You are here
Home > Previous Papers > GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ नवम्बर- 2017 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल 004.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ नवम्बर- 2017 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल 004.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ नवम्बर- 2017 भूगोल व्याख्या सहित तृतीय प्रश्न-पत्र का हल

1. पदस्थली (पेडीप्लेन) की अवधारणा निम्नलिखित में से किस नाम के साथ सम्बन्धित है?
(a) डब्ल्यू. एम. डेविस (b) एल. सी. किंग
(c) डब्ल्यू. पेंक (d) सी. ए. कॉटन
उत्तर (b)- पदस्थली (पेडीप्लेन) की अवधारणा एल.सी. किंग से सम्बन्धित हैं डेविस महोदय ने 1899 में भौगोलिक चक्र की संकल्पना का प्रतिपादन किया था तथा बताया कि ‘‘स्थलखण्ड में समय के सन्दर्भ में क्रमिक परिवर्तन होता है। डेविस के अनुसार प्रत्येक स्थल एक अपरदन के चक्रिय रूप का प्रतिफल है। पेंक ने अपने अपरदन चक्र की व्याख्या करते हुए बताया कि स्थलखण्ड का विकास समय आधारित न होकर स्वतन्त्र होता है तथा स्थलखण्ड उत्थान की दर तथा अपरदन की दर का प्रतिफल होता है।
2. आनत शैली संस्तर पर क्षैतिज रेखा की दिशा को क्या कहते हैं?
(a) अपनति (b) नति
(c) अभिनति (d) नतिलंब
उत्तर (d)- आनत शैल संस्तर पर क्षैतिज रेखा की दिशा को नतिलम्ब कहते हैं। अपनति- अन्तर्जात बल के कारण क्षैतिज संचलन द्वारा चट्टानों के स्तरों में सिकुड़न के कारण उत्पन्न वलन का जो भाग ऊपर उठ जाता है उसे अपनति कहते हैं। अभिनति- क्षैतिज संचलन द्वारा उत्पन्न वलन का जो भाग नीचे मुड़कर धंस जाता है उसे अभिनति कहते हैं। नति- परतदार या रूपान्तरित चट्टानों के स्तर प्राय: क्षैतिज तल के सहारे कुछ अंश का कोण बनाते हुए क्षैतिज रेखा के साथ झुके रहते हैं इस तरह के झुकाव को स्तर का नति या डिप कहा जाता है।
3. ढलान प्रोफाइल‚ उत्थापन क्रिया की परिस्थितियों के अनुसार उत्तल‚ समतल अथवा मोड़दार होती है‚ यह किसने कहा है?
(a) पेंक (b) डेविस
(c) जॉनसन (d) वुड
उत्तर (a)- पेंक ने कहा है कि ढलान प्रोफाइल उत्थापन क्रिया की परिस्थितियों के अनुसार उत्तल‚ समतल तथा मोड़दार होती है।
4. ये धारणा कि वर्तमान प्रक्रियाएं समस्त भूवैज्ञानिक काल के दौरान क्रियाशील रहती हैं किस सिद्धान्त को संकेत करती है?
(a) समस्थिति
(b) पटल-विरूपण
(c) एकरूपतावाद
(d) विपद्वाद
उत्तर (c)- एकरूपतावाद का सिद्धान्त स्काटिश भूगोलवेत्ता जेम्स हटन द्वारा 1785 में प्रतिपादित किया गया था। उन्होंने बताया कि भूगर्भिक प्रक्रम‚ भूगर्भिक इतिहास के प्रत्येक काल में समान रूप से सक्रिय थे तथा इसी आधार पर प्रतिपादित किया कि वर्तमान भूत की वंâुजी है।
5. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(विद्वान) (सिद्धान्त)
(A) हॉल एवं डाना (i) समुद्र अधस्थल प्रसार
(B) हट्टन (ii) ऊष्मा संकुचन सिद्धान्त
(C) हेनरी हेस (iii) भू-अभिनति का सिद्धान्त
(D) जैफरे (iv) एकरूपतावाद का सिद्धान्त
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a)(i) (ii) (iv) (iii)
(b)(ii) (i) (iii) (iv)
(c)(iv) (ii) (i) (iii)
(d)(iii) (iv) (i) (ii)
उत्तर (d)विद्वान सिद्धान्त हॉल एवं डाना – भू अभिनति का सिद्धान्त हट्टन – एकरूपतावाद का सिद्धान्त हेनरी हेस – समुद्र अधस्थल प्रसार जैफरे – उष्मा संकुचन सिद्धान्त
6. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
ज्वालामुखीय गतिविधियों और पट्टिका
(प्लेट) के किनारे के बीच घनिष्ट सम्बन्ध है।
कारण (R) : विश्व के अधिकांश ज्वालामुखी अभिसारी पट्टिका उपान्त से सम्बन्धित हैं।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही है‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है।
उत्तर (a)- ज्वालामुखीय गतिविधियों और पटि्टका (प्लेट) के किनारे के बीच घनिष्ठ सम्बन्ध होता है। क्योंकि बिश्व के अधिकांश ज्वालामुखी अभिसारी पटि्टका उपान्त से सम्बन्धित है। अभिसारी प्लेट सीमान्त पर खाइयाँ होती हैं जिनसे होकर अभिसारी प्लेट सीमान्त का प्लेट का िfपघला हुआ पदार्थ पुन: बाहर निकलकर ज्वालामुखियों ज्वालामुखी शृंखलाओं तथा द्वीपीय चापों का रूप धारण कर लेता है।
7. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-I सूची-II
(स्थलाकृति) (भूआकृति)
(A) हिमनदीय (i) जलोढ पंखारूपी प्रसार
(B) समुद्री (ii) यारडांग
(C) नदीय (iii) अराटे
(D) वातोढ़ (iv) संयोजी भित्ति (टीम्बोलो)
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (ii) (i) (iii) (iv)
(b) (iv) (ii) (i) (iii)
(c) (iii) (iv) (ii) (i)
(d) (iii) (iv) (i) (ii)
उत्तर (d)स्थलावृ âति भूआकृति हिमनदीय – अराटे समुद्री – संयोजी भित्ति (टीम्बोलो) नदीय – जलोद पंखा रूपी प्रसार वातोढ़ – यारडांग
8. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(लेखक) (पुस्तक)
(A) जे. ए. स्टीयर्स (i) मॉरफोलॉजिकल एनालिसिस ऑफ लैंडफॉर्मस्
(B) एस. डब्ल्यू. (ii) प्रिंसीपल्स ऑफ वूलड्रिज जियोमॉरफॉलोजी
(C) वालदर पेंक (iii) अनस्टेबल अर्थ
(D) थोर्नबरी (iv) स्पिरिट एंड परपज ऑफ जिओग्रैफी
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (ii) (iii) (iv) (i)
(b) (i) (iv) (ii) (iii)
(c) (iv) (ii) (i) (iii)
(d) (iii) (iv) (i) (ii)
उत्तर (d)- जे.ए. स्टीयर्स – अनस्टेबल अर्थ एस.डब्ल्यू.वूलड्रिज – स्पिरिट एण्ड परपज आफ ज्योग्राफी वालदर पेक – मारफोलांजिकल एनालिसिस आफ लैंडफार्मस थोर्नबरी – प्रिंसीपलस ऑफ जियोमॉरफॉलीसी
9. मौसमी परिघटना के दौरान विशिष्ट सीमान्त भाग की सही औसत ढलान कौन सी होती है?
(a) 1 : 150 (b) 1 : 100
(c) 1 : 50 (d) 1 : 5
उत्तर (b)- मौसमी परिघटना के दौरान विशिष्ठ सीमान्त भाग का सही औसत ढलान 1: 100 है।
10. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(कांफ्रेंस/रिपोर्ट) (प्रकाशित वर्ष)
(A) यूनाइटेड स्टेट्स में वैश्विक (i) 2007 जलवायु बदलाव प्रभाव
(B) स्टॉकहोम कान्फ्रेंस (ii) 1992
(C) IPCC की चौथी आकलन (iii) 1972 रिपोर्ट
(D) रिओ सम्मेलन (iv) 2009
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (i) (ii) (iii) (iv)
(b) (ii) (i) (iii) (iv)
(c) (iv) (iii) (ii) (i)
(d) (iv) (iii) (i) (ii)
उत्तर (d)काँफ्रेंस/ रिपोर्ट प्रकाशित वर्ष यूनाइटेड स्टेट्स में वैश्विक जलवायु बदलाव प्रभाव 2009 स्टाकहोम कान्फ्रेंस 1972 IPCC की चौथी आकलन रिपोर्ट 2007 रियो सम्मेलन 1992
11. निम्नलिखित वायुमंडलीय परतों में से किस में तापमान स्थिर रहता है?
