You are here
Home > Previous Papers > GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जून- 2015 भूगोल व्याख्या सहित द्वितीय प्रश्न-पत्र का हल 0011.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जून- 2015 भूगोल व्याख्या सहित द्वितीय प्रश्न-पत्र का हल 0011.

GEOGRAPHY UGC NTA NET JRF PREVIOUS PAPERS IN HINDIयूजीसी नेट/जेआरएफ परीक्षा‚ जून- 2015 भूगोल व्याख्या सहित द्वितीय प्रश्न-पत्र का हल

निर्देश : इस प्रश्न पत्र में पचास (50) बहु-विकल्पीय प्रश्न हैं। प्रत्येक प्रश्न के दो (b) अंक हैं। सभी प्रश्न अनिवार्य हैं।
1. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए
कूटों से सही उत्तर का चयन करें– सूची-I सूची-II
(अवधारणा) (प्रतिपादक)
(a) समप्राय भूमि (i) होम्स
(b) एकरूपतावाद (ii) डब्ल्यू.एम. डेविस
(c) चतुष्फलकीय परिकल्पना (iii) हट्टन
(d) पारंपरिक संवहन वर्तमान सिद्धान्त (iv) लोदियन ग्रीन
कूट :
(a) (b) (c) (d) (a) (b) (c) (d)
(a) (ii) (iii) (iv) (i) (b) (iii) (i) (ii) (iv)
(c) (i) (ii) (iv) (iii) (d) (iv) (ii) (iii) (i)
उत्तर-(b)–(अवधारणा) प्रतिपादक
a. समप्राय भूमि डब्ल्यू. एम. डेविस
b. एकरूपतावाद हट्टन
c. चतुष्फलकीय परिकल्पना लोदियन ग्रीन
d. पारंपरिक संवहन वर्तमान सिद्धान्त होम्स
2. रिया निम्नलिखित में से किसका उदाहरण है?
(a) निक्षेपित भूमि (b) निमग्न उच्चभूमि तटरेखा
(c) उभरी हुई उच्चभूमि तटरेखा (d) अपरदित स्थलाकृति
उत्तर–(b)–रिया निमग्न उच्चभूमि तटरेखा का उदाहरण है। रिया किनारा का निर्माण भूपृष्ठीय अपरदन (Subacrial erosion) द्वारा प्रभावित स्थल के आंशिक रूप से जलमग्न होने से होता है। वास्तव में नदियों की एस्चुअरी के जलमग्न हो जाने से रिया का निर्माण होता है। रिया किनारा कीपाकार होता है तथा स्थल की ओर संकरा होता है। इस तरह रिया के शीर्ष भाग पर नदी का मुहाना तथा दूसरे सिरे पर खुला सागर होता है।
3. ‘प्रोग्रेसिव वेव थियरी ऑफ टाइड्स’ का प्रतिपादन किसने किया था?
(a) सी. डार्विन (b) विलियम ह्वेविल
(c) आर.ए. हेरिस (d) डॉली
उत्तर-(b)–‘प्रोग्रेसिव वेव थियरी ऑफ टाइड्स’ का प्रतिपादन विलियम हवेविल ने किया था। डॉली ने महाद्वीपीय फिसलन का सिद्धान्त सर्वप्रथम अपनी पुस्तक ‘अवर मोबाइल अर्थ’ में सन् 1926 ई0 में भूपटल की विभिन्न स्थलाकृतियों की व्याख्या करने के लिए किया। आर.एस. हैरिस ने सागर-नितल के प्रसरण (Sea floor spreding) की संकल्पना का प्रतिपादन 1960 ई. में किया था। डार्विन ने सरवाइविल ऑफ द फिटेस्ट की संकल्पना का प्रतिपादन किया।
4. “इलस्ट्रेशन ऑफ दि हट्टोनियन थियरी ऑफ द अर्थ” नामक पुस्तक किसने लिखी थी?
(a) जेम्स हट्टन (b) जोन प्लेफेयर
(c) विडाल डि ला ब्लाश (d) डब्ल्यू. एम. डेविस
उत्तर-(b)–“इलस्ट्रेशन ऑफ दि हट्टोनियन थियरी ऑफ द अर्थ” का प्रतिपादन जोन प्लेफेयर ने किया था। जेम्स हट्टन ने 1785 ई. में एकरुपतावाद की संकल्पना तथा डब्ल्यू.
एम. डेविस ने भौगोलिक अपरदन चक्र की संकल्पना का प्रतिपादन किया। फ्रांसीसी भूगोलवेत्ता ब्लाश सम्भववाद के प्रतिपादक थे। उन्होंने प्लाल्स डी ज्याग्राफी’ पत्रिका की स्थापना की तथा ‘टेबला-डि-ला ज्योग्राफी-डि-ला – फ्रांस’ नामक पुस्तक प्रकाशित की।
5. आधार-तल संकल्पना का प्रतिपादन किसने किया था–
(a) वाल्थर पेंक (b) डब्ल्यू. एम. डेविस
(c) जे. डब्ल्यू. पॉवेल (d) जेम्स हट्टन
उत्तर-(c)–डब्ल्यू पावेल ने 1875 ई. में आधार-तल की संकल्पना का प्रतिपादन किया। प्रत्येक नदी के निम्नवर्ती अपरदन की अन्तिम सीमा होती है जिसके बाद पुन: अपरदन सम्भव नहीं हो सकता है। इस सीमा को नदी का आधार तल कहते हैं। आधार तल वास्तव में नदी के लम्बवत अपरदन की अन्तिम सीमा होती है। वाल्थर पेंक ने मार्फो लाजिकल सिस्टम (आकृतिक विश्लेषण मॉडल) का प्रतिपादन किया।
6. जॉर्ज हेडले द्वारा प्रतिपादित ‘सिंगल-सेल सर्वâुलेशन मॉडल’ के अनुसार वैश्विक वायुमंडलीय परिसंचरण के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण कारक है–
(a) पृथ्वी की घूर्णन
(b) जेट स्ट्रीम
(c) विषुवत रेखा पर अवतलन
(d) विषुवत रेखा और ध्रुव के बीच तापमान में अंतर का होना
उत्तर-(d)–जॉर्ज हेडले द्वारा प्रतिपादित ‘सिंगल सेल सर्वâुलेशन मॉडल’ के अनुसार वैश्विक वायुमण्डलीय परिसंचरण के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण कारक विपुवत रेखा और ध्रुव के बीच तापमान में अन्तर का होना है। प्रत्येक देशान्तर पर हवाओं की 3 कोशिकाएं पायी जाती है। उष्ण कटिबन्धीय‚ मध्य अक्षांशीय तथा ध्रुवीय। उष्ण को कटिबन्धीय कोशिका के अन्तर्गत भूमध्यरेखा गर्म होकर ऊपर उठती है। तथा उपोष्ण उच्चदाब के पास नीचे उतरती है तथा भूमध्य रेखा की ओर धरातलीय पवन के रूप में चल पड़ती है। इस तरह उष्ण कटिबन्धीय कोशिका का निर्माण होता है इसे हैडली कोशिका कहते हैं।
7. पछुवा हवाएँ और व्यापारिक हवाएँ निम्नलिखित में से किन ‘हवाओं के’ उदाहरण हैं?
