावित होती है।
(d) पृथ्वी और वायुमंडल का ऐल्बिडो।
उत्तर (c)−वायुमंडलीय उर्जा का दोत गुप्त उष्मा का स्त्रवित होता है। वायु में उपस्थित जल वाष्प में 720 कैलोरी उष्मा होती है जब जल वाष्प हिम कणों में परिवर्तित होते हैं तो सिर्फ 180 कैलोरी उष्मा की आवश्यकता होती है शेष उष्मा वायुमण्डल को प्राप्त हो जाती है।
7. बन रहे बादल में विद्युत के निर्माण में निम्नलिखित में से कौन-सी प्रक्रिया महत्वपूर्ण है?
(a) सौर पराभौतिक किरणों का अवशोषण
(b) लघु चूक दर
(c) तीव्र उर्ध्व वायु धारा
(d) भारी वर्षा
उत्तर (c)−बन रहे बादल में विद्युत के निर्माण में तीव्र उर्ध्व वायु धारा आवश्यक है। उर्ध्व वायु के द्वारा ही बादल का निर्माण होगा‚ जिससे वर्षा की क्रिया होगी जिसके परिणामस्वरूप ही विद्युत का निर्माण होगा।
8. नीचे दो कथन दिए गए हैं। इनमें से एक अभिकथन
(A) है और दूसरा कारण (R) । नीचे दिए कूटों से सही उत्तर का चयन करें:
अभिकथन (A) :
जब सूर्यताप सब जगह समान रूप से पड़ता है तब भू सतह जल भाग की तुलना में ज्यादा तेजी से गर्म हो जाता है।
कारण (R) : धरती अपारदर्शी है जबकि जल सौर विकिरण के लिए पारदर्शी है।
(a) (A) और (R) दोनों सही है और R. A. की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परंतु (R) सही है।
उत्तर (a)−जब सूर्यातप सब जगह समान रूप से पड़ता है तब भू-समूह जल भाग की तुलना में ज्यादा तेजी से गर्म हो जाता है क्योंकि धरती अपारदर्शी है जबकि जल सौर विकिरण के लिए पारदर्शी है। जल की गुप्त उष्मा सामर्थ्य अधिक होती है स्थल की अपेक्षा इस कारण जल सतह धीरे-धीरे गर्म होती है।
9. निम्न में से कौन-सी ‘सी’ टाईप जलवायु के अन्तर्गत शीत ऋतु के दौरान ज्यादा वर्षा होती है?
(a) Cfa (b) Cs
(c) Cwa (d) Cfc
उत्तर (b)−कोपेन ने अपने जलवायु वर्गीकरण में ‘C’ मेसोथर्मल प्रकार के जलवायु का संकेतक जिसमें गर्मी में औसत तापमान 100C से अधिक नहीं तथा जाड़ें में 80C से कम नहीं होता है। ‘S’ शीत ऋतु में वर्षा का संकेतक है।
10. कोरिऑलिस बल के बारे में निम्न में से कौन-सा एक कथन सही नहीं है ?
(a) यह पृथ्वी के आवर्तन का प्रभाव है।
(b) यह ध्रुवीय क्षेत्र के ऊपर अधिकतम होता है।
(c) यह प्रत्यक्ष रूप से घर्षण बल से संबंधित है।
(d) यह वायु गति के समानुपातिक है।
उत्तर (d)−कोरिलियस बल पृथ्वी के आवर्तन का प्रभाव है यह ध्रुवीय क्षेत्र के ऊपर अधिकतम पाया जाता है। जबकि विषुवतरेखीय क्षेत्र पर शून्य पाया जाता है क्योंकि विषुवतरेखीय क्षेत्रों पर अपकेन्द्रीय बल का प्रभाव अधिक होता है। यह वायु गति के समानुपाती नहीं होता है।
11. अटलांटिक महासागर के तल से मध्य अटलांटिक कटक के ऊँचाई के संबंध में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही है?
