You are here
Home > Previous Papers > GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जनवरी- 2017 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल 006.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जनवरी- 2017 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल 006.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जनवरी- 2017 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल

1. रीया किसका उदाहरण है?
(a) प्राकृतिक तट
(b) संयुक्त तट
(c) उन्मज्जी उपरिभूमि तट
(d) निमग्न उपरिभूमि तट
उत्तर-(d) : रीया निमग्न उपरिभूमि तट का उदाहरण है। रीया तट का निर्माण भूपृष्ठीय अपरदन द्वारा प्रभावित स्थल के आंशिक रूप से जलमग्न होने से होता है। वास्तव में नदियों की एश्चुयरी के जलमग्न हो जाने से रिया का निर्माण होता है रीया किनारा कीपाकार होता है तथा स्थल की ओर संकरा होता है इस तरह रिया के शीर्ष भाग पर नदी का मुहाना तथा दूसरे सिरें पर खुला सागर होता है।
2. भारतीय प्लेटों (पठार) का अस्तित्व किसका कारण है?
(a) संपीडक बल (b) तनाव बल
(c) उन्मज्जन (d) अवतलन
उत्तर-(c) : भारतीय प्लेटों (पठार) का अस्तित्व उन्मज्जन का कारण है। अवतलन-भू आकृतिक विज्ञान में भूपर्पटी के किसी भाग का अपने चतुर्दिक भागों के सापेक्ष नीचे धॅसने की क्रिया‚ जलवायु विज्ञान में अवतलन का अर्थ-किसी वृहद वायु राशि का नीचे की ओर मन्द अवरोहरण या नीचे बैठने की क्रिया। अवतलन से वायु गतिक रूप से गर्म और शुष्क हो जाती है जिसके परिणामस्वरूप मौसम साफ और शुष्क रहता है। यह वायुमण्डलीय दाब में तीव्र वृद्धि अथवा प्रति चक्रवात की प्रमुख विशेषता है।
3. भू-अभिनति का समग्र सिद्धान्त किसके द्वारा प्रस्तुत किया गया था ?
(a) हॉल और डाना (b) ई. हॉग
(c) जे. ए. स्टीअर्स (d) जे डब्ल्यू. ईवांस
उत्तर-(b) : हालांकि भू-अभिनतियों की संकल्पना हॉग तथा डाना की देन है परन्तु उनके विकास के सिद्धान्त का श्रेय वास्तव में ई.
हॉग को है। हॉग के अनुसार -भू-अभिनतियाँ अपेक्षाकृत गहरे समुद्री भाग होते है‚ जिनकी लम्बाई चौड़ाई की अपेक्षा अधिक होती है और जो दृढ़ भू-खण्डों के बीच अस्थिर भाग के रूप में स्थित होते है। हॉग का मत है कि भू अभिनतियाँ महाद्वीपों के मध्यवर्ती भागों में स्थित होती है तथा अवसादो का निक्षेप गहरे जल में होता है।
4. सूची-I और सूची-II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- II
(बालू के टिब्बा का आकार (बालू के टिब्बा का तथा संरेखण) विशिष्ट नाम)
I. अनुदैर्घ्य A. उत्क्रमी
II. अनुप्रस्थ B. तटीय
III. परवलयिक C. सी़फ
IV. सम्मिश्रण B. चापाकार टिब्बा
कूट :
I II III IV
(a) C D B A
(b) A B C D
(c) B A D C
(d) D C A B
उत्तर-(a) :
बालू के टिब्बा का आकार बालू के टिब्बन का तथा संरेखण विशिष्ट नाम
अनुदैर्ध्य सीफ अनुप्रस्थ चापाकार टिब्बा परवलयिक तटीय सम्मिश्रण उत्क्रमी
5. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(कंदरा निर्माण के सिद्धान्त) (विद्वान)
I. द्वि चक्र सिद्धान्त A. स्विनरटोन
II. भौम जलस्तर सिद्धान्त B. गार्डनर
III. स्थैतिक जल क्षेत्र सिद्धान्त C. मैरट
IV. आक्रमण सिद्धान्त D. डेविस
कूट :
I II III IV
(a) C B A D
(b) D A B C
(c) B C A D
(d) D B C A
उत्तर-(b) : कंदरा निर्माण के सिद्धान्त विद्वान द्विचक्र सिद्धान्त डेविस भौम जलस्तर सिद्धान्त स्विनरटोन स्थैतिक जलक्षेत्र सिद्धान्त गार्डनर आक्रमण सिद्धान्त मैरट
6. पेडिमेन्ट निर्माण के पार्श्व समतलन सिद्धान्त को किसने प्रस्तावित किया था ?
(a) मैक्ग्री (b) गिल्बर्ट
(c) लॉसन (d) डेविस
उत्तर-(b) : पेडिमेन्ट निर्माण के पार्श्व समतलन सिद्धान्त गिल्बर्ट ने प्रस्तावित किया था। डेविस ने अपरदन चक्र या भू-आकृतिक चक्र की संकल्पना का प्रतिपादन किया। डेविस ने अपरदन चक्र की परिभाषा देते हुये स्पष्ट किया कि भौगोलिक अपरदन चक्र समय की वह अवधि है जिसके अन्तर्गत एक उत्थित भू-खण्ड अपरदन की क्रिया द्वारा एक आकृतिविहीन समप्राय मैदान में बदल जाता है। डेविस के अनुसार‚‘‘किसी भी दृश्य भूमि का विकास संरचना प्रक्रम तथा अवस्था का परिणाम होता है। इसे डेविस का त्रिकूट कहा जाता है।
7. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक अभिकथन (A) और दूसरा तर्क (R) है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर दीजिए।
अभिकथन (A) :
हवाई द्वीप ज्वालामुखी क्रियाओं का प्रदेश है। तर्क (R) : अभिसरित प्लेट सीमाएँ ज्वालामुखी उद् गारों के स्थल हैं
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सहीं हैं और (R),(A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सहीं हैं किंतु (R),(A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सहीं है‚ किंतु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ किंतु (R) सही है।
उत्तर-(b) : हवाई द्वीप ज्वालामुखी क्रियाओं का प्रदेश है। इसका निर्माण महासागरीय तथा महाद्वीपीय प्लेट के अभिसरण से होता है। अत: यह कथन सत्य है। अभिसरित प्लेट सीमाएँ ज्वालामुखी उद्गारो के स्थल है अर्थात् जहाँ दो प्लेटों का अभिसरण होता है वहाँ ज्वालामुखी उद्गार की क्रिया पायी जाती है अत: तर्क सत्य है परन्तु कथन की व्याख्या नहीं कर रहा है।
8. निम्नलिखित विवरणों में से कौन-सा ‘दाब घनत्वी’ शब्द का उपयुक्त विवरण है ?
(a) समदाब रेखा और समताप रेखा समानान्तर होते हैं।
(b) समदाब रेखा और समताप रेखा समानान्तर नहीं होते हैं।
(c) समदाब रेखा और समलवण रेखा समानान्तर होते हैं।
(d) समदाब रेखा और समलवण रेखा समानान्तर नहीं होते हैं।
उत्तर-(a) : दाब घनत्वी शब्द का उपयुक्त विवरण है कि समदाब रेखा और समताप रेखा समानान्तर होते है। समान तापमान को दर्शाने वाली रेखा के समताप रेखा कहते है तथा समान दाब को दर्शाने वाली रेखा को समदाब रेखा कहते है।
9. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(सतह दशा) (वर्षण क्षमता (पी-ई) सूचकांक)
I. वन A. > 127
II. मरुस्थल B. < 16
III. वर्षा प्रचुर वन C. 32-63
IV. घास स्थल B. 64-127
कूट :
I II III IV
(a) C A B D
(b) C A D B
(c) D B C A
(d) D B A C
उत्तर-(d) : सतह दशा वर्षण क्षमता वी. ई/ सूचकांक वन 64-127 मरूस्थल <16 वर्षा प्रचुरवन >127 घास स्थल 32-63
10. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(घटक) (शुष्क वायु में मात्रा %)
I. आक्सीजन A. 0.03
II. आर्गन B. 78.08
III. कार्बन डाइऑक्साइड C. 0.93
IV. नाइट्रोजन B. 20.94
कूट :
I II III IV
(a) D B C A
(b) D C A B
(c) C D B A
(d) D C B A
उत्तर-(b) : घटक शुष्क वायु में मात्रा % आक्सीजन 20.94 आर्गन 0.93 कार्बन डाई आक्साइन 0.03 नाइट्रोजन 78.08
11. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक अभिकथन (A) और दूसरा तर्क (R) है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर दीजिए।
अभिकथन (A) :
उष्ण्कटिबंधीय जलवायु विशेष भौगोलिक अंश है। तर्क (R) : विश्वि की जनसंख्या का 75% से अधिक 300N और 300S अक्षांश के बीच निवास करता है।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सहीं हैं और (R),(A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सहीं हैं किंतु (R),(A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सहीं है‚ किंतु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ किंतु (R) सही है।
उत्तर-(a)
12. जलवायु के कोपेन के वर्गीकरण में चिह्न Aw किसे संदर्भित करता है ?