(a) समतापमंडल (b) क्षोभ सीमा
(c) मध्यवायुमंडल (d) क्षोभमंडल
उत्तर (b)- वायुमण्डलीय परतों में क्षोभसीमा में तापमान स्थिर रहता है। क्षोभमण्डल की ऊपरी सीमा को क्षोभ सीमा कहते है। यह बहुत पतली तथा अस्थायी परत है। इसकी मोटाई डेढ़ किमी. है। इस परत में वायुमण्डल के तापमान का गिरना बन्द हो जाता है। क्षोभमण्डल की हवाएँ तथा संवहनीय धाराएँ भी चलना बन्द कर देती हैं। यह निचले क्षोभमण्डल तथा उपरी समतापमण्डल को अलग करती है तथा इसमें दोनों ही परतों के गुण विद्यमान हैं।
12. भूमध्य रेखा से लेकर ध्रुवों तक दाब और पवन के सही सतही घटक क्रम निम्नलिखित में से कौन सा है?
(a) ध्रुवीय पुरवा हवा‚ पश्चिमी हवाएं‚ उपोष्ण उच्च दाब‚ व्यापारिक पवन
(b) उपोष्ण उच्च दाब‚ पश्चिमी हवाएं व्यापारिक पवन‚ धु्रवीय पुरवा हवा
(c) व्यापारिक पवन‚ धु्रवीय पुरवा हवा‚ पश्चिमी हवाएं‚ उपोष्ण उच्च दाब
(d) व्यापारिक पवन‚ उपोष्ण उच्च दाब‚ पश्चिमी हवाएं‚ धु्रवीय पुरवा हवा
उत्तर (d)- भूमध्य रेखा से लेकर ध्रुवों तक दाब और पवन के सतही घटक क्रम निम्नलिखित हैंधु्रवीय पुरवा हवा ↓पश्चिमी हवाएं ↓उपोष्ण उच्च दाब ↓व्यापारिक पवन
13. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A):
1000 मीटर की ऊँचाई से ऊपर अधिकांश पवन‚ भूविक्षेपी अथवा करीब-करीब भूविक्षेपी पथ पर चलती है।
कारण (R) : वायुमंडल की घर्षण परत जमीन से ऊपर लगभग 1000 मीटर तक ही रहती है।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही है‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है।
उत्तर (a)- धरातल से 1000 मी. की ऊँचाई तक ही वायुमण्डल की घर्षण परत पायी जाती है। इस परत में पवन अपने मार्ग से विक्षेपित हो जाती है इस तरह कथन एवं कारण दोनों सही है एवं कारण कथन की सही व्याख्या भी कर रहा है।
14. निम्नलिखित में से किस अधिकतम उष्ण महीने के औसत ताप को दर्शाने वाली समताप रेखा को सामान्यत: टुन्ड्रा जलवायु की भूमध्य रेखीय उपान्त की मान्यता प्राप्त है?
(a) 20C (b) 100C
(c) 50C (d) 150C
उत्तर (b)- 100C के अधिकतम उष्ण महीने के औसत तापमान को दर्शाने वाली समताप देखा को सामान्यत: टुण्ड्रा जलवायु की भूमध्य रेखीय उपान्त की मान्यता प्राप्त है। टुण्ड्रा जलवायु के प्रदेश उत्तरी गोलार्द्ध में 660 उत्तरी अक्षांश के उत्तर में पाये जाते हैं।
15. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A):
व्यापारिक पवनें प्रमुखतया पुरवा हवाएं होती हैं।
कारण (R) : पुरवा हवा पश्चिम से पूर्व की ओर प्रवाहित होती है।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही है‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है।
उत्तर (c)-व्यापारिक पवन प्रमुखतया पुरवा पवने कहलाती हैं इनकी दिशा कोरिआलिस बल के कारण उत्तरी गोलार्द्ध में उत्तर-पूर्वी एवं दक्षिणी गोलार्द्ध में दक्षिण पूर्वी दिशा में चलती है। इसी कारण इन्हें पुरवा पवने कही जाती है। इस तरह कथन सत्य जबकि कारण असत्य है।
16. कोपेन के विश्व जलवायु वर्गीकरण में BWh के लिए निम्नलिखित में से कौन से प्रकार का जलवायु उपयुक्त है?
(a) उपोष्ण मरुस्थल जलवायु
(b) उपोष्ण स्टेप जलवायु
(c) मध्य अक्षांश मरुस्थल जलवायु
(d) मध्य अक्षांश स्टेप जलवायु
उत्तर (a)- कोपेन के विश्व जलवायु वर्गीकरण के प्रकारों में Bhw प्रकार की जलवायु उपोषण मरुस्थल जलवायु से सम्बन्धित हैं इस जलवायु को ऊष्णकटिबंधीय शुष्क रेगिस्तानी या सहारा प्राकार की जलवायु भी कहा जाता है। कोपेन द्वारा प्रस्तुत वर्षा की अवधि को इंगित करने वाले संकेताक्षर F= वर्ष भर वर्षा s = अर्द्ध शुष्क या स्टेपी जलवायु S = ग्रीष्म काल शुष्क w = शीत काल शुष्क W = शुष्क जलवायु
17. उत्तरध्रुवीय और दक्षिणध्रुवीय समुद्रों के समुद्री जल के औसत हिमांक के लिए निम्नलिखित में से कौन सा तापमान सही है?
(a) 20C (b) 00C
(c) -20C (d) -100C
उत्तर (c)- उत्तर ध्रुवीय और दक्षिण ध्रुवीय समुद्रों के समुद्री जल के औसत हिमांक के लिए -20C तापमान सही है।
18. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(पट्टिका नाम) (गति की दिशा)
(A) इंडो ऑस्ट्रेलियाई पट्टिका (i) पूर्व
(B) कोकोस प्लेट (ii) पश्चिम
(C) प्रशान्त महासागरीय पट्टिका (iii) उत्तर
(D) नाज्का प्लेट (iv) उत्तर-पश्चिम
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (iii) (iv) (i) (ii)
(b) (iii) (iv) (ii) (i)
(c) (iii) (ii) (i) (iv)
(d) (i) (ii) (iii) (iv)
उत्तर (b)- सूची का सुमेलन इस प्रकार है-
(A) इण्डो – आस्ट्रेलियाई पट्टी – उत्तर दिशा
(B) कोकोस पट्टी – उत्तर- पश्चिम दिशा
(C) प्रशान्त महासागरीय पटि्टका – पश्चिम दिशा
(D) नाज्का प्लेट- पूर्व दिशा
19. वो कौन सा युग था जब विश्व भर में समुद्र तल का स्तर आज से लगभग 130 मीटर कम था?
(a) नूतनतम युग (होलोसीन) (b) अत्यंत नूतन युग
(c) महाकल्प (मिओसीन) (d) कैम्ब्रियन युग
उत्तर (b)- अत्यन्त नूतन युग या प्लीस्टोसीन युग में विश्व में समुद्रतल का स्तर आज से लगभग 130 मी. कम था। ध्यातव्य है कि नियोजोइक महाकल्प सबसे नवीन महाकल्प है यह आज से लगभग 20 लाख वर्ष पूर्व प्रारम्भ हुआ जो आज भी जारी है। इस महाकल्प को दो युगों में बांटा गया है- (1) प्लीस्टोसीन (2) होलोसीन युग
20. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A):
पृथ्वी पर आने वाले ज्वार का अधिकतम प्रतिशत सूर्य की तुलना में चन्द्रमा उत्पन्न करता है।
कारण (R) : चन्द्रमा की तुलना में सूर्य पृथ्वी के ज्यादा समीप है।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही है‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है।
उत्तर (c)- पृथ्वी पर आने वाले ज्वारों में सर्वाधिक योगदान सूर्य की अपेक्षा चन्द्रमा की आकर्षण शक्ति है। ऐसा इसलिए क्योंकि सूर्य की अपेक्षा चन्द्रमा पृथ्वी के अधिक समीप है। इस तरह कथन सत्य है जबकि कारण असत्य।
21. प्रत्येक वर्ष मौसमी जलवायु सम्बन्धी उतार-चढ़ाव को सहन करने वाले पौधों के लिए निम्नलिखित में से कौन सा शब्द उपयुक्त है?
(a) बारहमासी (b) एकवर्षी
(c) मौसमी (d) अर्द्ध-वार्षिक
उत्तर (a)- प्रत्येक वर्ष मौसमी जलवायु सम्बन्धी उतार चढ़ाव को सहन करने वाले पौधों के लिए बारहमावसी शब्द उपयुक्त है।
22. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A):
बायोमास की प्रादेशिक परिसीमाएं प्राय:
विवेकाधीन होती हैं।
कारण (R) : प्रमुख प्रकार के सभी बायोमास सागर तथा भूमि पर विद्यमान हैं।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही है‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है।
उत्तर (c)- बायोमास की प्रादेशिक परिसीमाएं प्राय: विवेकाधीन होती हैं। प्रति इकाई क्षेत्र में जीवित पदार्थों के (पौधे‚ जन्तु‚ सूक्ष्म जीव) शुष्क सकल भार को बायोमास कहा जाता है। व्हाइटेकर के अनुसार समस्त पृथ्वी की प्राथमिक उत्पादक 320 ग्राम (शुष्क भार) प्रति वर्ग मी. प्रति वर्ष हैं उष्ण कटिबन्धीय वर्षा वन‚ दलदल तथा ज्वारनदमुखों में से प्रत्येक की नेट प्रािमिक उत्पादकता 2000 ग्राम (शुष्क भार) प्रति वर्ग मी. प्रति वर्ष है।
23. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(प्राणि भूगोलीय प्रदेश) (देश)
(A) प्राच्य (i) ब्राजील
(B) निआर्कटिक (ii) सुमात्रा
(C) नियोट्रॉपिकल (iii) नीदरलैंड
(नवोष्ण कटिबंधी)
(D) पैलिआर्कटिक (iv) यू. एस. ए.