(a) करीब 3 कि.मी. ऊपर
(b) करीब 4 कि.मी. ऊपर
(c) करीब 5 कि.मी. ऊपर
(d) करीब 6 कि.मी. ऊपर
उत्तर (a)−अटलांटिक महासागर के तल से मध्य अटलांटिक कटक की ऊँचाई लगभग 3 किमी0 ऊपर है। मध्य अटलांटिक कटक का आकार अंग्रजी के अक्षर ‘S’ के समान है।
12. वह प्रवाल भित्ति जो सामान्यत: समुद्रतट के उस हिस्से में पायी जाती है। जहाँ कोई छिछला जलमार्ग या लैगून मिलती हो ………… कहलाती है।
(a) रोधिका भित्ति (b) स्तबक भित्ति
(c) रिबन भित्ति (d) तटीय प्रवाल भित्ति
उत्तर (d)−वह प्रवाल भित्ति जो सामान्यत: समुद्रतट के उस हिस्से में पायी जाती है जहाँ कोई छिछला जलमार्ग या लैगून मिलती हो तटीय प्रवाल भित्ति कहते हैं। महाद्वीपीय किनारे या द्वीप के किनारे निर्मित होने वाली प्रवाल भित्ति की तटीय प्रवाल भित्ति कहते हैं इसका सागरवर्ती भाग खड़ा एवं तीव्र ढ़ाल वाला होता है। जबकि स्थलो-मुख भाग मन्द ढ़ाल वाला होता है।
13. यदि क्योटो प्रोटोकॉल कार्बन डायक्साइड के लिए है तो मांट्रीयल प्रोटोकॉल …… के लिए है।
(a) मीथेन (b) क्लोरोफ्लोरोकार्बन
(c) कार्बन-डायक्साइड (d) ओजोन
उत्तर (b)−क्योटो प्रोटाकॉल कार्बनडाइआक्साइड के लिए है तो मांट्रीयल प्रोटोकॉल (1987) क्लोरोफ्लोरोकार्बन ओजोन के लिए है। संयुक्त राष्ट्र संघ के निर्देशन में ओजान छिद्र से उत्पन्न निवारण हेतु 16 सितम्बर 1987 को मॉट्रियल का एक समझौता हुआ। इसी सम्मेलन में यह किया गया कि 16 सितम्बर को अन्तर्राष्ट्रीय ओजोन संरक्षण दिवस मनाया जाए।
14. निम्नलिखित में से कौन सा कथन समान तापमान पर महासागरीय जल और वायु के घनत्व में अंतर के बारे में सत्य है?
(a) महासागरीय जल का घनत्व वायु की तुलना में 800 गुणा अधिक होता है।
(b) महासागरीय जल का घनत्व वायु की तुलना में 600 गुणा अधिक होता है।
(c) महासागरीय जल का घनत्व वायु की तुलना में 400 गुणा अधिक होता है।
(d) महासागरीय जल का घनत्व वायु की तुलना में 200 गुणा अधिक होता है।
उत्तर (a)−तापमान पर महासागरीय जल और वायु के घनत्व में अन्तर के बारे में निम्न कथन सत्य है − महासागरीय जल का घनत्व वायु की तुलना में 800 गुना अधिक होता है।
15. निम्नलिखित में से कौन सी खाड़ी में विश्व का सबसे ऊँची ज्वार आता है?
(a) बंगाल की खाडी (b) हडसन खाडी
(c) फन्डी की खाडी (d) खम्भात की खाडी
उत्तर (c)−फन्डी की खाड़ी में विश्व का सबसे ऊँचा ज्वार आता है जबकि भारत में सबसे ऊँचा ज्वार खम्भत की खाडी में आता है सूर्य तथा चन्द्रमा की आकर्षण शक्तियाँ के प्रभाव स्वरूप ज्वार आता है।
16. निम्नलिखित में से किसने यह वकालत की थी कि ‘‘इतिहास को भौगोलिक दृष्टि से देखा जाना चाहिए और भूगोल को इतिहास की दृष्टि से देखा जाना चाहिए’’?
(a) होल्म्स
(b) हेरोडोटस
(c) हेकेटियस
(d) थेल्स ऑफ मिलिटस
उत्तर (b)−ंइतिहास को भौगोलिक दृष्टि से देखा जाना चाहिए और भूगोल को इतिहास की दृष्टि से देखा जाना चाहिए इस कथन की वकालत हेरोडोटस ने की। हेरोडोटस को इतिहास का जनक कहा जाता है। हेरोडोटस विश्व भूखण्ड को तीन महाद्वीपों यूरोप‚ एशिया और लीबिया (अफ्रीका) में विभाजित किरने वाले प्रथम भूगोलवेत्ता थे।
17. निम्नलिखित में से कौन-सा मात्रात्मक क्रांति का दार्शनिक आधार है?