(a) मानसून जलवायु
(b) उष्णकटिबंधीय वर्षावन
(c) स्टेप जलवायु
(d) उष्णकटिबंधीय सवाना जलवायु
उत्तर-(d) : जलवायु के कोपेन का वर्गीकरण का चिह्न AW उष्णकटिबन्धीय सवाना जलवायु को सन्दर्भित करता है। भारत में कर्क वृत्त की दक्षिण प्रायद्वीपीय पठार का अधिकतर भाग इसके अन्तर्गत आता है। कोपेन के वर्गीकरण में मानसूनी जलवायु के लिए Amw चिन्ह का प्रयोग किया गया है तथा स्टेपी जलवायु के लिए BShw का प्रयोग किया गया है।
13. हरिकेन के निर्माण के लिए निम्नलिखित में से कौनसा मुख्य ऊर्जा दोत है ?
(a) पृथ्वी के भूतापीय ऊर्जा
(b) संघनित जल वाष्प में उत्पन्न निहित ताप
(c) बड़े पैमाने पर जीवाश्म ईंधन को जलाना
(d) ओजोन (O3) छिद्र का निर्माण
उत्तर-(b) : हरिकेन के निर्माण के लिए संघनित जल वाष्प में उत्पन्न निहित ताप उर्जा का दोत है। कई समदाब रेखाओं वाले विस्तृत उष्ण कटिबन्धीय चक्रवात को हरिकेन कहते है। हरिकेन प्रति घण्टे 120 किमी. प्रति घण्टे से चलते है। हरिकेन की समदाब रेखाए अधिक सुडौल तथा वृत्ताकार होती है केन्द्र से बाहर वायुदाब तेजी से बढ़ता है‚ जिस कारण दाब प्रवणता अधिक होती है। इसी कारण हरिकेन प्रचण्ड गति से आगे बढ़ते है। हरिकेन में वर्षा मूसलाधार होती है। हरिकेन की दिशा शीतोष्ण चक्रवतो के विपरीत पूर्व से पश्चिम होती है।
14. निम्नलिखित में से कौन पृथ्वी के सतह पर वायुसंहति घनत्व का सही औसत है ?
(a) 0.9 kg m-3(b) 1.2 kg m-3
(c) 1.5 kg m-3(d) 0.7 kg m-3
उत्तर-(b) : 1.2 kg m-3पृथ्वी के सतह पर वायु संहति घनत्व का सही औसत हैं
15. निम्नलिखित वायुमंडलीय स्तरों में से किसमें लगभग 0.6 OC प्रति 100m की औसत दर पर ऊँचाई के साथ तापमान में गिरावट आती है ?
(a) क्षोभमंडल
(b) समतापमंडल
(c) बाह्य वायुमंडल
(d) आयनमंडल
उत्तर-(a) : वायुमण्डलीय स्तरों में से क्षोभमण्डल में 0.60C प्रति 100m. की औसत दर पर ऊँचाई के साथ तापमान में गिरावट आती है वायुमण्डल की सबसे निचली परत को परिवर्तनमण्डल या क्षोभमण्डल कहा जाता है। इस परत का ट्रोपोस्फीयर के रूप में नामकरण टीजरेन्स डी. बोर्ट ने किया । मौसम तथा जलवायु की दृष्टि से क्षोभमण्डल सर्वाधिक महत्वपूर्ण होता है क्योंकि मौसम सम्बन्धी सभी घटनाये इसी मण्डल में घटित होती है इस मण्डल में वायुमण्डल के समस्त गैसीय द्रव्यमान का 75% केन्द्रित है।
16. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(परिवर्तन की प्रकृति) (संभव मानवोद्भवी कारण)
I. अर्धशुष्की क्षेत्र में A.तट तक पुलिनरोधों मरुस्थलीकरण का प्रभाव
II. घाटी तली में अवनालिका B.अतिचारण का विकास
III. बढ़ता हुआ तट क्षरण C.नई सड़क से बह जाना
IV. बृहत् नदी-बाढ़ सघनता B.नगरीकरण
कूट :
I II III IV
(1) B C D A
(2) B C A D
(3) C B A D
(4) D C B A
उत्तर-(b) :
(परिवर्तन की प्रकृति) (संभव मानवोद्भवी कारण)
अर्धशुष्क क्षेत्र में मरूस्थलीकरण अतिचारण घाटी तली में अवनालिका नई सड़क से बह जाना का विकास बहता हुआ तट क्षरण तट तक पुलिरोधों का प्रभाव बृहत् नदी बाढ़ सघनता नगरीकरण
17. निम्नलिखित में से किसकी पहली बार 1934 में पादपों के बीच ‘जीवन रूप’ की अवधारणा को प्रस्तुत किया ?
(a) ए. एस. मोफ्फत (b) आर. एच. व्हिटकर
(c) क्रिस्टेन रॉनकिएर (d) ई. ओ. बॉक्स
उत्तर-(c) : क्रिस्टेन रानकिएर ने पहली बार 1934 में पादपों के बीच जीवन रूप की अवधारणा की प्रस्तुत किया। क्रिस्टेन रानकिएर कोपेंनहेगेन विश्वविद्यालय में भूगोलवेत्ता थे। इन्होंने प्लान्टस इकोलोजी तथा बाँटनी में अत्यन्त महत्वपूर्ण कार्य किया।
18. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(तत्त्व) (gm/cm3में घनत्व )
I. समुद्र जल A. 2.4
II. महासागरीय पटल B. 1.03
III. महाद्वीपीय पटल C. 2.8
IV. महाद्वीपीय सीमांत B. 2.9
कूट :
I II III IV
(1) D B A C
(2) B D A C
(3) B D C A
(4) C D B A
उत्तर-(c) : तत्व gm/cm3में घनत्व समुद्री जल 1.03 महासागरीय पटल 2.9 महाद्वीपीय पटल 2.8 महाद्वीपीय सीमान्त 2.4
19. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(समुद्री संरचना) (निक्षेप)
I. समुद्री तली A. हेडलपेलाजिक
II. समुद्र जल का सतह स्तर B. पेलाजिक प्रोविन्स
III. गहरी समुद्र खाई C. बेन्थिक प्रोविन्स
IV. समुद्र जल स्तम्भ B. एपिपेलाजिक जोन
कूट :
I II III IV
(a) C D B A
(b) C D A B
(c) D C B A
(d) A D B C
उत्तर-(b) : समुद्री संरचना निक्षेप समुद्री तली बेन्थिक प्रोविन्स समुद्र जल का सतह स्तर एपिपेलाजिक जोन गहरी समुद्री खाई हेडलपेलाजिक समुद्र जल स्तम्भ पेलाजिक प्रोविन्स
20. निम्नलिखित में से कौन महाद्वीपीय ढाल का सही औसत ढाल कोण है ?