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (iii) (i) (iv) (ii)
(b) (iii) (iv) (ii) (i)
(c) (ii) (iv) (i) (iii)
(d) (iv) (ii) (i) (iii)
उत्तर (c)प्राणि भूगोलीय प्रदेश देश प्राच्य – सुमात्रा निआर्कटिक – यू.एस.ए.
नियोट्रॉपिकल – ब्राजील पैलिआर्कटिक – नीदरलैण्ड
24. ‘कल्चरल लैंडस्केप’ (सांस्कृतिक भूदृष्य) शब्द किसने विकसित किया है?
(a) सी. डार्विन (b) सी. ओ. सॉवर
(c) ए. हम्बोल्ट (d) सी. रिट्टर
उत्तर (b)- कल्चरल लैंडस्केप (सांस्कृतिक भूदृश्य/शब्द सी.ओ.सॉवर ने विकसित किया है। सी.ओ. सॉवर 20वीं सदी के अमेरिकी सम्भवादी विचारक हैं। इन्होंने सांस्कृतिक हृदय स्थलों की उत्पत्ति की संकल्पना दी। वे भूगोल को क्षेत्र वर्णनी विज्ञान मानते हैं इनकी प्रमुख कृतियाँ निम्न हैं-
1- Morphology of Landscape 2- Agricultural its origin and dispgsal 3- Cultural Geography
25. भूगोल में व्यवहारपरक पर्यावरण पर निम्नलिखित में से किसने बल दिया?
(a) जॉन्स्टन (b) किर्क
(c) ग्रीगोरी (d) बर्टन
उत्तर (b)- भूगोल ने व्यवहारपरक पर्यावरण पर किर्क ने बल दिया। 1960 के दशकें भूगोल में परिमाणात्मक क्रान्ति के विरोध में व्यवहारवाद का आगमन हुआ। इसने मानव वातावरण सम्बन्ध को समझने हेतु एक नवीन एवं व्यापक दृष्टिकोण प्रदान किया। व्यवहारात्मक क्रान्ति में मानवीय बोध एवं व्यवहार क्षेत्रीय एवं वातावरण सम्बन्धी निर्णय पर जोर दिया गया। व्यवहारात्मक क्रान्ति में तंत्र उपागम‚ गेम थ्योरी‚ अवस्थितिकी विश्लेषण जैसे विशिष्ट विधि तन्त्रों को रखा गया हैं इस क्रान्ति के विकास में राइट विलियम किर्क‚ हैगरस्टैंड जैसे भूगोलवेत्ताओं ने महत्वपूर्ण योगदान दिया
26. मानसिक मानचित्र की अवधारणा निम्नलिखित में से किसने विकसित की है?
(a) गाऊल्ड एवं व्हाइट
(b) बोल्डिंग एवं हैगस्ट्रेंड
(c) डाऊन्स एवं स्टी
(d) सारीनेन
उत्तर (a)- मानसिक मानचित्र की अवधारणा गाउल्ड एवं व्हाइट ने विकसित की। हैंगरस्ट्रैण्ड स्वीडिश भूगोलवेत्ता थे। उन्होंने व्यावहारिक उपागम का पोषण किया। इन्होंने सिपोव्क्रटिक मॉडल की सहायता से नवाचारों के विवरण का प्रतिपादन किया। उनकी प्रमुख पुस्तकें निम्न है-
On Mouto Corlo simulation and diffusion of innovation.
27. निम्नलिखित भूगोल वैज्ञानिकों में से किसने मानवकेन्द्रित भूगोल पर ध्यान केन्द्रित किया?
(a) हंटिंगटन (b) सेम्पल
(c) जैफरसन (d) रैटजल
उत्तर (c)- जैफरसन ने मानव केन्द्रित भूगोल पर ध्यान केन्द्रित किया। प्रदेश का सबसे बड़ा नगर वहाँ का ‘प्राथमिक नगर कहलाता है जिस शब्द का सबसे पहले प्रयोग मार्क जैफरसन ने किया था।़ सेम्पल की प्रमुख पुस्तकें निम्न हैं-
1. अमेरिका का इतिहास एवं उसकी भौगोलिक दशाएं
2. भौगोलिक परिवेश का प्रभाव/ Influence of geographic Environment
3. भू-मध्यसागरीय प्रदेश का भूगोल
28. पृथ्वी की परिधि की परिगणना करने वाले प्रथम ग्रीक विद्वान कौन थे?
(a) अरस्तू (b) हेरोडोटस
(c) अनैक्सीमैंडर (d) एरैटोस्थनीज
उत्तर (d)- पृथ्वी की परिधि की परिगणना करने वाले प्रथम ग्रीक विद्वान इरैटोस्थनीज थे। इरेटोस्थनीज ने तत्कालीन ज्ञात पृथ्वी पर पाँच कटिबन्धों का विभाजन किया था – एक उष्ण कटिबन्ध दो शीतोष्ण कटिबन्ध दो शीत कटिबन्ध उनके द्वारा लिखी गयी पुस्तक में वास योग्य (Happitable) विश्व को एक्यूमेन कहा गया। उन्होंने पृथ्वी से सूर्य एवं चन्द्रमा की दूरी को मापने का प्रयास किया। उन्होंने ज्योग्राफिया नामक पुस्तक की रचना की इसमें गणितीय भूगोल का वर्णन किया गया है।
29. ‘‘सामाजिक अथवा सांस्कृतिक रूप से क्षेत्रीय संकल्पना का निर्माण हुआ है’’ ये विचार निम्नलिखित में से किसके अन्तर्गत आता है?
(a) व्यवहारवाद (b) तार्किक वस्तुनिष्ठवाद
(c) संरचनावाद (d) उत्तर-आधुनिकतावाद
उत्तर (d)- सामाजिक अथवा सांस्कृतिक रूप से क्षेत्रीय संकल्पना का निर्माण हुआ ये विचार उत्तर आधुनिकतावाद के अन्तर्गत आते हैं। व्यवहारवाद की नींव 1960 के दशक में पड़ी। व्यवहारवाद
(आचरपरक क्रान्ति) के शुरुआत का श्रेय किर्क महोदय को जाता है। किर्क के अलावा लोवेन्थाल‚ वालपर्ट और बोल्डि।ग जैसे भूगोलवेत्ताओं ने इस दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किया। गिलबर्ट ह्वाइट के आचरण पद्धति के दृष्टिकोण के प्रतिक्रिया का अध्ययन किया।
30. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II (भूगोलवेत्ता) (स्कूल ऑफ जिओग्रैफी)
(A) अलबर्ट (i) जर्मन स्कूल ऑफ जिओग्रैफी डेमनजिओं
(B) फ्रीडरिक रैटजल (ii) फ्रेंच स्कूल ऑफ जिओग्रैफी
(C) हालफोर्ड जे. (iii) ब्रिटिश स्कूल ऑफ मैकिंडर जिओग्रैफी
(D) इसइया बौमैन (iv) अमेरिकन स्कूल ऑफ जिओग्रैफी
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (i) (ii) (iv) (iii)
(b) (ii) (i) (iv) (iii)
(c) (ii) (i) (iii) (iv)
(d) (iv) (ii) (iii) (i)
उत्तर (c)- अल्बर्ट डेमनजिओ – फ्रेंच स्कूल आफ ज्योग्राफी फ्रीडरेक रैटजेल – जर्मन स्कूल आफ ज्योग्राफी हालफोर्ड जे. मैकिण्डर – ब्रिटिश स्कूल आफ ज्योग्राफी इसइया बोमेन – अमेरिकन स्कूल आफ जियोग्राफी
31. ‘मीटिअरॉलॉजिका’ नामक पुस्तक किसने लिखी है?
(a) अरस्तू (b) पोसीडोनिअस
(c) प्लैटो (d) एरास्टोस्थीन्स
उत्तर (a)- मीटिअरोलॉजिक नामक पुस्तक अरस्तु ने लिखी अरस्तु प्लेटो के शिष्य थे। अरस्तु ने आगमनात्मक पद्धति का प्रयोग किया। अरस्तु ने भी प्लेटो की तरह पृथ्वी का आकार गोला अथवा अण्डाकार माना। इन्होंने पृथ्वी की परिधि की गणना की थी तथा उसे 4‚00‚000 स्टेडिया के बराबर बताया। विषुवत रेखा के आस-पास के क्षेत्रों को इन्होने तप्त (Torrid Zone) कहा।
32. यूनाइटेड नेशन्स पोपुलेशन फंड 2015 के आंकड़ों के अनुसार निम्नलिखित में से किस महाद्वीप में जनसंख्या का अधिकतम घनत्व दर्ज किया गया?