(a) प्रत्यक्षवाद (b) अस्तित्ववाद
(c) आदर्शवाद (d) प्रसंभाव्यतावाद
उत्तर (a)−मात्रात्मक क्रान्ति का दार्शनिक आधार प्रत्यक्षवाद है। प्रत्यक्षवाद एक दार्शनिक दृष्टिकोण है जो ज्ञान को तथ्यों और तर्कों के बीच के सम्बन्धों तक सीमित करता है। प्रत्यक्षवाद की अनुभाविकवाद (Empiricism) भी कहते हैं। ऐतिहासिक दृष्टि से प्रत्यक्षवाद को संकल्पना फ्रांसीसी क्रान्ति के पश्चात विकसित हुयी थी जिसकी स्थापना 1830 के दशक में आगास्ट काम्टे ने फ्रांस में की थी।
18. यह कथन कि ‘‘मिश्र नील नदी की देन है’’ किसका है?
(a) अरस्तू (b) स्ट्रेबो
(c) हेरोडोटस (d) सेनेका
उत्तर (c)−मिश्र नील नदी की देन है यह कथन हेरोडोटस ने कहा। हेरोडोटस प्रथम भूगोल वेत्ता थे जिसने कैस्पियन सागर को आन्तरिक सागर माना तथा उन्होंने डेन्यूब नदी को विश्व की सबसे बड़ी नदी माना। इन्होंने सर्वप्रथम तापमान तथा वायु की गति एवं दिशा में सम्बन्ध स्थापित किया इनके अनुसार वायु ठण्डे प्रदेशों से गर्म प्रदेशों की ओर बहती है।
19. निम्नलिखित में से किस विद्वान ने टॉलेमी की पुस्तक में सुधार किया था?
(a) अल-मसूदी (b) अल-इद्रीसी
(c) अल-बरूनी (d) इब्न-खाल्दुन
उत्तर (b)−अल-इद्रीसी ने टॉलेमी के पुस्तक में सुधार किया। अल-बरुनी की प्रमुख पुस्तकें निम्न हैं−
1. अल-कानून-अल-मसूदी
2. तारीखुल हिन्द
3. दि वेस्टीज आफ द पास्ट अल-बरुनी महमूद गजनवी के आमन्त्रण पर भारत आया। ग्यारहवीं शताब्दी का काल ‘अल बरुनी काल’ कहा जाता है भारत में निवास के दौरान ही उसने एक प्रसिद्ध पुस्तक ‘किताब अल-हिन्द’ की रचना की।
20. निम्नलिखित में से किसने ‘मानसिक मानचित्र’ की अवधारणा विकसित की थी?
(a) डाउन्स और स्टीया (b) सारिनेन
(c) गोल्ड और ह्वाइट (d) बोल्डिंग और हैगरस्ट्रैंड
उत्तर (c)−मानसिक मानचित्र की अवधारणा गोल्ड और ह्वाइट ने किया। हैगंरस्ट्रेण्ड स्वीडिश भूगोलवेत्ता थे। उनकी प्रमुख पुस्तकें निम्न थीं− On Monte Carlo Simulation and diffusion of innovation हैंगरस्ट्रैण्ड व्यावहारिक उपागम का पोषण किया।
21. सूची−I को सूची−II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर का चयन करें। सूची−I सूची−II
(अवधारणा) (परिभाषाएँ)
I. कंटीन्युअम ऑफ A. घटते हुए कस्बों का समूह परंतु अर्बन साइजेज आकार और महत्व में लगभग बराबर
II. लोश मॉडल B. सबसे बडे शहर और निकटतम दूसरे सबसे बड़े शहर के बीच संबंध
III. अर्बन हायरार्की C. विभिन्न स्तरों पर विभिन्न षटकोणीय प्रणालियों कार्य करती है और वे एक दूसरे पर आरोपण की स्थिति में होती है।
IV. प्राइमेट नगर D. घटते रैंक के साथ शहरी जनसंख्या आकार में धीमी और सतत गिरावट
कूट :
I II III IV
(a) D C A B
(b) B A C D
(c) C B D A
(d) A D B C
उत्तर (a)-
I. कंटीन्युअम ऑफ A. घटते रैंक के साथ शहरी अर्बन साइजेज जनसंख्या आकार में धीमी और सतत गिरावट
II. लोश मॉडल B. विभिन्न स्तरों पर विभिन्न षटकोणीय प्रणालियों कार्य करती है और वे एक दूसरे पर आरोपण की स्थिति में होती है।
III. अर्बन हायरार्की C. घटते हुए कस्बों का समूह परंतु अर्बन साइजेज आकार और महत्व में लगभग बराबर
IV. प्राइमेट नगर D. सबसे बडे शहर और निकटतम दूसरे सबसे बड़े शहर के बीच संबंध
22. निम्नलिखित लेखकों में से किसने किसी शहर के जनसंख्या घनत्व की पद्धति की व्याख्या करते हुए सूत्र dx= d0e–bxका प्रयोग किया था जहाँ d सिटी सेन्टर से x दूरी पर जनसंख्या घनत्व (d) को दर्शाता है‚ d0केन्द्रीय घनत्व‚ c दूरी का घातांक और b घनत्व प्रवणता है?