(a) मेसोस्केल (b) टोपोस्केल
(c) मैक्रोस्केल (d) माइक्रोस्केल
उत्तर-(c)–पछुवा हवाएँ और व्यापारिक हवाएँ मैक्रोस्केल के उदाहरण हैं। व्यापारिक हवाएँ उच्च वायु दाब से भूमध्यरेखीय निम्न वायु दाब की ओर प्राय: निश्चित रूप से चलती है। उत्तरी गोलार्द्ध में इनकी दिशा उत्तर पूर्व से दक्षिण पश्चिम तथा दक्षिणी गोलार्द्ध में दक्षिण पूर्व से उ0पश्चिम की ओर होती है। उपोष्ण उच्च वायुदाब से (30o-35o) से उपध्रुवीय निम्न वायुदाब (60o-65o) के बीच दोनों गोलार्द्धों में चलने वाली स्थायी पवन को पछुवा पवन कहते है।
8. जब जल वाष्पीकृत होता है तो जल को वाष्पीकृत करने में प्रयुक्त ऊर्जा–
(a) वाष्पीकरण होने पर अगल-बगल की हवा को गर्म करती है
(b) पुन: कभी भी उपलब्ध नहीं होगी
(c) वाष्पीकृत जल अणु में प्रच्छन्न उष्मा के रूप में जमा होती है
(d) नष्ट हो जाती है
उत्तर-(c)–जब जल वाष्पीकृत होता है तो जल को वाष्पीकृत करने में प्रयुक्त ऊर्जा वाष्पीकृत जल अणु में प्रछन्न उष्मा के रूप में जमा हो जाती है।
9. मौसमविद उष्णकटिबंधीय चक्रवातों को निम्नलिखित के अनुसार तीन मुख्य श्रेणियों में वर्गीकृत करते हैं–
(a) चक्रवात के केन्द्र में वायुदाब (b) वर्षण
(c) चक्रवात का व्यास (d) पवन वेग
उत्तर-(d)–कर्क तथा मकर रेखा के मध्य उत्पन्न चक्रवातों को उष्ण कटिबन्धीय चक्रवात के नाम से जाना जाता है। इन चक्रवातों को पवन वेग आधार पर भिन्न श्रेणियों में वर्गीकृत करते हैं। सामान्यत: इन चक्रवातों की गति 32 किमी0/घण्टा होती है। जबकि हरिकेन की गति 120 किमी0 प्रति घण्टे से भी तेज होती है। सुपर चक्रवात 200 किमी0 प्रति घण्टा से भी अधिक रफ्तार से चलते है। टारनेडो की हवाएँ 800 किमी0 प्रति घण्टे की चाल से प्रवाहित होती है। 10 हवा की एक दी हुई मात्रा में 20 ग्राम जलवाष्प है। उसी तापमान पर 80 ग्राम जलवाष्प होने से वह हवा संतृप्त हो जाएगी। हवा की सापेक्षिक आर्द्रता कितनी है?
(a) 40% (b) 100%
(c) 25% (d) 80%
उत्तर-(c)–प्रश्नानुसार हवा की सापेक्षिक आर्द्रता 25% होगी।
11. महासागर के जल का पृष्ठीय परिसंचरण निम्न से संचालित होता है–
(a) प्रतिरोधक बल (b) ज्वारीय बल
(c) गुरुत्वाकर्षण बल (d) प्रवाहित पवन
उत्तर-(d)–महासागरीय जल का पृष्ठीय परिसंचरण प्रवाहित पवन द्वारा संचालित होता है। तीव्र से प्रवाहित होती पवनें अपने साथ महासागरीय जल को भी अपने वेग की दिशा में प्रवाहित कर देती हैं।
12. तटीय बालू टिब्बा के निर्माण हेतु बालू-कण का आदर्श व्यास होता है :
(a) 0.15 मि.मी. (b) 0.50मि.मी.
(c) 0.25 मि. मी. (d) 0.75 मि.मी.
उत्तर-(c)–तटीय बालू टिब्बा का निर्माण 0.25 मि0मी0 व्यास के आदर्श बालू कण से होता है। पवन द्वारा रेत के निक्षेप से निर्मित टिब्बे या स्तूपों को बलुका स्तूप कहा जाता है।
13. झंझा महोर्मि द्वारा अधिकाधिक प्रभावित होने वाला तटीय क्षेत्र है–
(a) आंध्र तट (b) पश्चिम बंगाल तट
(c) चेन्नई तट (d) केरल तट
उत्तर-(b)–झंझा महोर्मि द्वारा अधिकाधिक प्रभावित होने वाला तटीय क्षेत्र पश्चिम बंगाल है। गर्म तथा आर्द्र हवाओं के मिलने से इन तूफानों की उत्पत्ति होती है। ये तूफान विनाशकारी होते हैं।
14. पौधों को उनकी वृद्धि-जरूरतों को पूरा करने हेतु कितने आवश्यक पोषक तत्वों की जरूरत पड़ती है?