(a) 20(b) 40
(c) 60(d) 80
उत्तर-(b) : महाद्वीपीय ढाल का सही औसत ढाल 40होता है। महाद्वीपीय मग्नतट और गहन सागरीय मैदान के बीच तीव्र ढाल वाले भाग को महाद्वीपीय मग्नढाल कहते है। ढाल पृथ्वी के ठोस सतह का ज्यामितिय तल है‚ जो समुद्र तल से ऊपर तथा नीचे पाया जाता है। ढाल तत्व ही भूदृश्य की रचना करते है अत: इसके आधार पर किसी क्षेत्र की भूआकृति विशेषताओं का निर्धारण किया जा सकता है। ढाल में पाये जाने वाले प्रमुख तत्व निम्न है-
(1) उत्तलता
(2) अवतलता
(3) मुक्त पृष्ठता
(4) सरल रेखात्मकता किसी भी स्थलरूप का स्वरूप इन चारों तत्वों के पारस्परिक अनुपात से निर्धारित होता है यह आवश्यक नहीं है कि प्रत्येक स्थलरूप में चारों ही तत्व विद्यमान हो।
21. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक अभिकथन (A) और दूसरा तर्क (R) है। नीचे दिए गए कूटों में से अपना उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
प्रवाल भित्तियों की महाद्वीपों के पूर्वी उपांत के साथ-साथ सर्वाधिक व्यापक रूप से विकसित होने की प्रवृत्ति होती है। तर्क (R) : समुद्र जल 200C से ज्यादा गर्म होता है।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सहीं हैं और (R),(A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सहीं हैं किंतु (R),(A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सहीं है‚ किंतु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ किंतु (R) सही है।
उत्तर-(a)
Ans : (
a) प्रवाल भित्तियों की महाद्वीपों के पूर्वी उपान्त के साथसाथ सर्वाधिक व्यापक रूप से विकसित होने की प्रवृत्ति होती है‚ कथन सत्य है। समुद्र जल 200C से ज्यादा गर्म होता है‚ तर्क भी सत्य है। प्रवाल के लिए न तो अत्यधिक अवसाद युक्त जल की आवश्यकता होती है‚ न ही अत्यन्त स्वच्छ जल की आवश्यकता होती है क्योंकि अत्यधिक स्वच्छ जल में खनिज पदार्थों की मात्रा न होने के कारण प्रवालों को भोजन नहीं मिल पाता है। प्रवाल जीवों के विकास के लिए अन्त:सागरीय चबूतरे अधिक महत्वपूर्ण होते है‚ क्योंकि ये चबूतरे प्रवाल के घरौंदे बनाने में अधिक सहयोगी होती है।
22. निम्नलिखित में से कौन प्रवाल भित्ति का मुख्य रासायनिक संघटक है ?
(a) MgCO3(मैग्नेशियम कार्बोनेट)
(b) KCO3(पोटैशियम कार्बोनेट)
(c) NaCl (सोडियम क्लोराइड)
(d) CaCO3(कैल्शियम कार्बोनेट)
उत्तर-(d) : प्रवाल भित्ति का मुख्य रासायनिक संघटक CaCO3कैल्शियम कार्बोनेट है। प्रवाल कीटों के अस्थिपंजरों के समेकन से निर्मित समुद्री स्थलाकृति को प्रवाल भित्ति कहते है‚ जो चूना पत्थर तथा डोलोमाइट जैसे अवसादी चट्टानों से निर्मित होते है। कोरल पॉलिस स्वयं द्वारा निर्मित एक चूने की घोल में रहते है। इन कीटों के शरीर पर असंख्य पादप शैवाल रहते है जिन्हें जुक्सान्थलाई (Zooxanthallac Algac) कहते है।
23. दो पारिस्थितिकी तंत्रों के बीच संक्रमण क्षेत्र को क्या कहते हैं ?
(a) जैवावासक (b) संक्रमिका
(c) जैव परिमाण (d) आवास
उत्तर-(b) : दो पारिस्थितिकी तन्त्रों के बीच संक्रमण क्षेत्र को संक्रमिक (इकोटोन) कहते है। विभिन्न प्रकार के पारिस्थितिक तन्त्रों के अध्ययन के बाद यह निष्कर्ष निकला की किसी भी जीव क्षेत्र का अधिवास एकाकी स्वरूप में नहीं होता तथा उनकी सीमाएं अस्पष्ट होती है। परिणामस्वरूप दो विभिन्न पारिस्थितिक तन्त्रों के मध्य एक संक्रमण क्षेत्र का निर्माण हो जाता है। इस प्रकार के संक्रमण क्षेत्र को तकनीकी रूप से संक्रमिका कहते है।
24. ‘ला ज्यॉग्रफी ह्यूमेन‘ नामक पुस्तक किसने लिखी है?
(a) पी.ई. जेम्स (b) जीन ब्रुन्स
(c) आर.जे. जॉन्स्टन (d) ई. जोन्स
उत्तर-(b) : ला ज्याग्रफी हूमेन नामक पुस्तक जीन ब्रुन्स ने लिखी है। जीन ब्रून्स‚ ब्लाश के शिष्य तथा मानव भूगोलवेत्ता थे। बू्रन्स ने मानव भूगोल के अध्ययन हेतु दो महत्वपूर्ण सिद्धान्त बताया।
1. क्रियाशीलता का नियम
2. अन्त: क्रिया का नियम जीन ब्रून्स‚ने मानव भूगोल के तथ्यों की तीन भागों में विभाजित किया।
1. मानव के अनुत्पादक प्रयोग के तथ्य मकान‚ अधिवास‚ सड़के।
2. वनस्पति तथा जन्तु जगत पर मानव की विजय कृषि पशुपालन
3. मृदा के विनाशकारी प्रयोग वनों का विनाश शिकार खनिजों का शोषण‚ विनाशकारी प्रयोग को डकैती अर्थव्यवस्था भी कहा जाता है।
25. निम्नलिखित में से किसने भूगोल की परिभाषा जीव विज्ञान के रूप में की है ?
(a) रिचथोफेन (b) हेटनर
(c) टॉलेमी (d) पीटर हगेट
उत्तर-(b) : हेटनर ने भूगोल की परिभाषा जीव वितरण विज्ञान के रूप में की है। हेटनर ने भूगोल की संकल्पना की क्षेत्रवर्णी विज्ञान के रूप में पुनर्जीवित किया। भूगोल की परिभाषा देते हुए उन्होंने कहा कि भूगोल एक क्षेत्रीय विज्ञान है जिसमें क्षेत्रों का अध्ययन उनकी विभिन्नताओं एवं स्थानिक सम्बन्धों के प्रसंग में होता है। इनकी प्रमुख कृतियाँ निम्न है।
1. कोलम्बियन एन्डीज की यात्रा
2. यूरोप का प्रादेशिक भूगोल
3. तुलनात्मक प्रादेशिक भूगोल
26. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(लेखक) (पुस्तकें)
I. हैगरस्ट्रान्ड A. थियोरेटिकल ज्यॉग्राफी
II. गिलबर्ट व्हाइट B. ज्यॉग्राफिकल डायमेन्सन्स ऑफ इनोवेशन्स
III. वाल्टर इसार्ड C. ह्यूमन रिस्पांस टू फ्लड्स
IV. विलियम बुन्ज D. मेथड्स ऑफ रीजनल एनालिसिस
कूट :
I II III IV
(a) A C B D
(b) D B A C
(c) C D B A
(d) B C D A
उत्तर-(d) : लेखक पुस्तक हैगरस्ट्रान्ड ज्योग्राफिकल डायमेन्सन्स ऑफ इनो वेशन्स गिल्बर्ट व्हाइट हूमन रिस्पांस टू फ्लड्स वाल्टर इसार्ड मेथड्स आफ रीजनल एनालिसिस विलियम बुन्ज थियोरोटिकल ज्याग्राफी
27. भौगोलिक विकास में पार्थिव एकता का सिद्धान्त सदैव प्रलब रहा है।’’ यह कथन किसके द्वारा प्रस्तुत किया गया है ?
(a) रिचर्ड हार्टशोर्न (b) वाइडल डी-ला ब्लाश
(c) जीन बु्रन्स (d) फ्रेड्रिक रेट्जेल
उत्तर-(b) : भौगोलिक विकास में पार्थिक एकता का सिद्धान्त सदैव प्रबल रहा है यह कथन बाइडल डी-ला-ब्लाश द्वारा प्रस्तुत किया गया है। ब्लाश को मानव भूगोल का जन्मदाता तथा फ्रांस में भूगोल का पिता माना जाता है। इन्हें सम्भववाद के जनक के रूप में भी जाना जाता है। ये पेरिस विश्वविद्यालय में भूगोल के प्रथम प्रोफेसर थे। फ्रांस का भूगोल नामक पुस्तक में इन्होंने पेज के अध्ययन पर जोर दिया। ये ऐसे छोटे-छोटे भौगोलिक प्रदेश होते है जिनमें धरातल‚ मृदा‚ संसाधन‚ आर्थिक विशिष्टताओं तथा लोगों के रहन-सहन में एकरूपता पायी जाती है।
28. निम्नलिखित में से कौन जर्मनी का भूगोल संबंधी ज्ञान को प्रथम बढ़ावा देने वाला था ?