(a) सी. क्लार्क (b) बी.जे.एल.बेरी
(c) जे. डब्ल्यू सिमंड्स (d) डब्ल्यू. आइजाई
उत्तर (a)−सी. क्लार्क किसी शहर के जनसंख्या घनत्व की पद्धति की व्याख्या करने हेतु सूत्र dx= d0e–dxका प्रयोग किया गया। वाल्टर आइजार्ड ने मात्रात्मक विधियों का समावेश कर आर्थिक आधार पर प्रादेशीकरण किया। ये अमेरिकन अर्थशाध्Eाी थे। एंग्लो अमेरिकन बी.जे.एल. बेरी की प्रमुख पुस्तके निम्न है –
(i) Cities As system
(ii) Within system of cities बेरो ने नगरीय भूगोल का विकास‚ प्रधान शहर श्रेणी आकार नियम का अध्ययन किया।
23. भारत को 2011 की जनगणना के अनुसार‚ भारत की कुल जनसंख्या के संबंध में निम्नलिखित में से कौन-सा आंकडा सही है ?
(a) 1‚ 21‚ 08‚ 54‚ 977
(b) 1‚ 21‚ 04‚ 74‚ 877
(c) 1‚ 21‚ 03‚ 64‚ 957
(d) 1‚ 21‚ 05‚ 44‚ 777
उत्तर (a)−भारत की 2011 की जनगणना के अनुसार‚ भारत की कुल जनसंख्या 1‚ 21‚ 08‚ 54‚ 977 है।
24. भारतीय जनसंख्या में तीव्र वृद्धि का चरण निम्नलिखित में से किस कालावधि के दौरान था?
(a) 1901−1921 (b) 1921−1951
(c) 1951−1981 (d) 1981−2001
उत्तर (c)− अवस्था सन् प्रथम अवस्था वर्ष 1901 देश की जनसंख्या में धीमी गति से वृद्धि हुयी द्वितीय अवस्था वर्ष 1921 से 1951 तक देश की जनसंख्या लगभग स्थिर दर से उत्तरोत्तर बढ़ती रही तृतीय अवस्था 1951 से 1981 तक देश की जनसंख्या में अत्यधिक तेजी से वृद्धि हुई चतुर्थ अवस्था 1981 से 2011 तक देश की जनसंख्या में वृद्धि तो हुयी किन्तु वृद्धि दर में गिरावट का रूख जारी रहा
25. विश्व की मानव जनसंख्या के दूसरी बार दुगना होने की अवधि निम्नलिखित समय-अन्तराल में से किसके बीच थी?
(a) 1650−1850 (b) 1750−1950
(c) 1850−1930 (d) 1850−1950
उत्तर (c)−विश्व की मानव जनसंख्या की दूसरी बार दुगुनी होने की अवधि 1850-1930 के मध्य रही। विश्व में एक अरब जनसंख्या वृद्धि में लगने वाला समय वर्ष जनसंख्या समय अन्तराल 1820 1 हजारों वर्षो 1920 2 100 से 1960 3 40 वर्ष 1980 4 20 वर्ष 1990 5 10 वर्ष 1990 6 10 वर्ष
26. निम्न में से कौन-सी कृषि भौगोलिक पद्धति फसल विविधिकरण अध्ययन के लिए सही है?
(a) पण्य (b) सुव्यवस्थित
(c) क्षेत्रीय (d) व्यवहारवादी
उत्तर (c)−किसी क्षेत्र विशेष की जलवायु‚ मिट्टी संरचना भौगोलिक विविधता अलग-अलग पायी जाती है जिस कारण प्रत्येक स्थान पर फसल में भी विभिन्नता पायी जाती है। जिस कारण कृषि भौगोलिक पद्धति फसल विविधिकरण अध्ययन के लिए क्षेत्रीय अध्ययन उपयुक्त रहेगा।
27. निम्न में से कौन-सी मिट्टी ‘‘स्वयं को घास-पात से ढंकने वाली मिट्टी’’ के रूप में जानी जाती है?