(a) 24 (b) 22 (c) 20 (d) 18
उत्तर-(d)–पौधों को उनके वृद्धि एवं विकास के लिए 18 प्रमुख तत्वो की आवश्यकता होती है।
15. निम्नलिखित में से किस क्षेत्र में समोद्भिदों की बहुलता होती है?
(a) उष्णकटिबंधीय क्षेत्र (b) उप-ध्रुवीय क्षेत्र
(c) शीतोष्ण क्षेत्र (d) ध्रुवीय क्षेत्र
उत्तर-(c)–समोद्भिदों की बहुलता शीतोष्ण क्षेत्र में पायी जाती है। ये सामान्य तापमान तथा वर्षा के साथ अनुकूलित होते हैं। इनमें सबसे सर्द महीने का तापमान 18oC से कम परन्तु 3oC से अधिक होता है जबकि सबसे गर्म महीने का औसत तापमान 22oC होता है।
16. किसे ‘मानव भूगोल का जनक’ कहा जाता है?
(a) रैटजेल (b) ब्लाश
(c) ट्रिवार्था (d) वलाक्स
उत्तर-(a)–‘मानव भूगोल का जनक’ रैटजेल को कहा जाता है। जबकि ब्लाश सम्भववादी विचारधारा के प्रतिपादक थे। इन्होंने एनाल्स डीज्या ग्राफी पत्रिका का सम्पादन किया। ब्लाश ने टेबलॉ-डि-लाज्यो ग्राफी -डि ला फ्रांस नामक पुस्तक प्रकाशित की इनकी सबसे महत्वपूर्ण कृति मानव भूगोल थी।
17. सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित करें और नीचे दिए गए कूटों में से सही उत्तर चुनिए :
सूची-I सूची-II
(दृष्टिकोण) (योगदाता)
(a) नव निश्चयवाद (i) डी.एम. स्मिथ
(b) कल्याणपरक (ii) गुमन ओल्सन
(c) व्यवहारगत (iii) ग्रिफिथ टेलर
(d) आधुनिक मानवतावादी (iv) विलियम किर्क
कूट :
(a) (b) (c) (d) (a) (b) (c) (d)
(a) (i) (ii) (iii) (iv) (b) (iii) (i) (iv) (ii)
(c) (iv) (iii) (ii) (i) (d) (ii) (iv) (i) (iii)
उत्तर-(b)–(a) नव निश्चयवाद ग्रिफिथ टेलर
(b) कल्याणपरक डी.एम. स्मिथ
(c) व्यवहारगत विलियम किर्क
(d) आधुनिक मानवतावादी गुमन ओल्सन
18. वाणिज्यिक भूगोल के प्रणेता कौन है?
(a) एच.जे. मेकिण्डर (b) जी.जी. चिशोल्म
(c) पेट्रिक गिडिस (d) ए.जे. हर्बर्ट्सन
उत्तर-(b)–वाणिज्यिक भूगोल के प्रणेता जी.जी. चिशोल्म है। मैकिण्डर ने हदय स्थल सिद्धान्त का प्रतिपादन किया था। मैकिण्डर ने 1909 में रॉयल जियोग्राफी ऑफ सोसाइटी के समक्ष ‘इतिहास की भौगोलिक धुरी’ नामक शोध पत्र प्रस्तुत किया। 1919 में मैकिण्डर ने डेमोक्रेटिक आइडियाज एण्ड रियलटी नामक पुस्तक प्रकाशित की। ब्रिटिश भूगोलवेत्ता पेट्रिक गिडिंस ने क्षेत्रीय सर्वेक्षण की संकल्पना का प्रतिपादन किया तथा इन्हें व्यावहारिक भूगोल का जन्मदाता माना जाता है। 1904 में हरबर्टन ने रॉयल जियोग्राफी ऑफ सोसाइटी के समक्ष ‘विश्व के प्राकृतिक प्रदेश’ शोध पत्र प्रस्तुत किया जो 1905 में प्रकाशित हुआ।
19. निम्नलिखित दार्शनिकों में से किसने अनेकता में एकता के सिद्धान्त का प्रतिपादन किया?
(a) कार्ल रिट्टर (b) इमैनुएल कान्ट
(c) एलेक्जेण्डर वॉन हम्बोल्ट (d) ओ.एच. के. स्पेट
उत्तर-(a)–कार्ल रिट्टर ने अनेकता में एकता के सिद्धान्त का प्रतिपादन किया। अर्डकुण्डे रिटर की महत्वपूर्ण कृति है। इमेनुअल काण्ट कोनिसगबर्ग में जर्मन दार्शनिक भूगोलवेत्ता थे। इन्होंने भूगोल को दार्शनिक आधार दिया इन्हें आमैचेयर भूगोलवेत्ता कहा जाता है। 1750 में काण्ट की दो पुस्तकें प्रकाशित हुयी जो खगोलिकीय से सम्बन्धित थे –(a) जनरल नेचुरल साइंस (b) थ्योरी ऑफ हिवेन (c) अनकुन्डीडुंग। काण्ट को ज्योग्राफी ऑफ कोरोलाजी की संज्ञा दी गयी। एलेक्जेण्डर वॉन हम्बोल्ट जर्मन भूगोलवेत्ता थे। ये मुख्यत: भौतिक भूगोलवेत्ता थे। इन्होंने पृथ्वी को मानव का घर बताया। कासमास तथा एशिया सैन्ट्रले इनकी प्रमुख कृतियाँ हैं।
20. ई.सी. सेम्पुल निम्नलिखित में से किस स्कूल ऑफ ज्योग्राफी से संबंध रखती हैं?