(a) फर्डिनेन्ड वॉन रिचथोफेन (b) कार्ल रिट्टर
(c) कार्ल एन्ड्री (d) ऑस्कर पेस्चेल
उत्तर-(d) : आस्कर पैश्चेल जर्मनी का भूगोल सम्बन्धी ज्ञान को प्रथम बढ़ावा देने वाले थे। आस्कर पेश्चल ने दास आइसलैण्ड नामक पत्रिका का सम्पादन किया। ये रिटर तथा हम्बोल्ट से भिन्न मत रखते थे रिटर की तुलनात्मक पद्धति की आलोचना की तथा कहा कि क्षेत्रीय इकाइयाँ तुलनात्मक नहीं हो सकती। फियोर्ड तटों का अध्ययन किया तथा इनकी उत्पत्ति की व्याख्या की । इनकी प्रमुख कृतियाँ निम्न है-
1. भूगोल के अध्यन की नई सैद्धान्तिक समस्याएँ
2. द रेसेस ऑफ मैनकाइण्ड
29. ‘ठहरिए और जाइए’ निश्चयवाद का प्रतिपादन किसने किया था ?
(a) हम्बोल्ट (b) जीन ब्रुन्स
(c) ग्रिफिथ टेलर (d) रेट्जेल
उत्तर-(c) : ठहरिये और जाइये निश्चयवाद का प्रतिपादन ग्रिफिथ टेलर ने किया। ग्रिफिथ टेलर अमेरिका के शिकागो विश्विविद्यालय में प्रोफेसर रहे है। इन्होंने मानव वातावरण सम्बन्ध‚ मानव प्रजाति राष्ट्र व नगरो‚ सभ्यता एवं विश्व शान्ति पर मौलिक एवं महत्वपूर्ण विचार प्रस्तुत किये। इन्होंने नियतिवाद तथा सम्भवसाद के बीच का रास्ता अपनाया जिसे नव नियतिवाद या रूको या जाओ की अवधारणा कहा जाता है। इन्होंने मनुष्य की तुलना एक टे्रफिक पुलिस कण्ट्रोल से करते हुए बताया कि मनुष्य प्रकृति के अनुकूल या प्रतिकूल निर्णय लेकर प्रगति की गति तेज या धीमी कर सकता है पर वह प्रकृति के दिशा-निर्देशों को बदल नहीं सकता।
30. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(भूगोलवेत्ता) (देश)
I. अलेक्जेंडर वॉन हम्बोल्ट A. फ्रांस
II. एलेन चर्चिल सेम्पल B. यू.के.
III. पीटर हैगेट C. अमरीका
IV. जीन बु्रन्स D. जर्मनी
कूट :
I II III IV
(1) D C B A
(2) C B A D
(3) B D C A
(4) A D C B
उत्तर-(a) : सूची का सुमेलन इस प्रकार है-
भूगोलवेत्ता देश
अलेक्जेण्डर वान हम्बोल्ट जर्मनी एलेन चर्चिल सेम्पल अमेरिका पीटर हैगेट यू. के.
जीन ब्रुन्स फ्रांस
31. जनसांख्यिकीय परिवर्तन में जनसंख्या वृद्धि के कितने चरण सम्मिलित हैं ?
(a) 3 (b) 4
(c) 5 (d) 6
उत्तर-(c) : जनसंख्यिकीय परिवर्तन में जनसंख्या वृद्धि के 5 चरण सम्मिलित है। जनांकिकीय संक्रमण सिद्धान्त का मूल प्रतिपादन थाम्पसन तथा नोटेस्टीन ने 1945 में किया था। उन्होंने पाश्चात्य विकसित देशों के विगत 200 वर्षों से जन्म दर और मृत्यु दर में होने वाले कालिक परिवर्तन की प्रवृत्ति को आधार बनाया और अपने सिद्धान्त का प्रतिपादन किया । नोटेस्टीन ने जनांकिकीय संक्रमण की 3 अवस्थाओं का वर्णन किया।
1. जनसंख्या में उच्च वृद्धि दर की अवस्था जिसमें जन्म दर तथा मृत्युदर उच्च होती है।
2. जनसंख्या में हासमान वृद्धि दर की अवस्था जिसमें जन्म दर में कमी के कारण वृद्धि दर में हास होता है।
3. जनसंख्या हास की अवस्था जिसमें जन्म दर पुन: स्थापना दर से नीचे होती है और मृत्युदर निम्न स्तर पर स्थिर हो जाती है।
32. भारत की जनगणना के अनुसार नगरीय बसावटों की कितनी श्रेणियाँ हैं ?
(a) 3 (b) 4
(c) 5 (d) 6
उत्तर-(d) : भारत की जनगणना के अनुसार नगरीय बसावटों की 6 श्रेणियाँ है।
33. निम्नलिखित मॉडलों में से कौन सा मानव परिस्थितिकी तंत्र के अध्ययन पर आधारित है ?
(a) बर्गेस और पार्क सन्केन्द्री क्षेत्र मॉडल
(b) वेबर का अवस्थिति मॉडल
(c) हैगरस्ट्रान्ड का नवाचार फैलाव मॉडल
(d) जेलिन्स्क्या का गतिशीलता संक्रमण मॉडल
उत्तर-(a) : उद्योगों के स्थानीकरण के सन्दर्भ में प्रतिपादन सिद्धान्तों में अल्फ्रैड बेबर’’ का प्रयास सर्वप्रथम है । अल्फ्रेड बेवर एक जर्मन अर्थशाध्Eाी थे जिन्होंने जर्मनी के प्राग विश्वविद्यालय से और हाइडेलबर्ग में शिक्षण कार्य किया था । वेबर प्रथम व्यक्ति थे जिन्होंने उद्योग के अवस्थिति का सिद्धान्त का प्रतिपादन किया जिसका प्रकाशन 1909 में जर्मन भाषा में लिखित पुस्तक अबर डेन स्टान्डोर्ट डर इन्डस्ट्रियन में प्रकाशित हुआ इसके अंग्रेजी अनुवाद का प्रकाशन 20 वर्ष पश्चात् 1929 में theory of Location of Industries शीर्षक से हुआ
34. भारत का जनगणना के अनुसार 2001 और 2011 के बीच भारत में कुल जनसंख्या का लिंग अनुपात (प्रति 1000 पुरुष पर ध्Eाी) का अंतर था।
(a) 5 (b) 6
(c) 7 (d) 8
उत्तर-(c) : भारत की जनगणना के अनुसार 2001 ओर 2011 के बीच भारत में कुल जनसंख्या का लिंग अनुपात (प्रति 1000 पुरूष पर ध्Eाी) के अन्तर 7 था। जनगणना 2011 के अन्तिम ऑकड़ो के अनुसार देश में लिंगानुपात (प्रति 1000 पुरुषों पर महिलाओं की संख्या) 943 है । केरल में लिंगानुपात (1084) सर्वाधिक है। ग्रामीण क्षेत्रों में लिंगानुपात 949 तथा शहरी क्षेत्रों में 929 है।
35. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(बसावट का वितरण) (प्रतिरूप)
A. पूर्ण एक समान
B. संहत
C. यादृच्छिक
D. एक समान
कूट :
I II III IV
(1) B C A D
(2) B C D A
(3) B A D C
(4) A B C D
उत्तर-(b) : विकल्प b बसावट वितरण का सही प्रतिरूप है।
36. भारत की जनगणना (2011) के अनुसार निम्नलिखित किस संघ राज्य क्षेत्र में जनसंख्या का अधिकतम घनत्व पाया जाता है।
(a) अंडमान और निकोबार प्रायद्वीप
(b) लक्षद्वीप
(c) दादरा और नगर हवेली
(d) दमन और दीव
उत्तर-(d) : भारत की जनगण्ना 2011 के अनुसार दमन और दीव संघ राज्य क्षेत्र में जनसंख्या का अधिकतम घनत्व पाया जाता है। जनगणना 2011 के अन्तिम आँकड़ों के अनुसार देश में जनसंख्या घनत्व 382 है जो 2001 से 57 अधिक है। सभी राज्यों/संघीय क्षेत्रों में दिल्ली (11320) का जनसंख्या घनत्व सर्वाधिक है जबकि राज्यों में इस सन्दर्भ में पश्चिम बंगाल को पीछे छोड़ते हुए बिहार (1106) शीर्ष पर पहुॅच गया है। न्यूनतम जनसंख्या घनत्व अरूणाचल प्रदेश (17) है।
37. 2011 की जनगणना के अनुसार‚ भारत की साक्षरता दर (%) वर्ष 2011 के कितनी दर्ज की गई थी ?