(a) धूसर मिट्टी (b) लाल मिट्टी
(c) भूरी मिट्टी (d) काली मिट्टी
उत्तर (d)−काली मिट्टी को स्वयं की घास पात से ढकने वाली मिट्टी के रूप में जाना जाता है। काली मिट्टी को रेगुर मिट्टी के नाम से भी जाना जाता है। ये मृदा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर चारनोजम मृदाओं से समानता रखती है। इस मृदा का विस्तार महाराष्ट्र‚ पश्चिमी मध्य प्रदेश‚ गुजरात‚ राजस्थान के दक्षिणी भाग आन्ध्र प्रदेश‚ कर्नाटक‚ तमिलनाडु क्षेत्रों में पाया जाता है।
28. ……….. ने दो प्रतिस्पर्धी फर्मों के बाजार क्षेत्र के बीच रैखिक बाजार मूल्य सीमा की अवधारणा दी थी।
(a) ए. वेबर (b) टी. प्लांडर
(c) ई. हूवर (d) ए. लॉश
उत्तर (b)−टी.प्लांडर ने दो प्रतिस्पर्धी कर्मों के बाजार क्षेत्र के बीच रेखीय बाजार मूल्य सीमा की अवधारणा दी थी। वेबर ने अपना उद्योग अवस्थित उपस्थिति सिद्धान्त 1909 में प्रतिपादित किया तथा अपनी पुस्तक थ्योरी ऑफ लोकेशन ऑफ द इण्डस्ट्रीज में दिया। लॉश का सिद्धान्त वेबर के सिद्धान्त न्यूनतम परिवहन लागत से विपरीत है। इसे बाजार क्षेत्र विचारधारा के अन्तर्गत सम्मिलित किया जाता है। लॉश ने अपने विचारा 1940 में अपनी पुस्तक “The Economics of location” में व्यक्त किया।
29. निम्न में से कौन-सा कारक सरकार के लिए परिवहन नीतियाँ पर ध्यान देने का कारण नहीं है?
(a) सामाजिक (b) आर्थिक
(c) सांस्कृतिक (d) राजनीतिक
उत्तर (c)−सांस्कृतिक कारक सरकार के लिए परिवहन नीतियों पर ध्यान देने का कारण नहीं है जबकि सामाजिक‚ आर्थिक राजनैतिक कारक सरकार के लिए परिवहन नीतियों पर ध्यान देने का कारण है।
30. निम्न उद्योगों में से कौन-सा भारी इंजीनियरिंग उद्योग कहलाता है।
(a) हेबी इलेक्ट्रिकल्स (b) हेवी मशीनरी
(c) शीशा (d) लौह और इस्पात
उत्तर (b)−हेबी मशीनरी भारी इंजीनियरिंग उद्योग कहलाता है क्योंकि इस उद्योग में प्रयुक्त होने वाले सभी कच्चे मालों का भार अधिक होता है। वेबर के अनुसार ये उद्योग अधिकांशता कच्चे सामग्री के दोत के पास लगाये जाते है।
31. निम्नलिखित में से किसने रिमलैण्ड सिद्धान्त की संकल्पना प्रतिपादित की थी?
(a) रैटजेल (b) स्पाइकमैन
(c) ग्रीफिथ टेलर (d) मैकिन्डर
उत्तर (b)−स्पाइकमैन ने रिमलैण्ड सिद्धान्त की संकल्पना का प्रतिपादन किया था। स्पाइकमैन ने 1944 में ‘शांति का भूगोल’ नामक पुस्तक लिखी। जिसमें उन्होंने रिमलैण्ड सिद्धान्त को प्रस्तुत किया। स्पाइकमैन के अनुसार हृदयस्थल के इर्द-गिर्द रिमलैण्ड है जो अंशत: महाद्वीपीय अंशत: महासागरीय है।
32. ग्रीफिथ टेलर द्वारा कितनी प्रमुख मानव जातियों की पहचान की गई थी?
(a) 3 (b) 4
(c) 5 (d) 6
उत्तर (c)−ग्रीफिथ टेलर ने 5 प्रमुख मानव जातियों की पहचान की थी। ग्रिफिथ टेलर ने मानव प्रजातियों के सम्बन्ध में प्रवास कटिबन्ध सिद्धान्त का प्रतिपादन किया था। इस सिद्धान्त को कटिबन्ध स्तर सिद्धान्त भी कहा जाता है।
33. निम्न में से किस वर्ष में मेकिन्डर ने अफ्रीका सहित विश्व द्वीप पुन: निर्धारित किया?