(a) यूरोप (b) एशिया
(c) उत्तरी अमेरिका (d) ऑस्ट्रेलिया
उत्तर (b)- यूनाइटेड नेशन्स पोपुलशन फण्ड 2015 के ऑकड़ों के अनुसार एशिया महाद्वीप में जनसंख्या का अधिकतम घनत्व दर्ज किया गया था। विश्व में जनसंख्या वितरण का आरोही क्रम-
एशिया > अफ्रीका > उत्तरी अमेरिका > यूरोप > दक्षिणी अमेरिका > ओसीनिया
33. जापान का जनसंख्या पिरामिड मुख्यत: किस देश के पिरामिड के समान होगा?
(a) यू.एस.ए. (b) ब्राजील
(c) डेनमार्क (d) इंडिया
उत्तर (c)- जापान की जनसंख्या का पिरामिड डेनमार्क के पिरामिड के समान है। जापान में लगभग 3900 द्वीप हैं जिसमें चार बड़े आकार के हैंहोन्शू‚ हौकेडो‚ क्यूशू‚ शिकोकू। इन चारो द्वीपों का क्षेत्रफल देश के समस्त क्षेत्रफल का 98% है। होन्शू द्वीप जापान का सबसे बड़ा द्वीप है इसी द्वीप पर जापान का सबसे बड़ा मैदान क्वॉटो स्थित है। टोक्यो जो देश की राजधानी है इसी द्वीप पर स्थित है। टोक्यो जो देश की राजधानी है इसी द्वीप पर स्थित है।
34. निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
विकासशील देशों ने प्रजनन दरों में महत्वपूर्ण कमी के बावजूद जनसंख्या में वृद्धि दर्ज की है‚ इसका कारण है:
(A) जीवन प्रत्याशा दर में वृद्धि
(B) शिशु मृत्यु दर में वृद्धि
(C) मृत्यु दर में गिरावट
(D) रहन-सहन की बेहतर स्थितियां
निम्नलिखित कूटों में से कौन सा कूट उपर्युक्त कथन को दर्शाता है?
(a) (a), (b) और (d) सही हैं।
(b) (a), (c) और (d) सही हैं।
(c) (a), (b), (c) सही हैं।
(d) (b), (c) और (d) सही हैं।
उत्तर (b)- विकासशील देशों ने प्रजनन दरों में महत्वपूर्ण कमी के बावजूद जनसंख्या में वृद्धि दर्ज की है इसका कारण है-
1. जीवन प्रत्याशा दर में वृद्धि
2. मृत्यु दर में गिरावट
3. रहन सहन की बेहतर स्थितियाँ
35. निम्नलिखित कथनों में से कौन सा कथन व्यापक आधार के जनसंख्या पिरामिड को प्रदर्शित करता है?
(a) प्रजनन दर में गिरावट
(b) उच्च प्रजनन दर
(c) मृत्यु दरों में गिरावट
(d) उच्च मृत्यु दर
उत्तर (b)- व्यापक आधार पर जनसंख्या पिरामिड को प्रदर्शित करता है- उच्च प्रजनन दर। शीर्ष 5 जनसंख्या वृद्धि दर वाले देश नाइजर ↓मलावी ↓इराक/तंजानिया/ युगांडा /अफगानिस्तान/ थाइलैण्ड ↓माली/यमन /जाम्बिया ↓तिमोर गणराज्य/ खंडा /कतर / इरीट्रिया
36. किसी भी सेवा के लिए जनंसख्या सीमा (थ्रेसहोल्ड) की सही व्याख्या निम्नलिखित में से कौन सा कथन करता है?
(a) अधिकतम दूरी जो लोगों को सेवा का उपयोग करने के लिए तय करनी पड़ती है।
(b) सेवा को प्रारम्भ करने के लिए न्यूनतम दूरी
(c) सेवा के लिए आवश्यक न्यूनतम जनसंख्या
(d) सेवा के लिए आवश्यक अधिकतम जनसंख्या
उत्तर (c)- किसी भी सेवा के लिए जनसंख्या सीमा (थ्रेसहोल्ड) की सही व्याख्या के लिए कथन उपयुक्त है- सेवा के लिए आवश्यक न्यूनतम जनसंख्या
37. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(पद) (परिभाषा)
(A) मानव बस्तियों (i) रोजगार अवसरों के कारण का स्थल गति
(B) मानव बस्तियों (ii) स्थान की भौतिक और की की स्थिति सांस्कृतिक विशेषताएँ तथा गुण
(C) प्रवसन में विशेष (iii) स्थान के महत्व के विशेष कर्षणकारक संदर्भ में तुलनात्मक अवस्थिति
(D) प्रवसन क्षेत्र (iv) प्रवसन प्ररूप के अन्दर और बाहर स्थानीय लोगों पर प्रधानता जमाने वाले क्षेत्र
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (i) (iv) (ii) (iii)
(b) (ii) (iii) (i) (iv)
(c) (iii) (ii) (iv) (i)
(d) (iv) (ii) (i) (iii)
उत्तर (b)-
(a) मानव बस्तियों का – स्थान की भौतिक और सांस्कृतिक स्थल विशेषताएँ तथा गुण
(b) मानव बस्तियाँ की स्थिति – स्थान के महत्व के विशेष सन्दर्भ में तुलनात्मक अवस्थिति
(c) प्रवसन में विशेष कर्षणकारक- रोजगार अवसरों के कारण गति
(d) प्रवसन क्षेत्र – प्रवसन प्रारूप के अन्दर और बाहर स्थानीय लोगों पर प्रधानता जमाने वाले क्षेत्र
38. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(पद) (परिभाषा)
(A) केन्द्रीय शहर (i) राजनीतिक परिसीमा के किसी संदर्भ के बगैर इमारतों के उच्च घनत्व के साथ भू आकृति का निरंतर निर्माण
(B) नेटवर्क शहर (ii) नगर के बाहर नगरीय विशेषताओं के साथ शहरी क्षेत्र
(C) नगरीय प्रभाव क्षेत्र (iii) मुख्य शहर‚ जिनके आसपास उपनगर विकसित हो रहे हैं‚ उसकी शासकीय परिसीमाओं के अन्दर आने वाले उपनगरीय क्षेत्र
(D) नगरीयकृत क्षेत्र (iv) दो या ज्यादा स्वतन्त्र परन्तु पूरक शहर जिनमें उच्च गति के परिवहन कॉरिडॉर हैं।
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (i) (ii) (iv) (iii)
(b) (iii) (iv) (ii) (i)
(c) (ii) (iv) (iii) (i)
(d) (iv) (ii) (i) (iii)
उत्तर (b)पद परिमाण
(a) केन्द्रीय शहर – मुख्य शहर जिनके आस- पास उपनगर विकसित हो रहे हैं‚ उसकी शासकीय परिसीमाओं के अन्दर आने वाले उपनगरीय क्षेत्र
(b) नेटवर्क शहर – दो या ज्यादा स्वतत्र परन्तु पूरक शहर जिनमें उच्च गति के परिवहन कारिडोर हैं।
(c) नगरीय प्रभाव क्षेत्र – नगर के बाहर नगरीय विशेषताओं के साथ शहरी क्षेत्र
(d) नगरीकृत क्षेत्र – राजनीतिक परिसीमा के किसी सन्दर्भ के बगैर इमारतों के उच्च घनत्व के साथ भू आकृति का निरन्तर निर्माण
39. निम्नलिखित आरेख में नगरीय संरचना के बहु-केन्द्रक सिद्धान्त में निम्नलिखित स्थानों को ज्ञात कीजिए और इसे नीचे दी गई सूची के साथ सुमेलित कीजिए:

(A) थोक तथा हल्का विनिर्माण
(B) उच्च वर्गीय आवास
(C) मध्यवर्गीय आवास
(D) औद्योगिक उपनगर
कूट:
(I) (II) (III) (IV)
(a) (b) (c) (a) (d)
(b) (a) (b) (c) (d)
(c) (a) (c) (b) (d)
(d) (c) (d) (a) (b)
उत्तर (c)- नगरीय संरचना के बहु केन्द्रक सिद्धान्त में सुमेलित सूची निम्न है-
(i) थोक तथा हल्का विनिर्माण
(ii) मध्यमवर्गीय आवास
(iii) उच्च वर्गीय आवास
(iv) औद्योगिक उपनगर बहुकेन्द्रीय संकल्पना के जनक सी.डी. हैरिस और ई.एल. उलमैन थे जिन्होंने 1945 के अपने सम्मिलित लेख द नेचर आफ सिटीज में इस सिद्धान्त को प्रस्तुत किया।
40. ग्रामीण भारत पर धक्का डालने वाले कारकों में निम्नलिखित में से किस कारक की भूमिका नहीं है?