(a) 80 (b) 78
(c) 76 (d) 74
उत्तर-(d) : 2011 की जनगणना के अनुसार‚ भारत की साक्षरता दर % वर्ष 2011 में 74% दर्ज की गयी थी। जनगणना 2011 के अन्तिम आँकड़ों के अनुसार देश में साक्षरों की संख्या 763.5 मिलियन है जिसमें 56.9% पुरूष तथा 43% महिलाएँ है। सर्वाधिक साक्षरता वाले 5 राज्य निम्न है। केरल > मिजोरम > गोवा > त्रिपुरा > हिमाचल प्रदेश
38. दो प्रतिस्पर्धी फर्मों A और B के बाजार क्षेत्र जहाँ मालभाड़ा समान है के बीच सीमा के विचलन के दिए गए आरेख में आदान मूल्य चर की निम्नलिखित कौन सी शर्त लागू है ?
(


उत्तर-(a) :
दो प्रतिस्पर्धी फर्मों A तथा B बाजार क्षेत्र जहाँ मालभाड़ा समान है‚ के बीच सीमा के विचलन के दिए गये आरेख में आदान मूल्य चर AP> BPकी लागू होगी।
39. औद्योगिक दृश्य भूमि में स्थान के ऊपर आदान लागत वक्र की प्रकृति हो जाती है।
(a) उत्तल (b) अवतल
(c) रैखिक (d) ‘U’ आकृति
उत्तर-(d) : ‘U’ आकृति औद्योगिक दृश्य भूमि में स्थान के ऊपर आदान-लागत वक्र की प्रकृति की हो जाती है।
40. निम्नलिखित लेखकों में से किसने ‘लोकेशनल एनालिसिस इन ह्यूमन ज्यॉग्रफी’ नामक पुस्तक लिखी?
(a) पी. हैगेट (b) टी. हैगरस्ट्रान्ड
(c) पी. हॉल (d) डी. गेग्ररी
उत्तर-(a) : ‘लोकेशनल एनालिसिस इन हयुमन ज्यॉग्राफी’ नामक पुस्तक पी. हैगेट द्वारा लिखी गयी है। पीटर हैगेट 20वीं शताब्दी के ब्रिटिश भूगोलवेत्ता थे‚ तथा इनको ब्रिटेन में भूगोल में परिमाणात्मक क्रान्ति‚ सांख्यिकीय एवं गणितीय विधियों के उपयोग को प्रारम्भ करने का श्रेय प्राप्त है। इनकी प्रमुख कृतियाँ निम्न है-
1. मॉडल्स इन ज्योग्राफी
2. शोसियों इकनोमिक मॉडल्स इन ज्योग्राफी
3. फ्रब्ट्रियर्स इन ज्योग्राफिकल टींचिंग
4. इन्टिग्रेटिड माँडल्स इन ज्योग्राफी
41. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक अभिकथन (A) और दूसरा तर्क (R) है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर दीजिए।
अभिकथन (A) :
इस शताब्दी में नगरीकरण एक परिभाषित परिदृश्य है और विकासशील देश इस परिवर्तित प्रक्रिया का मुख्य बिन्दु है। तर्क (R) : विकासशील देशों के महानगरों में नगरीय विस्थापन का मुख्य कारण पिछले कुछ दशकों में तीव्र वृद्धिदर है।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सहीं हैं और (R),(A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सहीं हैं किंतु (R),(A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सहीं है‚ किंतु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ किंतु (R) सही है।
उत्तर-(c) : इस शताब्दी में नगरीकरण एक परिभाषित परिदृश्य है और विकासशील देश इस परिवर्तित प्रक्रिया का मुख्य बिन्दु है। यह कथन सत्य है जबकि प्रश्नगत तर्क गलत है क्योंकि महानगरों में नगरीय विस्थापन का प्रमुख कारण तीव्र वृद्धि दर नहीं है बल्कि नगरों में प्राप्त होने वाला रोजगार तथा अत्याधुनिक सुविधाये है।
42. नोमोथेटिक उपागम भूगोल में किससे सम्बन्धित है?
(a) इन्डक्शन अध्ययन
(b) इडियोग्राफिक अध्ययन
(c) नियम निर्माण अध्ययन
(d) आनुभविक अध्ययन
उत्तर-(c) : नोमोथेटिक अप्रोज विधि निर्माण के अध्ययन पर बल देता है‚ इसका प्रयोग भूगोल में व्यक्तित्व और मनोवैज्ञानिक अनुसंधान के लिए एक दृष्टिकोण जिसमें एक व्यक्ति को अपनी स्वयं की विशिष्ट विशिष्टता के बजाय सिद्धांत या मानदंडों के संबंध में समझा जाता है।
43. औद्योगिक दृश्यभूमि में स्थानिक प्रक्रिया के इष्टतम करण के अल्फ्रेड वेबर का उपागम किसकी खोज की दिशा में है ?
(a) अधिकतम राजस्व अवस्थित
(b) अंतिम परिवहन लागत अवस्थिति
(c) आदान माँग का एकरूपता
(d) संयंत्र राजस्व की एकरूपता
उत्तर-(b) : औद्योगिक दृश्यभूमि में स्थानिक प्रक्रिया के इष्टतमकरण के अल्फ्रेड बेवर का उपागम अन्तिम परिवहन लागत अवस्थिति की दिशा में है। अल्फ्रेड वेबर ने अपने औद्योगिक अवस्थिति सिद्धान्त में समान परिवहन लागत की प्रदर्शित करने वाली रेखा को आइसोडापेन की संज्ञा दी। इसके अलावा वेबर ने अपनी सिद्धान्त में विशिष्ट शब्दावलियों का प्रयोग किया जो निम्न हैसर्व सुलभ पदाथर्-जो पदाथर् विश्व में प्राय: सभी क्षेत्रों में न्यूनाधिक मात्रा में उपलब्ध हो। स्थानीय पदार्थ– ऐसे पदार्थ जो कुछ विशिष्ट स्थान या क्षेत्र में ही पाये जाते है जैसे कोयला‚ पेट्रोल आदि । शुद्ध पदार्थ– ऐसे पदार्थ जिनका भार उत्पादन प्रक्रिया में घटता नहीं हैं
44. भूमध्यसागरीय प्रदेश के लोगों का प्रमुख व्यवसाय है:
(a) चलवासी पशुचारण
(b) पशुधन संवर्धन
(c) उष्णकटिबंधीय फसलों को उगाना
(d) अन्न और फलों को उगाना
उत्तर-(d) : भूमध्यसागरीय क्षेत्रों में लोगों का मुख्य व्यवसाय अन्न और फलों को उगाना है। भूमध्यसागरीय प्रकार की जलवायु विषुवत रेखा के दोनेां तरफ 300-450अक्षांशों के मध्य महाद्वीपों के पश्चिम भाम में पाया जाता है। इस प्रकार की जलवायु का सबसे वृहद विस्तार भूमध्यसागर के चारों ओर के क्षेत्रों में पाया जाता है। इन प्रदेशों में वर्षा का अधिकांश लाभ शीत ऋतु में प्राप्त होता है जबकि ग्रीष्म ऋतु शुष्क पायी जाती है। यहाँ की औसत वार्षिक वर्षा 50-
100cm के मध्य होती है । यह जलवायु प्रदेश रसदार फलों जैसें अंगूर‚ नींबू‚ संतरा‚ मेवा तथा शराब के लिए प्रसिद्ध है।
45. तपोवन एवं विष्णुगढ़ जलविद्युत परियोजनाएँ कहाँ स्थित हैं ?
(a) उत्तर प्रदेश (b) मध्य प्रदेश
(c) उत्तराखण्ड (d) झारखण्ड
उत्तर-(c) : तपोवन तथा विष्णुगढ़ जल विद्युत परियोजनाएँ
उत्तराखण्ड में पायी जाती है। प्रश्नगत दिये गये राज्यों की प्रमुख बहुउद्देशीय परियोजनाएँराज्य बहुउद्देशीय परियोजनाएं मध्य प्रदेश तवा‚ चम्बल ‚ बार्गी उ.प्र. रिहन्द‚ माताटीला
46. अमरीका का कौन सा राज्य वसंत के मौसम में गेहूँ उगाता है ?