(a) 1922 (b) 1925
(c) 1919 (d) 1917
उत्तर (c)−प्रथम विश्व युद्ध के परिणामों तथा बदलते समीकरण के चलते मैकिन्डर ने 1919 में धुरी क्षेत्र की सीमाओं में परिवर्तन किया तथा अफ्रीका सहित विश्व द्वीप पुन: निर्धारित किया। 1919 में मैकिन्डर ने अपनी पुस्तक ‘डेमोक्रेटिक आइडियल्स एण्ड रियालिटी’ में धुरी क्षेत्र का नाम बदलकर हृदय क्षेत्र कर दिया।
34. रेड इंडियन अथवा अमेरिकन इंडियन निम्न में से किस प्रजाति के हैं?
(a) कॉकेसायड प्रजाति (b) मंगोलायड प्रजाति
(c) ऑस्ट्रोलायड प्रजाति (d) नेग्रीटो प्रजाति
उत्तर (b)−मंगोलायड प्रजाति पश्चिमी एवं दक्षिणी भारत को छोड़कर सम्पूर्ण एशिया‚ उत्तर तथा दक्षिण‚ अमेरिका तथा उत्तरी एवं पूर्वी प्रशान्त महासागरीय क्षेत्र में पायी जाती है। इन प्रजातियों का कद मध्यम शरीर तथा चेहरे पर बालों की कमी पायी जाती है। चेहरा सपाट तथा कपोल स्थितियाँ उभरी हुयी होती है।
35. निम्न में से कौन-सा पद शहरों और नगरों से शुद्ध जनसंख्या वृद्धि की ओर इंगित करता है?
(a) शहरी विकास (b) जनसंख्या वृद्धि
(c) शहरीकरण (d) शहरी क्षेत्र
उत्तर (a)−शहरी विकास शहरों और नगरों में शुद्ध जनसंख्या वृद्धि की ओर इंगित करता है। जनगणना 2011 के अन्तिम आंकड़ों के अनुसार 2001-
2011 के दौरान भारत की दशकीय वृद्धि 17.7% रही है।
36. निम्न में से कौन-सी प्रक्रिया आयोजन से संबंधित नहीं है?
(a) अवधारणा (b) प्रकटीकरण
(c) तैयारी (d) विकास
उत्तर (d)− अवधारणा प्रकटीकरण‚ तैयारी आयोजना की प्रक्रिया से सम्बन्धित है। इसके अतिरिक्त आयोंजना की प्रक्रिया में योजना का निर्माण‚ योजना का कार्यान्वयन‚ योजना का मूल्यांकन इत्यादि आता है जबकि विकास तो आयोजना की प्रक्रिया का परिणाम है।
37. निम्न में से कौन क्षेत्रीय विज्ञान के पिता के रूप में जाना जाता है?
(a) लुईस लिफेबर
(b) वाल्टर इसार्ड
(c) हार्वे एस. पर्लोफ
(d) जॉन एम. कम्बरलैण्ड
उत्तर (b)−वाल्टर इसार्ड को क्षेत्रीय विज्ञान के पिता के रूप में जाना जाता है। ये अमेरिकन अर्थशाध्Eाी थे। इन्होंने मात्रात्मक विधियों का समावेश कर आर्थिक आधार पर प्रादेशीकरण किया।
38. निम्न में से किस विद्वान का यह मानना है कि− ‘‘प्रत्येक सुविचारित कार्य सबसे पहले दिमाग में‚ चिंतन से शुरू होना चाहिए। यह वास्तविक रूप ले सके‚ इसके पूर्व से चिंतन प्रक्रिया में शामिल कर उसका अभ्यास भी करना चाहिए …।’’
(a) लेवीस ममफोर्ड (b) पैट्रीक गेड्स
(c) चैडवीच (d) बेन्टन मैके
उत्तर (d)−उपरोक्त कथन बेंटन मैके का है। पैट्रीक गेड्स ने सर्वप्रथम नगरीय विकास और उसकी अवस्थाओं का विस्तृत अध्ययन अपनी प्रसिद्ध रचना नगरो का उद्भव (1931) में किया था। इन्होंने निम्न नगरीय विकास के युग बताये –
(i) इओ टेक्निक – 1000 – 1800 A.P.