(a) अमेरिकन स्कूल ऑफ ज्योग्राफी
(b) रसियन स्कूल ऑफ ज्योग्राफी
(c) ब्रिटिश स्कूल ऑफ ज्योग्राफी
(d) फ्रेंच स्कूल ऑफ ज्योग्राफी
उत्तर-(a)–ई.सी. सेम्पुल अमेरिकन स्कूल ऑफ ज्योग्राफी से सम्बन्ध रखती है। ये रेटजेल की शिष्या थीं तथा नियतिवाद की कट्टर समर्थक थी। इनकी प्रमुख कृतियों निम्न है–
(a) American History in its geographical Condition (1903)
(b) Influences of geography environment (1911)
(c) The geography of mediterianeas Region : its relation of American History (1931) नियतिवाद के सम्बन्ध में इनका प्रमुख कथन-मानव पृथ्वी तल की उपज है। रसियन स्कूल ऑफ ज्योग्राफी के प्रमुख भूगोलवेत्ता अनुचिन वी.ए. गेरासिनोव आई.पी. आदि थे। ब्रिटिश स्कूल ऑफ ज्योग्राफी के प्रमुख भूगोलवेत्ता मैकिण्डर जिनकी प्रमुख कृषि डेमोक्रेटिक आइडियाज एण्ड रियल्टिज थी रिचर्ड चोर्ले‚ जेम्स हट्टन‚ पीटर हैगेट चार्ल्स डार्विन इत्यादि थे। फ्रेंच स्कूल ऑफ ज्योग्राफी के प्रमुख भूगोलवेत्ता– ऑगस्ट काम्टे‚ ब्लाश फेप्रे लुसियन आदि थे।
21. 2011 की जनगणना के अनुसार निम्नलिखित में से किस राज्य में जनसंख्या की सबसे कम दशकीय वृद्धि दर रही है?
(a) अरुणाचल प्रदेश (b) मध्य प्रदेश
(c) पंजाब (d) नागालैंड
उत्तर-(d)–2011 की जनगणना के अनुसार उपरोक्त राज्यों की दशकीय वृद्धि दर इस प्रकार हैराज्य दशकीय वृद्धि दर 2011 (%) नागालैण्ड (-)0.6 पंजाब 13.9 मध्य प्रदेश 20.3 अरुणाचल प्रदेश 26.0
22. निम्नलिखित में से किस राज्य में बच्चों (0-6 वर्ष) में सर्वाधिक लिंगानुपात दर्ज किया गया है?
(a) मणिपुर (b) मिजोरम
(c) मेघालय (d) अरुणाचल प्रदेश
उत्तर-(d)–2011 की जनगणना के अनुसार (0-6 वर्ष) के बच्चों में सर्वाधिक लिंगानुपात अरुणाचाल प्रदेश का दर्ज किया गया है। राज्य लिंगानुपात
(0-6 वर्ष की आयु समूह का 2011 के अनुसार)
अरुणाचल प्रदेश 972 मिजोरम 970 मेघालय 970 मणिपुर 936
23. जनगणना वर्ष 2011 में भारत की कुल जनसंख्या 121 करोड़ में नगरीकरण का स्तर क्या था?
(a) 33.16% (b) 32.16%
(c) 30.16% (d) 31.16%
उत्तर-(d)–जनगणना वर्ष 2011 में भारत की कुल जनसंख्या 121 करोड़ में नगरीकरण का स्तर 31.16% था। 2011 के अन्तिम ऑकड़ों के अनुसार कुल जनसंख्या में ग्रामीण जनसंख्या 68.9% तथा शहरी जनसंख्या 31.1% है। हिमाचल प्रदेश में सर्वाधिक ग्रामीण जनसंख्या प्रतिशतता (90.0%) तथा दिल्ली में सर्वाधिक जनसंख्या प्रतिशतता
(97.5%) है।
24. निम्नलिखित में से किस शहर में ‘सिटी इम्प्रूवमेण्ट ट्रस्ट’ स्थापित किया गया था?
(a) बंबई (b) कलकत्ता
(c) हैदराबाद (d) लखनऊ
उत्तर-(a)–बम्बई में पहला ‘सिटी इम्प्रूवमेण्ट ट्रस्ट’ स्थापित किया गया था। बम्बई नगर का बसाव सालसियाटिक नामक द्वीप पर है।
25. हॉरवूड और बॉयस ने निम्नलिखित में किस पद को “जनता‚ कागजी कार्य और पार्सल को समर्पित” जैसी सुक्ति के रूप में उल्लेख किया था?
(a) ढाँचा (b) क्रोड
(c) परिधि (d) उपांत
उत्तर-(b)–उपर्युक्त क्रोड के लिए की गयी थी। उपान्त शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग 1937 में स्मिथ ने किया था। उन्होंने इसे ऐसा मिश्रित भूभाग बताया जहाँ नगर तथा गाँव की विशेषताएँ मिश्रित रूप में पायी जाती है।
26. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए :
(a) विश्व में पेट्रोलियम उत्पादन का 30% हिस्सा अपतटीय इलाकों में होता है।
(b) समुद्र में विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र तट से 100 समुद्री मील तक विस्तृत होता है।
(c) केवल 1 प्रतिशत से कम समुद्रीय भाग ही संरक्षित क्षेत्र के रूप में घोषित किया गया है।
(d) ग्रेट बैरियर रीफ सबसे बड़ा समुद्रीय संरक्षित क्षेत्र है। निम्न में से कौनसा कथन सही है?
(a) (a) और (b) (b) (a), (c) और (d)
(c) (a) और (d) (d) (b) और (c)
उत्तर-(c)–विश्व में पेट्रोलियम उत्पादन का 30% हिस्सा उपतटीय इलाकों में होता है। _ समुद्र में विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र तट से 200 समुद्री मील तक विस्तृत होता है। जिसमें सम्बन्धित क्षेत्र को वैज्ञानिक अनुसन्धान कृत्रिम द्वीप निर्माण तथा प्राकृतिक संसाधनों के दोहन की छूट होती है। भारत का विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र लगभग 20 लाख वर्ग किमी0 है। किसी क्षेत्र की प्रादेशिक समुद्री सीमा 12 नॉटिकल मील तक पायी जाती है। 1% से अधिक समुद्रीय भाग को संरक्षित क्षेत्र के रूप में घोषित किया गया है। ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप के पूर्वी भाग में स्थित ग्रेट बैरियर रीफ सबसे बड़ा समुद्री संरक्षित क्षेत्र है।
27. निम्नांकित में देशों का कौन सा समूह विश्व में खाद्य की कमी वाले क्षेत्रों में खाद्यान्नों के प्रवाह का प्रतिनिधित्व करता है?