(a) उत्तर डकोटा (b) टेक्सास
(c) नेब्रास्का (d) कैलिफोर्निया
उत्तर-(a)
Ans : (
a) अमरीका का उत्तर डकोटा राज्य बसन्त के मौसम में गेहूँ उगाता है। संयुक्त राज्य अमेरिका विश्व का चौथा प्रमुख गेहूँ उत्पादक देश है। प्रेयरी प्रदेश गेहूँ उत्पादन में विश्व प्रसिद्ध है यहाँ बसन्तकालीन मुलायम गेहूँ उत्पादन अत्यधिक होता है। U.S.A की 28% भूमि पर शीतकालीन चिमड़ा गेहूँ पैदा किया जाता है। मिसीसीपी नदी के पूर्व स्थित राज्यों में नरम गेहूँ पैदा किया जाता है। कैलीफोर्निया में भी सिचाई की सुविधा के कारण शीतकालीन गेहूँ उत्पादित किया जाता है। सैनफ्रांसिस्को प्रमुख गेहूँ निर्यातक केन्द्र है।
47. भूराजनीति शब्द किसने प्रचलित है ?
(a) स्पाईकमैन (b) मैकिन्डर
(c) जेलिन (d) हॉशोफर
उत्तर-(c) : भूराजनीति शब्द स्वीडिश भूगोलवेत्ता एडोल्फ जेलिन द्वारा प्रचलित किया गया था। जेलिन ने अपने पुस्तक States sons life form में राज्य के पाँच अंग इस प्रकार वर्णित किए। शासकीय संरचना जनसांख्यिकीय संरचना सामाजिक संरचना आर्थिक संरचना प्राकृतिक संरचना
48. जनजातीय कल्याण समिति (1952) ने भारतीय जनजातियों को कितने श्रेणियों में वर्गीकृत किया है?
(a) 5 (b) 4
(c) 3 (d) 2
उत्तर-(b) : जनजातीय कल्याण समिति (1952) ने भारतीय जनजातियों को 4 श्रेणियों में वर्गीकृत किया है।
49. हॉटेन्टॉस हैं:
(a) भूरे रंग के श्रीलंका के नेग्रिटॉस
(b) दक्षिण-पश्चिम अफ्रीका के पीले चर्म रंग के लोग
(c) पूर्वी अफ्रीका के नेग्रिटॉस
(d) कांगो बेसिन के पिग्मि
उत्तर-(c) : हन्टेन्टॉस पूर्वी अफ्रीका के नेग्रिटास है। हान्टेन्टास जनजाति अफ्रीका महाद्वीप में बोत्सवाना‚ नामीबिया तथा दक्षिण अफ्रीका के उत्तरी भागों में पायी जाती है। अफ्रीका महाद्वीप एशिया के बाद विश्व का दूसरा सबसे बड़ा महाद्वीप है जो संसार के 20.4 % क्षेत्रफल पर फैला हुआ है। यह एक मात्र ऐसा महाद्वीप है जो चारों गोलर्द्धो में फैला हुआ है। तथा मात्र अफ्रीका महाद्वीप में ही कर्क रेखा‚ मकर रेखा तथा विषुवत रेख गुजरती है।
50. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(ऊर्जा के दोत) (स्थान)
I. भूतापीय A. खम्भात
II. पवन B. कैगा
III. समुद्री लहरें C. मनिकरण
IV. नाभिकी B. विजिंझम
कूट :
I II III IV
(1) B A C D
(2) D C B A
(3) C A D B
(4) A C B D
उत्तर-(c) : उर्जा के दोत स्थान भूतापीय मनिकरण पवन खम्भात समुद्री लहरे विंजिझम नाभिकीय कैगा
51. निम्नलिखित में से किस लेखक ने समष्टि भूगोल के क्षेत्र के सृजन के लिए सामाजिक भौतिकी के सिद्धान्त का विकास किया ?
(a) स्टीवर्ट और वार्न्ट्ज (b) जैकसन और स्मिथ
(c) शेवकि और बेल (d) जोन्स और आइल्स
उत्तर-(a) : स्टीवर्ट और वार्न्ट्ज ने समष्टि भूगोल के क्षेत्र के सृजन के लिए सामाजिक भौतिकी के सिद्धान्त का विकास किया ।
52. किसने सांस्कृतिक भूगोल को ‘‘जो मानवीय संस्कृतियों पर बल देता है और जिसे सामान्य रूप से मानव भूगोल के समतुल्य माना जाता है’’ के रूप में परिभाषा की है ?
(a) जॉन आइल्स (b) एम्रिस जोन्स
(c) डडले स्टैम्प (d) एश्रफ शेवकी
उत्तर-(c) : डडले स्टैम्प ने सांस्कृतिक भूगोल को ‘‘जो मानवीय संस्कृतियों पर बल देता है और जिसे सामान्य रूप से मानव भूगोल के समतुल्य माना जाना है ‘‘के रूप मे परिभाषा की है। डडले स्टाम्प की प्रमुख कृतियाँ निम्न है –
1. ब्रिटेन की भूमि : इसका उपयोग तथा दुरूपयोग
2. ब्रिटिश द्वीप : भौगोलिक तथा आर्थिक सर्वेक्षण
3. जीवन तथा मृत्यु का भूगोल स्टाम्प ने ब्रिटेन में चिकित्सा भूगोल की नींव रखी।
53. एडवर्ड एल. उलमैन का 1957 का स्थानिक अन्तर्किया और क्षेत्रीय आर्थिक संरचना का अध्ययन करने के लिए वस्तु प्रवाह संबंधी अध्ययन किस देश की अर्थव्यवस्था पर आधारित था ?
(a) यूरोप (b) अमरीका
(c) यू.के. (d) ऑस्टे्रलिया
उत्तर-(b) : एडवर्ड एल. उलमैन का 1957 का स्थानिक अन्तक्रिया और क्षेत्रीय आर्थिक संरचना का अध्ययन करने के लिए वस्तु प्रवाह सम्बन्धी अध्ययन अमेरिका देश की अर्थव्यवस्था पर आधारित था।
54. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(भूगोलवेत्ता) (सिद्धान्त/मॉडल/अवधारणा)
I. जे. ग्रोथमेन A. संकेन्द्री क्षेत्र सिद्धान्त
II. ई. बर्गेस B. प्रमुख शहर
III. एम. जेफरसन C. बहुकेन्द्रक मॉडल
IV. सी. हैरिस और ई. उलमैन B. विश्वनगरी
कूट :
I II III IV
(a) A D C B
(b) B A D C
(c) C B A D
(d) D A B C
उत्तर-(d) : भूगोलवेत्ता अवधारणा
जे. ग्रोथमैन विश्वनगरी
ई. बर्गेस संकेन्द्री क्षेत्र सिद्धान्त
एम. जेफरसन प्रमुख शहर
सी. हैरिस और ई. उलमैन-बहुकेन्द्रक मॉडल
55. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(वर्ष) (पुस्तक)
I. 1826 A. थ्योरी ऑफ द लोकेशन ऑफ इंडस्ट्रीज
II. 1966 B. द इकोनॉमिक्स ऑफ लोकेशन
III. 1954 C. द आइसोलेटेड स्टेट
IV. 1909 B. सेंट्रल प्लेसेस इन साउदर्न जर्मनी
कूट :
I II III IV
(1) B D C A
(2) C D B A
(3) A C B D
(4) C B A D
उत्तर-(b) : वर्ष पुस्तक 1826 द आइसोलेटेड स्टेट 1966 सेंट्रल प्लेसेस इन साउदर्न जर्मनी 1954 द इकोनॉमिक्स आफ लोकेशन 1909 थ्योरी आफ द लोकेशन आफ इंडस्ट्रीज
56. निम्नलिखित में से कौन-सा केन्द्रीय स्थान सिद्धान्त के अनुरूप नहीं है ?