(ii) पैलियो टेक्निक -19वीं सदी
(iii) निओ टेक्निक
39. विकास में पिछड़े अथवा अपूर्ण क्षेत्रों की पहचान हेतु जो सर्वेक्षण कराया जाता है‚ उसे कहते हैं‚
(a) सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण
(b) संरचनात्मक सर्वेक्षण
(c) पर्यावरणीय गुणवत्ता सर्वेक्षण
(d) नैदानिक सर्वेक्षण
उत्तर (d)− विकास में पिछड़े तथा अपूर्ण दोनों की पहचान हेतु नैदानिक सर्वेक्षण कराया जाता है
40. भारत का सर्वाधिक दुग्ध-उत्पादक राज्य ……….. है।
(a) गुजरात (b) पंजाब
(c) उत्तर प्रदेश (d) राजस्थान
उत्तर (c)−भारत का सर्वाधिक दुग्ध उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश है। उत्तर प्रदेश में देश की 25% भैसें पाली जाती है। प्रमुख नस्ले (भैंसों) क्षेत्र जाफराबादी – सौराष्ट्र मुरी – उत्तर प्रदेश भसावरी – उत्तर प्रदेश रोहतक – हरियाणा
41. निम्नलिखित में से कौन सा राज्य-समूह भारत का लगभग 90% वार्षिक कोयला उत्पादित करता है?
(a) मध्यप्रदेश‚ तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल
(b) उड़ीसा‚ मध्यप्रदेश और तमिलनाडु
(c) झारखण्ड‚ उडीसा और मध्यप्रदेश
(d) झारखण्ड‚ उडीसा और पश्चिम बंगाल
उत्तर (d)−भारत का 90% कोयला का उत्पादन झारखण्ड‚ उड़ीसा तथा पश्चिम बंगाल राज्य करते है। झारखण्ड में झरिया सबसे बड़ा कोयला क्षेत्र है। भारत में कुकिंग कोयले का सबसे बड़ा क्षेत्र है। इसके अलावा चन्द्रपुरा‚ बोकारो‚ गिरीडीह‚ उत्तरी तथा दक्षिणी कर्णपुरा रामगढ़ आदि झारखण्ड के अन्य प्रमुख कोयला क्षेत्र है। पश्चिम बंगाल में रानीगंज कोयला का प्रमुख क्षेत्र है। यहाँ उच्च कोटि का स्टीम कोयला मिलता है।
42. निम्न में से किस वर्ष भारत विश्व में सबसे अधिक वाहन निर्माण वाला देश बन गया?
(a) 2007 (b) 2008
(c) 2009 (d) 2010
उत्तर (c)−2009 में भारत विश्व में सबसे अधिक वाहन निर्माण वाला देश बना।
43. नीचे दो कथन दिए गए हैं। इनमें से एक अभिकथन
(A) है और दूसरा कारण (R) । नीचे दिए कूटों से सही उत्तर का चयन करें:
अभिकथन (A) : भारत में गेहूँ उत्पादन क्षेत्र अर्थ आर्द्र एवं अर्ध शुष्क क्षेत्रों तक सीमित है।
कारण (R) : इस फसल को अत्यधिक स्थिरतम पानी की आवश्यकता नहीं होती है।
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या करता है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परंतु (R) सही है।
उत्तर (b)−भारत में गेहूँ उत्पादन क्षेत्र अर्ध आर्द्र एवं अर्ध शुष्क क्षेत्रों तक सीमित है। क्योंकि इस फसल को अत्यधिक स्थिरतम पानी की आवश्यकता नहीं होती है। गेहूँ की कृषि के लिए आवश्यक भौगोलिक दशाएँ‚ उपजाऊ मिट्टी‚ 50 सेमी. से 75 सेमी. वर्षा आरम्भ में तापमान 100C से 150C तथा बाद में 200C से 250C तक है। गेहूँ का सबसे प्रमुख उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश‚ पंजाब तथा हरियाणा है।
44. भारत के किस राज्य में सुबनसिरी जल विद्युत परियोजना अवस्थित है?
(a) मणिपुर (b) मेघालय
(c) अरुणाचल प्रदेश (d) तमिलनाडु
उत्तर (c)−सुबनसिरी जल विद्युत परियोजना अरुणाचल प्रदेश में अवस्थित है। प्रश्नगत दिये गये राज्यों में स्थित बहु उद्देशीय परियोजना निम्न हैबहुउद्देशीय परियोजना राज्य लोकटक – मणिपुर कोपिली खानडौंग और क्रिदेम कुलई – मेघालय पाइकारा‚ मेटूर‚ शोलायार‚ अलियार‚ मोयार‚ सुएलिया‚ पापनाराम – तमिलनाडु
45. निम्नलिखित में से कौन-सा जीआईएस सॉफ्टवेयर नहीं है?