(a) उत्तरी अमेरिका‚ अर्जेन्टीना‚ भारतीय उपमहाद्वीप और चीन से पश्चिमी यूरोप‚ पूर्वोत्तर और जापान
(b) ऑस्ट्रेलिया‚ दक्षिण‚ अफ्रीका‚ भारत से मध्यपूर्व‚ पश्चिमी यूरोप और उत्तरी अफ्रीका
(c) उत्तरी अमेरिका‚ अर्जेन्टीना‚ दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया से जापान‚ रूस तथा पश्चिमी यूरोप
(d) उत्तरी अमेरिका‚ ऑस्ट्रेलिया‚ रूस से तीन‚ जापान तथा मध्यपूर्व
उत्तर-(c)–विश्व में खाद्य की कमी वाले क्षेत्रों में खाद्यानों के प्रवाह का प्रतिनिधित्व करने वाले देश हैं–उत्तरी अमेरिका अर्जेन्टीना‚ दक्षिणी अफ्रीका‚ ऑस्ट्रेलिया‚ रूस तथा पश्चिमी यूरोप। उपर्युक्त सभी देश गेहूँ‚ चुकन्दर‚ मक्का‚ जौ आदि खाद्यान्नों के प्रमुख उत्पादक देश हैं। उपर्युक्त सभी देशों खाद्यान्न उत्पादन की अधिकता तो पायी ही जाती है साथ ही साथ यहाँ जनाधिक्य जैसी स्थिति नहीं है जिस कारण ये सभी देश निर्यात करने में सक्षम हो पाते हैं।
28. निम्नांकित में किन देशों के समूह को अपनी माँग की पूर्ति के लिए लौह के आयात की आवश्यकता होती है?
(a) पश्चिमी यूरोप‚ ब्राजील तथा कनाडा
(b) जापान‚ पश्चिमी यूरोप तथा संयुक्त राज्य अमेरिका
(c) भारत‚ चीन और दक्षिण अफ्रीका
(d) संयुक्त राज्य अमेरिका‚ पश्चिमी यूरोप तथा मेक्सिको
उत्तर-(b)–जापान‚ पश्चिमी यूरोप तथा संयुक्त राज्य अमेरिका देशों के समूह को अपनी माँग की पूर्ति के लिए लौह के आयात की आवश्यकता होती है। जापान पश्चिमी यूरोप तथा संयुक्त राज्य अमेरिका विकसित देशों का समूह है। जिस कारण यहाँ अधिकतम लौह की आवश्यकता पड़ती है। जापान अपनी सम्पूर्ण औद्योगिक आवश्यकता का लौह आयात करता है।
29. निम्नांकित में से कौन व्यस्ततम महासागरीय व्यापार मार्ग है?
(a) पनामा (b) उत्तर अटलांटिक मार्ग
(c) स्वेज नहर (d) केप मार्ग
उत्तर-(b)–उत्तरी अटलांटिक मार्ग विश्व का व्यस्ततम महासागरीय मार्ग है। जो पश्चिम यूरोपीय और उत्तरी अमेरिकी देशों को जोड़ता है।
उत्तरी अटलांटिक महासागर के दोनों तटों पर विश्व प्रमुख औद्योगिक तथा विकसित देश स्थित है। इस जलमार्ग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार में खाद्य पदार्थ कच्चे माल एवं उत्पादित सामग्री की मात्रा विश्व के सभी जलमार्गों से अधिक रहती है। पनामा नहर अटलांटिक महासागर और प्रशान्त महासागर को जोड़ती है इस नहर का उद्घाटन 15 अगस्त 1914 को हुआ था पनामा नहर की लम्बाई 82 किमी0 चौड़ाई 16 किमी0 तथा गहराई लगभग 12 मीटर है। इस नहर की अधिकतम ऊँचाई 26 मीटर है। वर्तमान में नहर पर संयुक्त राज्य अमेरिका का नियन्त्रण है। स्वेज नहर का निर्माण 1869 में पूर्ण हुआ था यह भूमध्य सागर और लाल सागर के मध्य स्थित है। तथा भूमध्य सागर को हिन्द महासागर से जोड़ती है। केप मार्ग पूर्वी उत्तरी अमेरिका और पश्चिमी यूरोपीय देशों को अफ्रीका‚ दक्षिणी पूर्वी एशिया और ओसेनिया से जोड़ता
30. निम्नांकित में किसके आयात के कारण मध्य पूर्व देशों के साथ भारत का व्यापार संतुलन हमेशा ऋणात्मक होता है?
(a) खाद्य पदार्थ (b) सूती वस्त्र
(c) कोयला और लोहा (d) पेट्रोलियम
उत्तर-(d)–पेट्रोलियम आयात के कारण भारत का मध्य-पूर्व देशों के साथ व्यापार हमेशा ऋणात्मक रहा है। ज्ञातव्य है कि भारत उपरोक्त मदों में पेट्रोलियम पदार्थ का सर्वाधिक आयात करता है। इसी कारण निर्यात के मुकाबले आयात अधिक होने से भारत का व्यापार हमेशा ऋणात्मक रहा।
31. निम्नांकित में किस लेखक ने भारतीय प्रजातियों का वर्गीकरण किया है?
(a) आर.एल. सिंह (b) सर हर्बर्ट रिसले
(c) हंटिंगटन (d) ट्रिवार्था
उत्तर-(b)–सर हर्बर्ट रिसले ने भारतीय प्रजातियों का वर्गीकरण किया है। आर.एल सिंह ने प्रादेशिक योजना में city region/ सिटी रिजन शब्द का प्रयोग किया। ट्रिवार्था ने जलवायु विज्ञान में जलवायु का वर्गीकरण किया। जिसमें इन्होंने आनुभविक तथा जननिक दोनों प्रकार के वर्गीकरण को समविष्ट किया। हंटिंगटन अमेरिकन भूगोलवेत्ता थे तथा नियतिवादी विचारक थे। इनकी प्रमुख पुस्तकें निम्न थी–सिवीलाइजेशन एण्ड क्लाइमेट प्रिंसिपल ऑफ ह्यूमन ज्योग्राफी प्लस ऑफ एशिया आदि।
32. हृदयस्थल सिद्धान्त का प्रतिपादन किसने किया था?