(a) जनसंख्या वृद्धि में तीव्र बढ़ोत्तरी
(b) कृषियोग्य भूमि पर जनसंख्या का उच्च दबाव
(c) प्रति व्यक्ति कम आय तथा शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के आय के स्तरों में सुस्पष्ट अंतर
(d) ग्रामीण क्षेत्रों में सुविधाओं में धीमी परन्तु सतत वृद्धि तथा प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी
उत्तर (d)- ग्रामीण भारत पर धक्का डालने वाले कारकों में निम्न कारण की भूमिका रही है-
ग्रामीण क्षेत्रों में सुविधाओं में धीमी परन्तु सतत वृद्धि तथा प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोत्तरी
41. निम्नलिखित में से किसने प्रादेशिक विकास ध्रुव को ‘शहरी क्षेत्र में अवस्थित विस्तारित होते उद्योगों के समुच्चय और इसके प्रभाव क्षेत्र में हो रही आर्थिक गतिविधि के और विकास’ के रूप में परिभाषित किया है?
(a) ए. ओ. हिर्चमैन (b) एफ. पेरौक्स
(c) बोडविले (d) बी. जे. एल. बेरी
उत्तर (c)- प्रादेशिक विकास धु्रव को शहरी क्षेत्र में अवस्थित विस्तारित होते उद्योगों के समुच्चय और इनके प्रभाव क्षेत्र में हो रही आर्थिक गतिविधि के और विकास के रूप में बोडविले ने परिभाषित किया। एफ पैरोक्स विकास ध्रुव सिद्धान्त का प्रतिपादन किया।
42. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(विभिन्न क्रमों की संभावित (K मान) संभावित बस्तियों की संख्या)
(A) 8, 32, 128 (i) K7
(B) 4, 13, 40 (ii) K13
(C) 3, 20, 141 (iii) K3
(D) 2, 27, 351 (iv) K4
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (iv) (iii) (ii) (i)
(b) (iv) (ii) (iii) (i)
(c) (i) (iii) (ii) (iv)
(d) (iv) (iii) (i) (ii)
उत्तर (d)- विभिन्न क्रम की संभावित K का मान बस्तियों की संख्या 8, 32, 128 K4 4, 13, 40 K3 3, 20, 141 K7 2, 27, 351 K13
43. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A):
हरित क्रांति की वजह से गरीबी का समाधान होने के बजाय वह और भी बढ़ गई।
कारण (R) : धनी और अधिक जमीन वाले किसानों ने यह महसूस किया कि हरित क्रांति और कृषि के मशीनीकरण ने उन्हें स्वयं खेती करने की महति क्षमता प्रदान की है। उन्होंने साझेदारी खेती और मालगुजारी पर दिए जानेवाले खेतों को वापस लेना शुरू कर दिया। इसके परिणाम स्वरूप अधिकांश संख्या में असामियों और कृषकों से उनका खेती का काम छीन गया।
कूट:
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही है‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है।
उत्तर (a)-
अमेरिकी वैज्ञानिक विलियम गैड द्वारा सर्वप्रथम प्रयुक्त हरित क्रान्ति शब्द वर्ष 1960 के दशक में प्रयुक्त किया गया था। इस क्रान्ति की आधारशिला वर्ष 1950 में मैक्सिको के राक फेलर फाउण्डेशन के वैज्ञानिकों के द्वारा रखी गयी। जिन्होंने गेंहूँ की अधिक उपज वाली तथा अधिक प्रतिरोधी बौनी किस्में विकसित की। बाद में 1960 के दशक में रॉक फेलर फाउण्डेशन के अन्तर्राष्ट्रीय चावल अनुसन्धान संस्थान‚ मनीला फिलीपीन्स के वैज्ञानिकों द्वारा चावल की उन्नत वर्ण शंकर किस्में विकसित की गयी। भारत में हरित क्रान्ति के जनक डा. एम.एस. स्वामीनाथन को माना जाता है। कृषि से सम्बन्धित महत्वपूर्ण क्रान्तियाँ सुनहरी क्रान्ति – फल एवं सब्जी उत्पादन श्वेत क्रान्ति – दुग्ध उत्पादन कृष्ण क्रान्ति – खनिज तेल नील क्रान्ति – मत्स्य उत्पादन गोल क्रान्ति – आलू उत्पादन भूरी – उर्वरक उत्पादन पीली – तिलहन उत्पादन
44. निम्नलिखित में से किस कार्य की वजह से पूरे विश्व में किसी अन्य कार्य की तुलना में कहीं अधिक जल प्रदूषण होता है?
(a) कृषि
(b) जलविद्युत ऊर्जा उत्पादन
(c) विनिर्माण उद्योग
(d) शहरीकरण
उत्तर (*)- कृषि एवं शहरीकरण दोनों की वजह से पूरे विश्व में किसी अन्य कार्य की तुलना में कहीं अधिक जल प्रदूषण होता है। आयोग ने (a) एवं (d) दोनों को उत्तर माना है अत: एक से अधिक
उत्तर बन रहा है। जल प्रदूषण से सम्बन्धित महत्वपूर्ण तथ्य पेयजल में नाइट्रेट की अधिकता से ब्लू सिण्ड्रोम‚ कैडमियम की अधिकता से ब्लू बेबी सिण्ड्रोम तथा आर्सेनिक की अधिकता से ब्लैक फुट बीमारी हो जाती है। गंगा नदी में वैक्टीरियोफेज नामक वायरस पाए जाते हैं‚ जिसके कारण गंगा नदी का जल प्रदूषित नहीं होता है।
45. निम्नलिखित में से कौन-सा समुद्री मार्ग विश्व का सर्वाधिक महत्वपूर्ण और व्यस्ततम मार्ग है?
(a) केप मार्ग
(b) उत्तरी प्रशांत मार्ग
(c) दक्षिणी अटलांटिक मार्ग
(d) उत्तरी अटलांटिक मार्ग
उत्तर (d)- उत्तरी अटलांटिक मार्ग विश्व का सर्वाधिक महत्वपूर्ण और व्यस्ततम मार्ग है जो पश्चिमी यूरोपीय और उत्तरी अमेरिकी देशों को जोड़ता है। उत्तरी अटलांटिक महासागर के दोनों तटों पर विश्व के प्रमुख औद्योगिक एवं विकसित देश स्थित है। इस जलमार्ग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार में खाद्य पदार्थ‚ कच्चे माल एवं उत्पादित सामग्री की मात्रा विश्व के सभी जलमार्गो से अधिक रहती है।
46. वेबर ने अपने न्यूनतम लागत सिद्धान्त में निम्नलिखित में से किसे नहीं माना था?
(a) समूहन आर्थिक व्यवस्था में परिवहन और श्रम लागत बढ़ती है।
(b) श्रम असीमित रूप से उपलब्ध होता है।
(c) सस्ते श्रम की आपूर्ति के कारण उच्च परिवहन लागत वाले स्थान भी आकर्षक हो सकते हैं।
(d) परिवहन लागत किसी भी दिशा में दूरी और वजन के अनुरूप एक समान होती है।
उत्तर (a)- वेबर ने अपने न्यूनतम लागत सिद्धान्त में समूहन आर्थिक व्यवस्था में परिवहन और श्रम लागत बढ़ती है ‚ को नहीं माना। वेबर ने अपने सिद्धान्त का प्रतिपादन 1909 में अपनी पुस्तक थ्योरी आफ लोकेशन आफ द इण्डस्ट्रीज’ में प्रतिपादित किया। वेबर का सिद्धान्त एक निश्चयवादी सिद्धान्त है।
47. नीचे दिए गए परिवहन नेटवर्क आलेख से‚ निम्नलिखित में से ‘व्यास सूचकांक’ संशोधक को दर्शाने वाले कूट का चयन करें

(a) 2 (b) 4
(c) 3 (d) 1
उत्तर (b)- निम्नलिखित आरेख में कुल 4 व्यास सूचकाँक’ संशोधको कोदर्शाया जा सकता है।
48. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
दूर्गापुर-आसनसोल-चितरंजनके बीच अनेक कोयला खादानें होने और अन्य सम्बन्धित कार्य कलाप होने की वजह से आसनसोल सब-डिविजन विश्व के सबसे बड़े औद्योगिक परिसरों में से एक है। कारण- (R) कलकत्ता महानगरीय जिला के बाहर आसानसोल सब-डिविजन में पर्याप्त कोयला भण्डार और उसका निर्गम‚ लोहा और इस्पात का उत्पादन और इंजीनियरिंग उद्योग है।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (a)- प्रश्नगत कथन सत्य है तथा कारण कथन की व्याख्या कर रहा है। भारत के प्रमुख कोयला उत्पादक क्षेत्ररानीगंज क्षेत्र- पश्चिम बंगाल का रानीगंज कोयला क्षेत्र उत्तरी दामोदर घाटी में है जो देश का सबसे महत्वपूर्ण एवं बड़ा कोयला क्षेत्र है। इस क्षेत्र से देश का लगभग 35% कोयला प्राप्त होता है। धनबाद जिले में स्थित झरिया कोयला क्षेत्र झारखण्ड राज्य का सबसे बड़ा कोयला उत्पादक क्षेत्र है। देश के 90% से अधिक कोकिंग कोयले के भण्डार यहाँ स्थित हैं। कोयला धोवन शालाऐं सुदामडिह तथा मोनाडिह में स्थित है। गिरिडीह क्षेत्र झारखण्ड राज्य में स्थित है यहाँ के कोयले की मुख्य विशेषता। यह है कि अति उत्तम प्रकार का स्टीक कोक तैयार होता है जो धातु शोधन के लिए उपयुक्त है।
49. निम्नलिखित में से किस राजनीतिक विद्वान ने वर्ष 1949 में ‘‘अपेक्षाकृत एक अधिक भौगोलिक राजनीतिक भूगोल’’ की अपील की थी?