(a) केन्द्रीय स्थान एक बसावट है जो इसकी पश्चभूमि की जनसंख्या के लिए सेवाएँ उपलब्ध कराता हैं
(b) अनुक्रम और नीडन प्रतिरूप के परिणामस्वरूप केन्द्रीय स्थानों पर अधिकतम संख्या होती है।
(c) सर्वव्यापकता और स्थानिक कच्चा माल
(d) विभिन्न वस्तुओं के लिए बाजार क्षेत्र षड्भुज के जाल के सादृश्य होते हैं।
उत्तर-(c) : केन्द्रीय स्थान सिद्धान्त सर्वव्यापकता और स्थानिक कच्चे माल के अनुरूप नहीं है। सर्वप्रथम जर्मनी भूगोलवेत्ता वाल्टर क्रिस्टालर ने दक्षिण जर्मनी के अधिवासों का अध्ययन कर 1933 केन्द्र स्थल सिद्धान्त प्रतिपादित किया। क्रिस्टॉलर के सिद्धान्त को निश्चयवादी माना जाता है। इस सिद्धान्त में मात्रात्मक उपागम तथा तन्त्र विश्लेषण की संकल्पना सनिहित है। केन्द्र स्थल वह स्थान है जहॉ जनसंख्या का समूहन होता है तथा यहाँ पर दुकानों एवं व्यापार एवं सेवाओं का संग्रह होता है। केन्द्र स्थल का मूल कार्य अपने चारो ओर के क्षेत्र को वस्तुएँ एवं सेवाएँ प्रदान करना है।
57. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- I
(पद) (विवरण)
I. भौतिक सूचकांक A. इकाई के अवस्थितिक भार की तुलना में उस इकाई के उत्पाद की प्रति इकाई श्रम लागत व अनुपात
II. आइसोडापेनस B. उद्योग के केन्द्रीकरण के कारण उत्पादन लाभ
III. श्रम गुणांक C. स्थानीकृत सामग्री का भार और उत्पाद का भार
IV. समूह B. प्रति टन समान परिवहन लागत की रेखाएँ
कूट :
I II III IV
(1) C D A B
(2) D C B A
(3) D B C A
(4) B D A C
उत्तर-(a) : पद विवरण भौतिक सूचकांक स्थानीकृत सामग्री का भार और उत्पाद का भार आइसोडापेन प्रति टन समान परिवहन लागत की रेखाएँ श्रम गुणांक इकाई के अवस्थितिक भार की तुलना में उस इकाई के उत्पाद की प्रति इकाई श्रम लागत का अनुपात समूह उद्योग के केन्द्रीकरण के कारण उत्पादन का लाभ
58. नोड क्षेत्र राज्यों की पहचान में गुरूत्व सिद्धान्त की दो भौगोलिक बिन्दुओं के बीच अन्तर्क्रिया प्रत्यक्ष रूप से संबंधित है उनकी
(a) दूरी से (b) द्रव्यमान से
(c) बसावट के आकार से (d)परिवहन के साधन से
उत्तर-(b) : नोड क्षेत्र राज्यों की पहचान में गुरूत्व सिद्धान्त की दो भौगोलिक बिन्दुओं के बीच अन्तर्क्रिया प्रत्यक्ष रूप में द्रव्यमान से सम्बन्धित हैं।
59. निम्नलिखित में से बस्तर प्रदेश में कौन सा स्थित है?
(a) डांडेली वन्यजीव अभ्यारण्य
(b) राजाजी राष्ट्रीय उद्यान
(c) बान्धवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान
(d) इन्द्रावती राष्ट्रीय उद्यान
उत्तर-(d) : अभ्यारण्य/उद्यान राज्य डान्डेली वन्यजीव अभ्यारण्य कर्नाटक राजाजी राष्ट्रीय उद्यान उत्तराखण्ड बान्घवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान मध्यप्रदेश इन्द्रावती राष्ट्रीय उद्यान बस्तर प्रदेश
60. निम्नलिखित में से किसने इस अवधारणा को औपचारिक रूप दिया कि स्थानिक संगठन और राष्ट्रीय विकास के संबंध में रहता है ?
(a) कुकलिंस्क (b) डिकेन्स
(c) फ्रीडमैन (d) लुटेन
उत्तर-(c) : फ्रीडमैन ने इस अवधारणा को औपचारिक रूप दिया कि स्थानिक संगठन और राष्ट्रीय विकास के सम्बन्ध रहता है। फ्रीडमैन के केन्द्र परिधि मॉडल में केन्द्र तथा परिधि के सम्बन्ध ही इस तरह के होते है कि केन्द्र अमीर होता जाता है तथा परिधि गरीब। यू.के. के भूगोलवेत्ता पीटर डिकेन्स की प्रमुख Books निम्न है- (1) Global shift
(2) Location in space
61. किसने ’’ग्रोथ पोल एण्ड ग्रोथ सेंटर्स फोर रीजनल इकोनोमिक डेवलपमेंट इन इंडिया’’नामक पुस्तक लिखी ?
(a) मिश्रा‚ राव सुन्दरम्
(b) सुन्दरम् और टी.बी. लाहिड़ी
(c) सेन और वनमाली
(d) सदास्युक और सेनगुप्त
उत्तर-(a) : मिश्रा‚ राव और सुन्दरम ने ‘‘ग्रोथ पोल एण्ड ग्रोथ सेंटरर्स फोर रीजनल इकोनोमिक डेवलपमेन्ट इन इण्डिया’’ नामक पुस्तक लिखी। प्रो. आर पी. मिश्रा‚ के वी सुन्दरम और वी. एल.
एस. प्रकाशराव ने भारत के नियोजन प्रदेशों का निर्धारण करते हुए यह स्पष्ट किया है कि प्रादेशिक नियोजन विभिन्न वर्ग के प्रदेशों के सन्दर्भ में राष्ट्रीय नियोजन के उद्देश्यों को पूरा करने का प्रयास है इसलिए कोई भी नियोजन प्रदेश आर्थिक विकास सामाजिक न्याय और पर्यावरण पक्ष जैसे उद्देश्यों की पूरा करने में समर्थ होना चाहिए। 1967 में पी. सेन गुप्ता ने भारत को 7 वृहत आकार तथा 42 मध्यम आकार तथा कई लघु प्रदेशों में विभाजित किया।
62. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- II
(फसल) (मुख्य उत्पादक)
I. मँूगफली A. कर्नाटक
II. जौ B. उत्तर प्रदेश
III. चावल C. गुजरात
IV. रागी B. पं. बंगाल
कूट :
I II III IV
(1) C B D A
(2) B D A C
(3) D A B C
(4) A C B D
उत्तर-(a) : फसल मुख्य उत्पादक मूँगफली गुजरात जौ उत्तर प्रदेश चावल पश्चिम बंगाल रागी कर्नाटक
63. भारत में प्राचीनतम चट्टानें कहाँ पाई जाती हैं ?
(a) शिवालिक शृंखला
(b) अरावली शृंखला
(c) धारवाड़ क्षेत्र
(d) विन्ध्यन शृंखला
उत्तर-(b) : अरावली शृंखला में भारत की सबसे प्राचीनतम चट्टाने पाई जाती है जबकि शिवालिक शृंखला‚ हिमालय की सबसे नवीनतम शृंखला है। इसका विस्तार पोतवार बेसिन के दक्षिण से आरम्भ होकर पूर्व की ओर कोसी नदी तक अर्थात 870पूर्वीं देशान्तर तक है। यह शृंखला 15 से 30 किमी. तक चौड़ी है । इसकी औसत ऊचाई 900 से 1200 मी. से बीच है। इसका निर्माण काल मध्य मायोसीन से निम्न प्लीस्टोसीन काल तक माना जाता है। यह बालू‚ कंकड़ एवं काग्लोमेरेट की मोटी असंगठित पर्तो से निर्मित श्रंृखला हैं इस कारण शिवालिक श्रंृखला का सबसे ज्यादा अपरदन हुआ है।
64. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- II
(दर्रा) (राज्य)
I. शिपकी ला A. अरुणाचल प्रदेश
II. नीति B. हिमाचल प्रदेश
III. नाथु ला C. उत्तराखण्ड
IV. बॉमडी ला B. सिक्किम
कूट :
I II III IV
(1) A B C D
(2) C A B D
(3) B C D A
(4) D B A C
उत्तर-(c) : दर्रा राज्य शिपकीला हिमाचल प्रदेश नीति उत्तराखण्ड नाथुला सिक्किम बॉमडीला अरूणाचल प्रदेश
65. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक अभिकथन (A) और दूसरा तर्क (R) है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर दीजिए।
अभिकथन (A) :
भारत एक बहुधार्मिक और बहुजातीय समाज है। तर्क (R) : भारतीय संविधान सभी नागरिकों को व्यक्तिगत एवं सामूहिक रूप से धर्म‚ प्रजाति‚ जाति‚ लिंग व जन्म स्थान के आधार पर कोई भेदभाव नहीं करता है।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सहीं हैं और (R),(A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सहीं हैं किंतु (R),(A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सहीं है‚ किंतु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ किंतु (R) सही है।
उत्तर-(b) : भारत एक बहुधार्मिक और बहुजातीय समाज है‚ यह कथन सत्य है भारतीय संविधान सभी नागरिकों को व्यक्तिगत एवं सामूहिक रूप से धर्म‚ प्रजाति‚ जाति‚ लिंग व जन्म स्थान के आधार पर कोई भेदभाव नहीं करता है‚ सत्य है‚ परन्तु कथन की व्याख्या नहीं कर रहा है।
66. भारत प्रायद्वीप की पूर्व की ओर बहने वाली नदियों का उत्तर से दक्षिण की ओर सही क्रम क्या है ?