(a) पी.ई. जेम्स (b) एच.जे. मैकिन्डर
(c) जी.जी. चिशोल्म (d) एच.आर. मिल
उत्तर-(b)–हृदयस्थल सिद्धान्त का प्रतिपादन मैकिन्डर ने किया था। मैकिन्डर ने 1904 में ‘इतिहास का भौगोलिक धुरी’ नामक शोध पत्र प्रस्तुत किया। 1919 में‚ मैकिन्डर की ‘डेमोक्रेटिक आइडियाज एण्ड रियल्टिज’ नामक पुस्तक प्रकाशित हुयी जिसमें उन्होंने धुरी क्षेत्र को हृदयस्थल नाम दिया। मैकिन्डर ने हदयस्थल शब्द जेम्स पिथर ग्रीन से लिया था। द राउण्ड वर्ल्ड ए विसिंग ऑफ द पीस एक अन्य लेख 1943 में प्रस्तुत हुआ।
33. नीचे दो कथन दिए गए हैं‚ एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) कहा गया है। नीचे दिए गये कूटों से सही उत्तर का चयन करें।
अभिकथन (A) :
क्यूबा और संयुक्त राज्य अमेरिका भौगोलिक रूप से एक-दूसरे के नजदीक हैं‚ लेकिन ये मित्र पड़ोसी नहीं हैं।
कारण (R) : उनके राजनैतिक दर्शन में गहरे मतभेद हैं।
कूट :
(a) (A) और (R) दोनों सत्य हैं और (R), (A) की सही व्याख्या है।
(b) (A) और (R) दोनों सत्य है और (R), (A) की सही व्याख्या नहीं है।
(c) (A) सत्य है‚ परन्तु (R) असत्य है।
(d) (A) असत्य है‚ परन्तु (R) सत्य है।
उत्तर-(b)–संयुक्त राज्य अमेरिका एवं क्यूबा पड़ोसी राज्य तो नहीं है लेकिन भौगोलिक दृष्टि से समीप हैं। क्यूबा मध्य अमेरिकी या कैरेबियाई देश है। जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका उत्तरी अमेरिका का देश है। संयुक्त राज्य अमेरिका का दक्षिण पूर्वी भाग क्यूबा के अधिक नजदीक है। संयुक्त राज्य अमेरिका जहाँ पूंजीवादी देश है वहीं क्यूबा समाजवादी। इस तरह दोनों के राजनीतिक दर्शन में भिन्नता है। अत:
दोनों कथन सही हैं लेकिन कूट R कूट A का सही स्पष्टीकरण नहीं है।
34. “संस्कृति वह सम्मिश्र समष्टि है जिसमें समाज के सदस्य के रूप में व्यक्ति द्वारा अर्जित ज्ञान‚ विश्वास‚ कला‚ नैतिकता‚ कानून‚ प्रथाएँ शामिल होती है।” संस्कृति की यह परिभाषा किस लेखक द्वारा दी गई?
(a) ई.बी. टेलर (b) आर. एच. लॉवी
(c) क्रोबर (d) गोल्डेनवाइजर
उत्तर-(a)–उपर्युक्त परिभाषा ई.बी. टेलर द्वारा प्रस्तुत की गयी है। प्रसिद्ध जर्मन विद्वान क्रोबर ने वलित पर्वतों की उत्पत्ति की व्याख्या के लिए भूसन्नति सिद्धान्त का प्रतिपादन किया।
35. भारतीय लोगों द्वारा लोक सभा के लिए अपने प्रतिनिधियों का निर्वाचन किसके द्वारा किया जाता है?
(a) एक अधिमानी बैलट द्वारा
(b) ग्राम सभा में जनता की पसन्द द्वारा
(c) विशेषज्ञों के पैनल द्वारा
(d) राज्य विधानमंडल द्वारा चुनाव के माध्यम से
उत्तर-(a)–भारतीय लोगों द्वारा लोक सभा के लिए अपने प्रतिनिधियों का निर्वाचन एकल अधिमानी बैलट द्वारा किया जाता है। संसद के दो सदन होते है–लोकसभा तथा राज्यसभा लोकसभा को निम्न सदन कहते है जिसमें सदस्यों की संख्या 545 होती है तथा राज्य सभा को उच्च सदन कहते है जिसमें सदस्यों की संख्या 250 होती है।
36. किसके सिद्धान्त में यह प्रतिपादित किया गया है कि ‘कोई क्षेत्र गरीब है क्योंकि यह गरीब है”?
(a) मिर्डाल (b) बेरी
(c) हिर्समान (d) बाउडविले
उत्तर-(a)–‘कोई क्षेत्र गरीब है क्योंकि यह गरीब है’ यह सिद्धान्त मिर्डाल द्वारा प्रतिपादित किया गया है। गुन्नार मिर्डाल स्वीडिश अर्थशास्त्री थे। इन्होंने विकास का संचयी कारणत्व सिद्धान्त का विकास किया। मिर्डाल के सिद्धान्त के अनुसार बाजारी शक्तियों के कारण असमानता घटने के बजाए बढ़ती है क्योंकि पश्चगामी प्रभाव प्रसरण प्रभावों की तुलना में अधिक शक्तिशाली होते हैं। –हर्शमैन ने घ्रुवीयकरण और टपकन सिद्धान्त का प्रतिपादन किया था। बेरी एग्लों अमेरिकन भूगोलवेत्ता थे। इन्होंने नगरीय भूगोल का विकास प्रधान शहर‚ श्रेणी आकार नियम का अध्ययन किया। इन्होंने प्रादेशिक संश्लेषण का नवीन रूप विकसित किया। इनकी प्रमुख पुस्तकें सिटीज ऐज सिस्टम (cities as systems) विदिन सिस्टम ऑफ सिटीज। गुन्नार मिर्डाल की पुस्तकें निम्न है–एशियन ड्रामा (Asian Drama) अगेंस्ट द स्ट्रीम (Against the stream)
37. निम्नांकित किस अवधारणा में निर्णय प्रक्रिया में पर्यावरणीय‚ सामाजिक तथा आर्थिक कारकों के महत्व को दर्शाने वाला ‘ट्रिपल बॉटम लाइन’ (टी.बी.एल.) शब्द परिभाषित किया गया है?