(a) हार्टशोर्न (b) जी.ई. पर्सी
(c) आर.एच. फिफिल्ड (d) जॉर्ज टी. रेनर
उत्तर (a)- हार्टशोर्न ने 1949 में ‘अपेक्षाकृत एक अधिक भौगोलिक राजनीतिक भूगोल’ की अपील की थी। हार्टशोर्न अमेरिकन भूगोलवेत्ता थे। ये एक प्रादेशिक भूगोलवेत्ता थे तथा भूगोल में इडियोग्राफिक दृष्टिकोण को अपनाया। इनकी प्रमुख पुस्तकें निम्न हैं-
1. Nature of Geography (1939)
2. Perspectives on the nature of Geography (1959)
50. ‘वर्ल्उ पॉलिटिकल ज्योग्राफी’ नामक पुस्तक की रचना निम्नलिखित में से किसने की थी?
(a) जी.ई. पर्सी (b) स्टीफेन बी. जोन्स
(c) जे. के. राइट (d) हार्टशोर्न
उत्तर (a)-वर्ल्ड पॉलिटिकल ज्योग्राफी नामक पुस्तक की रचना जी.ई. पर्सी ने की थी। हार्टशोर्न ने भूगोल में क्षेत्रीय भिन्नता की अवधारणा को सशक्त किया तथा 18वीं शताब्दी के भौगोलिक ज्ञान को संग्रहीत कर 1939 में The Nature of Geography पुस्तक में प्रकाशित किया। उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रत्येक भूगोलवेत्ता को निम्न तीन प्रश्नों का उत्तर तलाशना चाहिए।
(I) भूगोल क्या है
(II) इसका उद्देश्य क्या है
(III) इसका अध्ययन किस प्रकार किया जाना चाहिए
51. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(जनजाति (वास स्थान)
(a) भील (i) शिलांग पठार
(b) गोंड (ii) पूर्वी झारखण्ड
(c) संथाल (iii) छत्तीसगढ़
(d) गारो (iv) अरावली
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (iv) (iii) (ii) (i)
(b) (i) (ii) (iii) (iv)
(c) (iii) (i) (iv) (ii)
(d) (ii) (iii) (iv) (i)
उत्तर (a)- जनजाति वास स्थान भील अरावली गोड छत्तीसगढ़ संथाल पूर्वी झारखण्ड गारो शिलांग पठार
52. निम्नलिखित में से किसने ‘सांस्कृतिक दृश्यभूमि’ की अवधारणा को लोकप्रिय बनाया था?
(a) विल्बर जेजिन्स्की
(b) कार्ल सॉवर
(c) एनी बुटि्टमर
(d) नैट्जेल
उत्तर (b)- कार्ल सॉवर ने सांस्कृतिक दृश्यभूमि की अवधारणा को लोकप्रिय बनाया था। रेटजेल द्वारा लिखित पुस्तकें निम्न हैं-
1. मानव भूगोल
2. वालकर कुण्डे
3. पृथ्वी एवं जीवन
4. राजनीतिक भूगोल रेटजेल ने अपनी पुस्तक राजनीतिक भूगोल में राज्य के जैविक उत्पत्ति के सिद्धान्त को प्रस्तुत करते हुए राज्य की तुलना जीव से की। इनका कथन है कि -राज्य का या तो सामान्य जीव की तरह विकास करना चाहिए था या तो उसे समाप्त हो जाना चाहिए‚ वह कभी भी स्थित नहीं रह सकता।
53. पैतृक समाज और महिलाओं की प्रभावशाली स्थिति के सह-अस्तित्व की विरोधाभासी स्थिति निम्नलिखित में से किसमें पायी जाती है?
(a) थारू जनजाति (b) खासी जनजाति
(c) गोंड जनजाति (d) भील जनजाति
उत्तर (a)- थारू जनजाति में पैतृक समाज और महिलाओं की प्रभावशाली स्थिति के सह-अस्तित्व की विरोधाभासी स्थिति पायी जाती है। थारू उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्र में निवास करती है‚ यह किरात वंश है। ये सुअर तथा मुर्गी पालन के साथ-साथ कृषि भी कहते हैं। मदिरा थारुओं का मुख्य पेय है। जाड नामक चावल की मदिरा प्रमुख है। ये हिन्दू धर्म को मानते हैं तथा हिन्दुओं के लगभग सभी त्योहारों को भी मानते हैं।
54. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया हैं नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
संयुक्त परिवार संस्था आर्थिक रूप से कम विकसित क्षेत्र से जुड़ी है। कारण- (R) शिक्षित और अच्छे पदों पर नियुक्त श्वेत कॉलर कर्मचारी अपने लिए एकल परिवार चुनते हैं
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (b)- संयुक्त संस्था आर्थिक रूप से कम विकसित क्षेत्र से जुड़ी है। शिक्षित और अच्छे पदों पर नियुक्त श्वेत कॉलर कर्मचारी अपने लिए एकल परिवार चुनते हैं।
55. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया हैं नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
मेट्रो हमारे देश के महानगरों में परिवहन के कुशल‚ व्यवहार्य और वैकल्पिक साधन के रूप में उभर रही है। कारण- (R) भारत में पुराने और बिना किसी योजना के बने शहर जहाँ जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है‚ वहाँ परिवहन के बहुत तरीके बोझ बने हुए हैं
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (b)- भारत में प्रमुख मेट्रों प्रोजेक्ट कोलकाता मेट्रो रेल सेवा वर्ष 1972 में बनी यह योजना वर्ष 1975 में अमल में आयी दमदम से टॉलीगंज के लिए शुरू की गयी। इस भूमिगत रेलमार्ग की वर्तमान ल. 25 किमी. है। भारत के सर्वाधिक पुराने इस नगरीय मेट्रो की भारतीय रेलवे का नवां जोन बनाया गया है। दिल्ली मेट्रो रेल यह परियोजना जापान व कोरिया की कम्पनियों के सहयोग से बनायी गयी है। इसके अन्तर्गत सबसे पहले रेल सेवा 25 दिसम्बर‚ 2002 ई. को तीस हजारी से शाहदरा के बीच चलायी गयी।
56. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूट का प्रयोग करते हुए सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(दृष्टिकोण) (विकास सूचकांक)
(a) विकास सूचकांक (i) अनुमानित रूप से शिक्षित नमूना समूह की राय पर आधारित औसत विकास रेटिंग
(b) सहमति (ii) व्यक्तिगत सूचकांकों के लिए अनेक उप-अंकों के संयोजन पर आधारित संयुक्त विकास अंक
(स्कोर)
(c) विषयनिष्ठ समाकलन (iii) प्रति व्यक्ति आय‚ जीवन का दीर्घायुपन और सामाजिक सक्षमता
(d) मानव विकास (iv) तदर्थ क्षेत्रों‚ वर्गों और सीमाओं का समुच्चय जो फील्ड अनुभवों और विषयनिष्ठ आंकलन के आधार पर निर्धारित होते हैं
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (ii) (iv) (iii) (i)
(b) (ii) (i) (iv) (iii)
(c) (i) (iv) (iii) (ii)
(d) (ii) (i) (iii) (iv)
उत्तर (b)-
(i) विकास सूचकांक – व्यक्तिगत सूचकांकों के लिए अनेक उप अंकों के संबोधन पर आधारित संयुक्त विकास अंक
(ii) सहमति – अनुमानित रूप से शिक्षित नमूना समूह की राय पर आधारित औसत विकास रेटिंग
(iii)विषयनिष्ट समाकलन – तदर्थ क्षेत्रों‚ वर्गों और सीमाओं का समुच्चय जो फीन्ड अनुभवों और विषयनिष्ठ आकलन के आधार पर निर्धारित होते हैं
(iv) मानव विकास – प्रति व्यक्ति आय‚ जीवन का दीर्घायुक्त तथा सामाजिक सक्षमता
57. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया हैं नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
मनरेगा का भारत के काफी महत्वाकांक्षी ग्रामीण विकास कार्यक्रम के रूप में योगदान है। कारण- (R) न्यूनतम रोजगार गारंटी दिवस मुहैया कराने हेतु आधारभूत अवसंरचना के निर्माण को इस योजना से जोड़ा गया।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (a)- मनरेगा का भारत के काफी महत्वाकांक्षी ग्रामीण विकास कार्यक्रम के रूप में योगदान है। क्योंकि न्यूनतम रोजगार गारण्टी दिवस मुहैया कराने हेतु आधारभूत अवसरंचना के निर्माण को इस योजना से जोड़ा गया।
58. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया हैं नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
शहरी समूहन और महानगर भारत में तेजी से बढ़ रहे हैं। कारण- (R) शहरी जनसंख्या का दबाव कम करने हेतु उपनगर पर्याप्तत: और महत्वपूर्ण रूप से विकसित नहीं किए गए हैं।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (a)- शहरी समूहन और महानगर भारत में तेजी से बढ़ रहे हैं क्योंकि शहरी जनसंख्या का दबाव कम करने हेतु उपनगर पर्याप्तता और महत्वपूर्ण रूप से विकसित नहीं किए गए हैं। 2011 की जनगणना के आँकड़ों के अनुसार भारत की कुल जनसंख्या का 31.8% भाग नगरीय क्षेत्र में निवास करता है। महानगर (मेट्रोपोलिस सिटी) महानगर में 10 लाख से अधिक जनसंख्या पायी जाती है किसी राज्य विशेष की या किसी प्रदेश विशेष की यहाँ प्रादेशिक राजधानी पायी जाती है।
59. निम्नलिखित में से कौन-सा विकास ध्रुव और विकास केन्द्र की अवधारणा के सम्बन्ध में अधिक सही है?