(a) आटोकैड (b) मैप इन्फो
(c) अरडास (d) आर्क व्यू
उत्तर (a)−आटोकैड जीआईएस सॉफ्टवेयर नहीं है। मैप इन्फो‚ आरडास‚ आर्क व्यू जीआईएस साफ्टवेयर है।
46. सूची–I सूची–II के साथ सुमेलित कीजिये और नीचे दिये गये कूटों से सही उत्तर का चयन कीजिये:
सूची–I सूची–II
(आर.एफ.) (मापन का स्तर)
I. 1 : 2,50,000 A. ग्रामीण (काडास्ट्रल)
II. 1 : 50,000,000 B. बृहत
III. 1 : 25,000 C. मध्यम
IV. 1: 4,000 D. लघु
कूट:-
I II III IV
(a) C D A B
(b) C A B D
(c) A B C D
(d) C D B A
उत्तर (d)− सूची–I सूची–II
(आर.एफ.) (मापन का स्तर)
I. 1 : 2,50,000 A. मध्यम
II. 1 : 50,000,000 B. लघु
III. 1 : 25,000 C. बृहत
IV. 1: 4,000 D. ग्रामीण (काडास्ट्रल)
47. निम्नलिखित में से कौन सा क्षेत्र विस्तार 1 :
50‚000 मापक स्थालाकृतिक मानचित्र पर 3 सेमी
× 3 सेमी वर्ग द्वारा परिबद्ध क्षेत्र को बताता है?
(a) 9.00 किमी2(b) 1.00 किमी2
(c) 3.20 किमी2(d) 2.25 किमी2
उत्तर (d)−2.25 किमी2का क्षेत्र विस्तार 1:50‚000 मापक स्थलाकृतिक मानचित्र पर 3cm 3cm वर्ग द्वारा परिबद्ध क्षेत्र को बताता है।
48. नीचे दो कथन दिए गए हैं। एक को अभिकथन (A) है और दूसरा कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए कूटों से सही उत्तर चुनिये :
अभिकथन (A) : किसी वस्तु अथवा परिघटना में परिवर्तन ऑकलन सुदूर संवेदन द्वारा एक प्रक्रिया है।
कारण (R) : जी.आई.एस. का प्रयोग आँकड़ों के परिवर्तन के ऑकलन में सहायक होता है।
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ लेकिन (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ लेकिन (R) सही है।
उत्तर (b)−किसी वस्तु अथवा परिघटना में परिवर्तन आंकलन सुदूर संवेदन द्वारा एक प्रक्रिया है तथा जी.आई.एस. का प्रयोग आँकड़ों के परिवर्तन के आंकलन में सहायक होता है उपर्युक्त दोनों कथन सत्य है परन्तु कारण कथन की व्याख्या नहीं कर रहा है।
49. सूची–I सूची–II के साथ सुमेलित कीजिये और नीचे दिये गये कूटों से सही उत्तर का चयन कीजिये:
सूची–I सूची–II
(विद्वान) (विश्व युक्ति विचार)
I. सेवेरस्काई ए.एन.पी A. समुद्री शक्ति
II. मैकाइन्डर B. रिमलैड सिद्धान्त
III. स्पाइकमैन‚ एन.जे. C. हवाई शक्ति
IV. महन‚ ए.टी. D. थल शक्ति
कूट:-
I II III IV
(a) A B C D
(b) C D B A
(c) B A D C
(d) D C A B
उत्तर (b)− सूची–I सूची–II
(विद्वान) (विश्व युक्ति विचार)
I. सेवेरस्काई ए.एन.पी – हवाई शक्ति
II. मैकाइन्डर – थल शक्ति
III. स्पाइकमैन‚ एन.जे. – रिमलैड सिद्धान्त
IV. महन‚ ए.टी. – समुद्री शक्ति
50. निम्नलिखित में से किसके कारण किसी हवाई फोटो छायाचित्र के स्केल में बदलाव होता है?
(a) वस्तु की छाया
(b) वस्तु की संरचना
(c) भू − उच्चावचन
(d) छाया और उच्चावचन दोनों
उत्तर (c)−भू उच्चावचन के कारण किसी हवाई फोटो छायाचित्र के स्केल में बदलाव होता है।

Top
error: Content is protected !!