(a) समावेशिता (b) संवहनीयता
(c) बहु-केंद्रिकता (d) एकल केंद्रिक
उत्तर-(b)–संवहनीयता की अवधारणा में निर्णय प्रक्रिया में पर्यावरणीय सामाजिक तथा आर्थिक कारकों के महत्व को दर्शाने वाला ट्रिपल बॉटम लाइन’ (टी.बी.एल.) शब्द परिभाषित किया गया है।
38. निम्नांकित में किस क्षेत्र की विशेषता विभिन्न महत्व वाले सेवा केंद्रों के अनुक्रम के माध्यम से ऊर्ध्वगामी तथा अधोगामी प्रवाही संचार तंत्र है?
(a) विषमांगी (b) समांगी
(c) नोडल (d) प्रशासनिक
उत्तर-(c)–नोडल में क्षेत्रों में उर्ध्वगामी व अधोगामी प्रवाही संचार होता है। क्योंकि नोडल क्षेत्र किसी भी क्षेत्र का विभिन्न क्षेत्र होता है। जहाँ अपने आस-पास के क्षेत्रों से अधिकतम तथा विशिष्ट प्रकार की गतिविधियाँ पायी जाती हैं।
39. निम्नांकित में कौन-सा नियोजन क्षेत्र परिवहन रेखा अथवा सिंचाई चैनलों के साथ विकसित होता है?
(a) सांक्रांतिक क्षेत्र (b) नदी घाटी क्षेत्र
(b) अक्षीय विकास क्षेत्र (d) सिटी क्षेत्र
उत्तर-(c)–अक्षीय विकास नियोजन क्षेत्र परिवहन रेखा अथवा सिंचाई चैनलों के साथ विकसित होता है। नदी घाटी क्षेत्र के अन्तर्गत किसी प्रमुख नदी को एक नियोजित इकाई के रूप में चुना जाता है इसमें प्रखण्डीय नियोजन एवं बहुस्तरीय प्रादेशिक नियोजन की विभिन्न विधियों का प्रयोग करके अपेक्षित विकास स्तर को प्राप्त किया जाता है। इसका सर्वप्रथम प्रयास 1933 में संयुक्त राज्य अमेरिका में टेनसी घाटी प्राधिकरण के रूप में किया गया था। सिटी क्षेत्र के अन्तर्गत वह क्षेत्र आता है। जो किसी नगर के चारों तरफ स्थित होता है तथा नगर के प्रभाव क्षेत्र में रहता है।
40. निम्नांकित में किसने चंडीगढ़ शहर की योजना का डिजाइन तैयार किया है?
(a) अर्नस्ट में (b) ली-कार्बुजियर
(c) सोरिया-वाइ-मट्टे (d) चार्ल्स एडवर्ड जेनेरेट
उत्तर-(b)−चंडीगढ़ शहर की योजना का डिजाइन ली. कार्बुजियर ने तैयार किया था। चण्डीगढ़ एक नियोजन करके बना शहर है।
41. भारत के किस क्षेत्र में दण्डकारण्य स्थित है?
(a) पूर्वोत्तर (b) दक्षिण-पूर्व
(c) मध्य (d) उत्तर
उत्तर-(b)–दण्डकारण्य प्रदेश का विस्तार 17o50′उत्तर से 21o6′उत्तर अक्षांश तक तथा 80o15′पूर्वी देशान्तर से 84o2′पूर्वी देशान्तर तक है। इस प्रदेश का क्षेत्रफल 77.847 वर्ग किमी0 है। दण्डकारण्य प्रदेश में छत्तीसगढ़ का बस्तर तथा उड़ीसा का कोरापुट एवं कालाहाड़ी जिले में स्थित है। यह प्रदेश पठारी है तथा जनजातीय तथा आदिवासी प्रदेश का उत्कृष्ठ उदाहरण है। अभी तक यह प्रदेश वाह्य विकसित प्रदेशों से भिन्न तथा अलग-थलग है। यह देश का अत्यंत पिछड़ा प्रदेश है। लेकिन खनिजों की दृष्टि से अत्यंत सम्पन्न है। यहाँ लौह अयस्क चूना‚ पत्थर‚ क्वार्टज‚ मैंगनीज‚ बाक्साइट इत्यादि खनिज मिलते हैं। देश का 21% लौह अयस्क का भण्डार यही स्थित है।
42. तिस्ता नदी निम्न की सहायक नदी है :
(a) सुबान्सीरी (b) मेघना
(c) गंगा (d) ब्रह्मपुत्र
उत्तर-(d)–तिस्ता नदी ब्रह्मपुत्र की सहायक नदी है। ब्रह्मपुत्र नदी का उद्गम मानसरोवर झील के निकट होता है। यह नामचाबरवा पर्वत को काटकर भारत में प्रवेश करती है। तथा महान हिमालय को काटकर गार्ज बनाती है तथा दिहांग के नाम से प्रवेश करती है। सदिया के पास इसमें दिहांग तथा लोहित नदियो के संगम के पश्चात् इसका नाम ब्रह्मपुत्र पड़ता है। इसकी अन्य सहायक नदियाँ सुबनसिरी‚ मानदन‚ सन्तोष‚ आदि। बांग्लादेश में प्रवेश करने पर ब्रह्मपुत्र का नाम जमुना हो जाता है गंगा की सहायक नदियाँ–यमुना‚ टोंस‚ सोन‚ पुनपुन‚ दामोदर‚ नारायण‚ रामगंगा‚ गोमती‚ घाघरा आदि। गंगा नदी मेघना के नाम से समुद्र में मिलती है।
43. भारत के किस राज्य में सागौन वन का अधिक जमाव है?