(a) विकास ध्रुव और विकास केन्द्र दोनों ही क्षेत्र में एक समान दूरी पर होते हैं
(b) उच्च क्रम विकास केन्द्र की तुलना में नित्न क्रम विकास केन्द्र काफी दूर अवस्थित हैं
(c) उच्च क्रम विकास केन्द्र काफी दूर अवस्थित हैं जबकि निम्न क्रम विकास केन्द्र एक-दूसरे के निकट अवस्थित होते हैं
(d) विकास ध्रुव और विकास केन्द्रों के बीच की दूरी के सम्बन्ध में कोई नियम विद्यमान नहीं है
उत्तर (c)- विकास ध्रुव और विकास केन्द्र की अवधारणा के सम्बन्ध में सही है कि उच्च क्रम विकास केन्द्र काफी दूर अवस्थित होते हैं जबकि निम्न क्रम विकास केन्द्र एक-दूसरे के निकट अवस्थित होते हैं। विकास ध्रुव की संकल्पना पेराक्स ने दी थी।
60. जनसंख्या की दशकीय वृद्धि की प्रतिशतता (2001-
2011) निम्नलिखित में से किस राज्य में सर्वाधिक है?
(a) पश्चिम बंगाल (b) महाराष्ट्र
(c) उत्तर प्रदेश (d) अरुणाचल प्रदेश
उत्तर (d)- उपरोक्त विकल्प में अरुणाचल प्रदेश की दशकीय वृद्धि की प्रतिशतता सर्वाधिक है। जनसंख्या की दशकीय वृद्धि की प्रतिशतता (2001-2011) में प्रश्नगत राज्यों में से अरुणाचल प्रदेश में सर्वाधिक थी। सर्वाधिक दशकीय वृद्धि दर वाले 5 राज्य मेघालय – 27.9 अरुणाचल प्रदेश – 26.0 बिहार – 25 मणिपुर – 24.5 जम्मू और कश्मीर – 23.6
61. निम्नलिखित में कौन-सा भारत में मलिन बस्ती जनसंख्या संकेन्द्रण के लिए उत्तरदायी है?
(a) वाणिज्यिक पौधरोपण गतिविधियां प्रबल हैं
(b) संगठित क्षेत्र में विनिर्माण गतिविधिां प्रबल हैं
(c) संगठित क्षेत्र में सेवा गतिविधियां प्रबल हैं
(d) अनौपचारिक क्षेत्र में विनिर्माण और सेवा गतिविधियां प्रबल हैं
उत्तर (d)- भारत में विनिर्माण मलिन बस्तियाँ जनसंख्या संकेन्द्रण के लिए अनौपचारिक क्षेत्र में विनिर्ताण और सेवा गतिविधियाँ प्रबल हैं। भारत के नगरों विशेषत: महानगरों में मलिन बस्तियों की विकराल समस्या है। भारत में नगरीय जनसंख्या का 20% तथा महानगरों का लगभग 30% मलिन बस्तियों में रहता है। मलिन बस्तियों को मुम्बई में चाल‚ कोलकाता में बस्ती चेन्नई में चेरी‚ दिल्ली में कटरा और कानपुर में अहाता के नाम से जाना जाता है।
62. निम्नलिखित में से कौन-सा राज्य भारत में कॉफी का शीर्ष उत्पादक राज्य है?
(a) केरल (b) कर्नाटक
(c) असम (d) तमिलनाडु
उत्तर (b)- कर्नाटक भारत में कॉफी का शीर्ष उत्पादक राज्य है-
कर्नाटक राज्य देश के कुल उत्पादन का 70% भाग पैदा करता है। केरल में 23.6% और तमिलनाडु में 5.6% उत्पादन होता है। कहवा का जन्म स्थान सम्भवत: अबीसीनिया (अफ्रीका) है। कॉफी एक निर्यान्तोन्मुखी उपज है कुल उत्पादन का लगभग 75% हिस्सा निर्यात कर दिया जाता है।
63. सूची I को सूची -II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(जलविद्युत परियोजनाएं) (राज्य)
(a) शारावती (i) ओडिशा
(b) बलिमेला (ii) उत्तर प्रदेश
(c) ओबरा (iii) कर्नाटक
(d) शानन (iv) पंजाब
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (i) (iii) (iv) (ii)
(b) (ii) (iii) (iv) (i)
(c) (ii) (iv) (i) (iii)
(d) (iii) (i) (ii) (iv)
उत्तर (d)जलविद्युत परियोजनाएँ राज्य शारावती – कर्नाटक बलिमेला – ओडिशा ओबरा – उत्तर प्रदेश शानन – पंजाब
64. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया हैं नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
गंगा के मैदान के उत्तरी हिस्से में काफी कम सिंचाई नहरें हैं कारण- (R) इस क्षेत्र में काफी वर्षा होती है और इसके पास पर्याप्त मात्रा में भूमिगत जल है
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (b)- गंगा के मैदान के उत्तरी हिस्से में काफी कम सिंचाई नहरें हैं तथा इस क्षेत्र में काफी वर्षा होती है और इसके पास पर्याप्त मात्रा में भूमिगल जल है। गंगा के मैदान का विस्तार उ.प्र.‚ बिहार‚ झारखण्ड तथा पश्चिम बंगाल राज्य में है। गंगा नदी के उत्तर में इस मैदान को दो मार्गों में विभाजित किया जाता है। पश्चिम का मान रोहेलखण्ड का मैदान कहलाता है जबकि पूर्व का मान अवध का मैदान कहलाता है।
1. ऊपरी गंगा का मैदान – पश्चिमी उ.प्र.
2. मध्य गंगा का मैदान – पूर्वी उ.प्र. तथा उ. बिहार
3. निम्न गंगा का मैदान – पश्चिम बंगाल
65. सूची I को सूची -II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-I सूची-II
(फसलें) (सर्वाधिक उत्पादक राज्य‚ 2016-17)
(a) कच्चा कपास (i) उत्तर प्रदेश
(b) सरसों (ii) राजस्थान
(c) मक्का (iii) गुजरात
(d) गेंहूँ (iv) आन्ध्र प्रदेश
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (iii) (iv) (ii) (i)
(b) (iv) (iii) (i) (ii)
(c) (iii) (ii) (iv) (i)
(d) (i) (ii) (iii) (iv)
उत्तर (c)- फसल सर्वाधिक उत्पादक राज्य कच्चा कपास – गुजरात सरसों – राजस्थान मक्का – आन्ध्र प्रदेश गेंहूँ – उत्तर प्रदेश
66. सूची I को सूची -II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूट में सही उत्तर का चयन करें:
सूची-
I सूची-II
(पर्वत/पर्वतश्रेणी) (चोटियाँ)
(a) नीलगिरि (i) सागरमाथा
(b) सतपुड़ा (ii) माउण्ट आबू
(c) अरावली (iii) धुपगढ़
(d) हिमालय (iv) डोडाबेट्टा
कूट:
(A) (B) (C) (D)
(a) (iii) (iv) (i) (ii)
(b) (i) (ii) (iii) (iv)
(c) (iv) (iii) (ii) (i)
(d) (iii) (iv) (ii) (i)
उत्तर (c)- पर्वत/पर्वत श्रेणी चोटियाँ नीलगिरी – डोडाबेट्टा सतपुड़ा – धुपगढ़ अरावली – माउण्ट आबू हिमालय – सागरमाथा
67. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया हैं नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए :
अभिकथन (A) :
भारत में प्रत्येक आनुक्रमिक जनगणना के साथ‚ मलिन बस्तियों की जनसंख्या में भारी वृद्धि देखी गई है कारण- (R) भारत के क्षेत्र और जनसंख्या दोनों में सतत रूप से वृद्धि होती रही है
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सही है परन्तु (R) गलत है।
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है।
उत्तर (c)- भारत में प्रत्येक अनुक्रमिक जनगणना के साथ‚ मलिन बस्तियों की जनसंख्या में भारी वृद्धि देखी गयी है। भारत के क्षेत्र और जनसंख्या दोनों में सतत रूप से वृद्धि नहीं होती रही है। भारतीय महानगरों में मलिन बस्तियों में निवास करने वाले व्यक्तियों का जीवन स्तर अत्यधिक घटिया या निकृष्ट और पर्यावरण अस्वस्थकर होता है। अल्पाय‚ निरक्षरता‚ अकुशलता आदि के कारण उनमें अनेक सामाजिक बुराईयाँ जैसे शराब पीना‚ जुंआ खेलना‚ चोरी‚ हत्या आदि अनुषंगी बन जाती है। महानगर मलिन बस्ती की महानगरीय जनसंख्या(लाख में) जनसंख्या का प्रतिशत मुम्बई 54.4 43.6 कोलकाता 43.9 40.4 दिल्ली 32.1 38.3 चेन्नई 21.1 39.3
68. ‘एर्गोग्राफ’ द्वारा निम्नलिखित में से किस प्रतीयमान सम्बन्ध का चित्रण होता है?