(a) स्वर्णरेखा‚ कृष्णा‚ महानदी‚ गोदावरी‚ कावेरी वैगाई‚ पेनार
(b) स्वर्णरेखा‚ महानदी‚ गोदावरी‚ कृष्णा‚ पेनार‚ कावेरी‚ वैगाई
(c) महानदी‚ गोदावरी‚ स्वर्णरेखा‚ कृष्णा‚ कावेरी‚ वैगाई पेनार
(d) गोदावरी‚ स्वर्णरेखा‚ कृष्णा‚ पेनार‚ वैगाई‚ कावेरी‚ महानदी
उत्तर-(b) : भारतीय प्रायद्वीप की पूर्व की ओर बहने वाली नदियों का उत्तर से दक्षिण की ओर सही क्रम निम्न हैस्वर्ण रेखा ↓ महानदी ↓ कृष्णा ↓ पेनार ↓ कावेरी ↓ वैगाई स्वर्णरेखा – झारखण्ड में प्रवाहित होते हुए स्वतन्त्र रूप में बंगाल की खाड़ी में अपना मुहाना बनाती है। महानदी – यह नदी छत्तीसगढ़ में रायपुर के समीप सिंहावा नामक स्थान से निकलकर पूर्व एवं दक्षिण पूर्व दिशा में बहते हुए उड़ीसा में कटक के निकट कई वितरिकाओं में विभाजित होते हुए डेल्टा का निर्माण करती है‚ जहाँ इसका निकास बंगाल की खाड़ी में होता है। इसकी प्रमुख सहायक नदियों शिवानाथ‚ हसदो‚ मन्द‚ सोन्दूर‚ ओंग व तेल महत्वपूर्ण है । इस नदी पर हीराकुण्ड‚ टीकरापारा एवं नराज जैसी बहुउ्देशीय परियोजना स्थित है।
67. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची-II
(भूमि प्रयोग/भूमि (परम्परागत मानचित्र आच्छादन प्रकार) रंग प्रतीक
I. वन A. पीला
II. कृषि क्षेत्र B. लाल
III. अकृष्ट भूमि C. गहरा हरा
IV. निर्मित क्षेत्र B. भूरा
कूट :
I II III IV
(1) C A D B
(2) D C B A
(3) A D B C
(4) C A B D
उत्तर-(d) : भूमि प्रयोग परम्परागत मानचित्र रंग प्रतीक वन गहरा हरा कृषि क्षेत्र पीला आकृष्ट भूमि लाल निर्मित क्षेत्र भूरा
68. निम्नलिखित में से कौन सा ‘सिस्टम’ वेक्टर और रास्टर आँकड़ों के लिए प्रयुक्त होता है ।
(a) सुदूरी संवेदी प्रणाली
(b) भौगोलिक सूचना प्रणाली
(c) वैश्विक स्थिति निर्धारण प्रणाली
(d) (1) और (2) दोनों
उत्तर-(b) : भौगोलिक सूचना प्रणाली सिस्टम वेक्टर और रास्टर ऑकडों के लिए प्रयुक्त होता है। भौगोलिक सूचना तन्त्र एक ऐसा तन्त्र है जो संगणक पर आधारित है। इससे भू-सन्दर्भित बहुचर आँकड़ों का संस्करण तथा विश्लेषण किया जाता है। इससे संचित भौगोलिक आँकड़ों‚ मानचित्रों तथा आँकडा आधार प्राप्त करने की सुविधा उपलब्ध हो जाती है भौगोलिक सूचना तन्त्र से वन क्षेत्रों‚ प्रमुख सड़कों तथा प्रशासनिक सीमाओं को दर्शाना आसान हो जाता है। भूमि सूचना प्रणाली तथा पर्यावरणीय सूचना प्रणाली भौगोलिक सूचना तन्त्र के प्रमुख उदाहरण है।
69. निम्नलिखित में से कौन सा रैखिक लंबाई माप 10-6मीटर के भिन्नात्मक माप से निकाला जा सकता है?
(a) नैनोमीटर (b) माइक्रोमीटर
(c) मिलीमीटर (d) फेमटोमीटर
उत्तर-(b) : माइक्रोमीटर रैखिक लम्बाई माप 10 -6 मीटर के भिन्नात्मक माप से निकाला जा सकता है ä।
70. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए :
सूची- I सूची- II
(विद्युत चुम्बकीय (तरंग लंबाई (माइक्रोन) विकिरण पेटी)
I. दृष्टिगोचर A. 0.8-1.1
II. पराबैगनी B. 10.0-12.5
III. अवरक्त C. 0.3-0.4
IV. तापीय B. 0.4-0.7
कूट :
I II III IV
(1) B A D C
(2) A B C D
(3) D C A B
(4) C D B A
उत्तर-(c) :
विद्युत चुम्बकीय तरंग लम्बाई (माइक्रोन) विकिरण पेटी
दृष्टिगोचर 0.4-0.7 पराबैगनी 0.3-0.4 अवरक्त 0.8-1.1 तापीय 10.0-12.5
71. किसी क्षेत्र में बड़े मध्यम‚ लघु और सीमान्त किसानों के बीच जीवन स्तर का अध्ययन करने के लिए कौन सी प्रतिदर्शी तकनीक अधिक उपयुक्त होगी ?
(a) यादृच्छिक प्रतिदर्श
(b) स्तरीकृत यादृच्छिक प्रतिदर्शी
(c) अवसर प्रतिदर्शी
(d) बहुचरण प्रतिदर्शी
उत्तर-(b) : किसी क्षेत्र में बड़े‚ मध्यम‚ लघु और सीमान्त किसानों के बीच जीवन स्तर का अध्ययन करने के लिए स्तरीकृत यादृच्छिक प्रतिदर्शी तकनीकी अधिक उपयुक्त होगी।
72. निम्नलिखित में से कौन गैर-मात्रात्मक क्षेत्रीय वितरण मानचित्र है ?
(a) वर्णमात्री (b) सममान
(c) बहुबिंदु (d) वर्ण प्रतीकी
उत्तर-(d) : वर्ण प्रतीकी गैर-मात्रात्मक क्षेत्रीय विवरण मानचित्र हैं प्रतीक या चिहनों की सहायता से विवरण प्रदर्शित करने की विधि को वर्ण प्रतीकी या प्रतीक विधि कहते है इस विधि में जिन वस्तुओं का विवरण दिखलाना होता है उन सबसे अलग-अलग चिहन या प्रतीक चिन्ह निश्चित करके उन्हे मानचित्र में यथास्थान अंकित कर देते है। मानचित्र में प्रयोग किये गये प्रत्येक प्रतीक का संकेत में अर्थ लिखना आवश्यक होता है। वर्ण प्रतीकी मानचित्र में प्रतीकों के आकार व आकृति एक समान होनी चाहिए।
73. सूची-I और सूची- II को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूटों से सही उत्तर चुनिए

कूट :
I II III IV
(1) C D A B
(2) D C A B
(3) C D B A
(4) A B C D
उत्तर-(c) : विकल्प C का कूट सही सुमेलित है।
74. निम्नलिखित कौन सा समीकरण माध्य की सही-सही गणितीय विशेषता का प्रतिनिधित्व करता है ?


उत्तर-(b) :

75. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक अभिकथन (A) और दूसरा तर्क (R) है। नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर दीजिए।
अभिकथन (A) :
यादृच्छिक संख्या द्वारा क्षेत्र प्रतिदर्शी के लिए अध्ययन के अंतर्गत ऐसे क्षेत्र की आवश्यकता होती है जिसे दो क्षेत्रों के अंदर समकोण पर जाल में होना चाहिए। तर्क (R) : क्षेत्र की पंक्ति और स्तम्भ के काट क्षेत्र में प्रेक्षण के प्रतिदर्श अवस्थितियाँ प्रदान करेंगे।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सहीं हैं और (R),(A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सहीं हैं किंतु (R),(A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सहीं है‚ किंतु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ किंतु (R) सही है।
उत्तर-(b) : यादृच्छिक संख्या द्वारा क्षेत्र प्रतिदर्शों के लिए अध्ययन के अन्तर्गत ऐसे क्षेत्र की आवश्यकता होती है जिसे दो क्षेत्रों के अन्दर समकोण पर जाल में होना चाहिए‚ यह कथन सत्य है।

Top
error: Content is protected !!