(a) तापमान और निरपेक्ष आर्द्रता
(b) वृष्टि और वाह
(c) फसल उत्पादन और वृष्टि
(d) फसली मौसम और मौसमी स्थितियाँ
उत्तर (d)- एग्रोग्राफ द्वारा फसली मौसम और मौसम स्थितियाँ का सम्बन्ध चित्रण होता है। एग्रोग्राफ (Ergograph) वर्ष के विभिन्न कालों में किए गए काम को व्यक्त करता है। एग्रोग्राफ शब्द सबसे पहले ए. गैडे द्वारा गढ़ा गया तथा सन् 1938 में ए. जी. ओगिलवी द्वारा प्रयोग किया गया इस आरेख में वर्ष के प्रत्येक महीने में किए गये काम को एक वृत्तीय आरेख वर्ष की विभिन्न ऋतुओं में किए गए काम का क्रम दर्शाता है।
69. निम्नलिखित में से कौन-सी ऊँचाई सूर्य तुल्यकालिक ध्रुवीय कक्ष से सम्बन्धित है?
(a) 2,000 से 6,000 कि.मी.
(b) 30,000 से 36,000 कि.मी.
(c) 3,00 से 1,000 कि.मी.
(d) 5,000 से 15,000 कि.मी.
उत्तर (c)- 300 से 1000 किमी. की ऊँचाई सूर्य तुल्यकालिक ध्रुवीय कक्ष से सम्बन्धित है। रिमोट सेनसिंग (Ramote Scnsing) तकनीकी में सर्वाधिक महत्वपूर्ण तथा उपग्रहों में स्थित संवेदकों की प्रकाशन क्षमता का है जैसे भारतीय उपग्रह आई.आर.1सी. के संवेदक LISS III का प्रकाशन 23-5 मीटर है जबकि नेकोमेट्रिक का प्रकाशन 5.8 मीटर है।
70.

उत्तर (d)- पद विषमता गुणांव B1 के परिकलन हेतु सही है-
71. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन (A) :
किसी सीरीज का मानक विचलन उसकी विभिन्नता का माप होता है
कारण (R) दो या दो से अधिक सीरीज के बीच की विभिन्नताओं की तुलना करने के लिए मानक विचलन की जरूरत होती है
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सही है और (R), (A) की सही व्याख्या है
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं‚ परन्तु (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है
(c) (A) सही है‚ परन्तु (R) गलत है
(d) (A) गलत है‚ परन्तु (R) सही है
उत्तर (b)- किसी सीरीज का मानक विचलन उसकी विभिन्नता का माप होता है। किसी समंक ऋणी के समान्तर माध्य से उसके विभिन्न पद मूल्यों के विचलनों के वर्गों के समानान्तर माध्य के वर्गमूल को उस श्रेणी का मानक विचलन कहते हैं। इसे माध्य विचलन त्रुटि भी कहा जाता है मानक विचलन सदैव समान्तर माध्य जो स्वयं एक आदर्श‚ माध्य है‚ के आधार पर निकाला जाता है अत: दो या दो से अधिक समंक श्रेणियों के अपकिरण की तुलना में उपयोगी है।
72. निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
(A) संचार उपग्रह अधिकांशत: भू-स्थिर उपग्रह होते हैं जिन्हें प्राय: 30‚000 कि.मी. से अधिक ऊँचाई पर स्थापित किया जाता है।
(B) साधन उपग्रह सूर्य तुल्यकालिक होते हैं जिन्हें प्राय: 300-1000 कि.मी. की उâँचाई पर स्थापित किया जाता है। उपर्युक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(a) केवल (a)
(b) (a) और (b) दोनों
(c) केवल (b)
(d) (a) और (b) में से कोई नहीं
उत्तर (b)- संचार उपग्रह अधिकांशत: भू स्थिर उपग्रह होते हैं जिन्हें प्राय: 30‚000 किमी. से अधिक ऊँचाई पर स्थापित किया जाता है। साधन उपग्रह सूर्य तुल्यकालिक होते हैं जिन्हें प्राय: 300-1000 किमी. की ऊँचाई पर स्थापित किया जाता है।
73. निम्नलिखित में से कौन-सा संवेदक एक सक्रिय सुदूर संवेदी संवेदक है?
(a) फोटो कैमरा (b) मल्टीफ्रेम कैमरा
(c) मल्टीबैंड स्कैनर (d) रडार
उत्तर (d)- रडार संवेदक एक सक्रिय सुदूर संवेदी संवेदक है। सुदूर संवेदी को दूर संवेदन भी कहते हैं‚ जिसका अर्थ किसी ऐसी वस्तु या घटना के बारे में सूचना प्राप्त करना है जिसका सूचना एकत्रित करने वाले यन्त्र अथवा व्यक्ति से सीधा सम्पर्क न हो। मुख्यत: चार प्रकार के दूर संवेदक होते हैंरेडि यो मीटर – यह विद्युत चुम्बकीय उर्जा के कुछ भाग को मापता है आडियो मीटर – यह ध्वनि की तीव्रता को मापता है मैग्नेटोमीटर – यह पृथ्वी के चुम्बकीय क्षेत्र में होने – वाले परिवर्तनों को मापता है ग्रेवीमीटर – यह पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण में होने वाले परिवर्तनों को मापता है
74. निम्नलिखित आकृतियों X और Y पर विचार करें :
• •

निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही है?
(a) आकृति X लघु मानचित्र है तथा A और B के बीच की दूरी 40 मीटर है
(b) आकृति Y वृहत मानचित्र है तथा C और D के बीच की दूरी 4 कि.मी. है
(c) आकृति X वृहत मानचित्र है और आकृति Y लघु मानचित्र है तथा A और B तथा C और D के बीच की दूरी क्रमश: 40 मीटर और 20 कि.मी. है।
(d) आकृति X वृहत और आकृति Y लघु मानचित्र है। A और B तथा C और D के बीच की आधार दूरी समान है
उत्तर (c)- आकृति x वृहद मानचित्र है और आकृति y लघु मानचित्र है तथा A और B तथा C और D की बीच की दूरी क्रमश: 40 मीटर और 20 मीटर है।
75. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में दिया गया है। नीचे दिएगए कूट में से सही उत्तर चुनिए:
अभिकथन
(A): बिन्दु मानचित्र विशेषकर तब उपयोगी होता है जब मूल्यों का वितरण असमान और अनियमित हो
कारण (R): सांख्यिकीय इकाई जितनी अधिक छोटी होती है‚ बिन्दु मानचित्र उतना ही अधिक सटीक होता है
(a) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है
(b) (A) और (R) दोनों सही हैं और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है
(c) (A) सही हैं परन्तु (R) गलत है
(d) (A) गलत है परन्तु (R) सही है
उत्तर (b)- बिन्दु मानचित्र विशेषकर तब उपयोगी होता है जब मूल्यों का वितरण असमान तथा अनियमित हो। जनसंख्या पशु‚ फसलों‚ खनिज‚ पदार्थों का उत्पादन तथा उद्योगों की संख्या को प्रदर्शित करने के लिए बिन्दु विधि का प्रयोग करते हैं क्योंकि इनके ऑकड़ों को सीधे बिन्दुओं में परिगत कर लिया जाता है। अधिक गणितीय गणना की इस विधि में आवश्यकता नहीं होती।

Top
error: Content is protected !!