(a) उत्तर प्रदेश (b) बिहार
(c) कर्नाटक (d) मध्य प्रदेश
उत्तर-(d)–सागौन वन का अधिक जमाव मध्य प्रदेश में है। सागौन उष्ण कटिबन्धीय पतझड़ वन के अन्तर्गत आता है इन वनों के लिए 100 से 200 सेमी0 वर्षा की आवश्यकता होती है। उष्ण कटिबन्धीय अन्य वृक्षों के नाम निम्न है–आम‚ आँवला‚ साल‚ हरेड़-बहेड़‚ शीशम चन्दन‚ महुआ आदि। मध्य प्रदेश के अलावा ये वन हिमालय के गिरिपद‚ छत्तीसगढ़‚ कर्नाटक‚ महाराष्ट्र‚ तमिलनाडु‚ पश्चिमी घाट के पूर्वी भाग उड़ीसा‚ झारखण्ड‚ उत्तर प्रदेश‚ उत्तराखण्ड में पाये जाते हैं।
44. भारत के लगभग सभी संचलनीय तेल निक्षेप निम्नांकित में किस शैल में अवस्थित हैं?
(a) प्राचीन ग्रेनाइट जमाव क्षेत्र
(b) प्राचीन अवसादित जमाव क्षेत्र
(c) कायान्तरी जमाव क्षेत्र
(d) तृतीयक अवसादित क्षेत्र
उत्तर-(d)−भारत के लगभग सभी तेल निक्षेप तृतीयक अवसादित क्षेत्र के अन्तर्गत आते हैं। तेल का निर्माण वनस्पतियों के निक्षेप से ही होता है। लेकिन उन्हीं वनस्पतियों से जिनमें लकड़ी का अभाव पाया जाता है। क्योंकि मोटे तनों व लकड़ियों के निक्षेप से कोयला का निर्माण होता है। प्रथम अवसादी जमाव के समय वनस्पतियों का निर्माण नही हुआ था। तेल की प्राप्ति केवल अवसादी शैलों में होती है। बलुआ पत्थर अथवा चूने की शैलों खनिज तेल उसी प्रकार संचित रहता है जैसे स्पंज में पानी। करोड़ों वर्षों की अवधि में जलीय वनस्पतियों एवं द्वीपों के अवसादों के बने एवं ताप एवं दाब द्वारा उनके वियोजन होने से निर्मित खनिज तेल निर्मित होता है। 45 हुदहुद चक्रवात से भारत का कौन-सा तटीय क्षेत्र प्रभावित हुआ?
(a) चेन्नई तट (b) केरल तट
(c) आंध्र प्रदेश तट (d) बंगाल तट
उत्तर-(c)–हुदहुद चक्रवात से आन्ध्र प्रदेश का तटीय क्षेत्र सर्वाधिक प्रभावित हुआ है।
46. निम्नांकित में कौन सही है?
(a) अंकगणितीय माध्य एक संख्यात्मक मूल्य है
(b) अंकगणितीय माध्य डाटा समूह में परिवर्तनशीलता से प्रभावित नहीं होता है
(c) अंकगणितीय माध्य सदैव एक धनात्मक अंक होता है।
(d) अंकगणितीय माध्य डाटा किसी और सांख्यिकीय विश्लेषण में उपयोगी नहीं होता है
उत्तर-(a)–अंकगणितीय माध्य एक सांख्यात्मक मूल्य है। अंकगणितीय माध्य डाटा समूह में परिवर्तनशीलता से प्रभावित होता है। अंकगणितीय माध्य सदैव एक धनात्मक नहीं होता है। अंकगणितीय माध्य डाटा किसी और सांख्यिकीय विश्लेषण में भी उपयोगी होता है।
47. निम्नांकित कौन-सी केंद्रीय प्रवृत्ति परिक्षेपण के अध्ययन की उपयुक्त विधि है?
(a) अंकगणितीय माध्य (b) माध्यिका
(c) बहुलक (d) ज्यामितीय माध्य
उत्तर-(b)–केन्द्रीय प्रवृत्ति परिक्षेपण के अध्ययन की उपयुक्त विधि माध्यिका है। किसी समंक श्रेणी के मूल्यों को आरोही अथवा अवरोही क्रम में व्यवस्थित करने के पश्चात् जो मूल्य श्रेणी के मध्य में स्थित होता है उसे उस श्रेणी का माध्यिका मूल्य कहते हैं।
48. निम्नांकित में कौन-सी मानचित्रण तकनीक क्षेत्रीय अर्थव्यवस्था की विभिन्न विशेषताओं के मध्य स्थानिक सहबद्धता की माप के लिए उपयुक्त है?
(a) दण्ड आरेख (b) पाई आरेख
(c) वर्णमात्री (d) सममान रेखा
उत्तर-(b)–पाई आरेख मानचित्र तकनीक क्षेत्रीय अर्थव्यवस्था की विभिन्न विशेषताओं के मध्य स्थानिक सहबद्धता की माप के लिए उपयुक्त है। वर्ण मात्री भिन्न-भिन्न घनत्व वाली छायाओं के द्वारा किसी वस्तु की प्रति इकाई क्षेत्र औसत संख्या या प्रतिशत मूल्य जैसे जनसंख्या का प्रति वर्ग किमी0 घनत्व अथवा किसी फसल का भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में प्रति हेक्टेयर उत्पादन आदि प्रदर्शित किया जाता है। सममान रेखा मानचित्र पर किसी वस्तु के समान मूल्य या घनत्व वाले स्थानों को मिलाने वाली रेखाएँ सममान रेखाएँ कहलाती हैं।
49. सूची-I को सूची-II सुमेलित करें और नीचे दिए गये कूटों से सही उत्तर का चयन करें :
सूची-I सूची-II
(विधि) (उपयोग)
(a) सममान रेखा (i) प्राकृतिक समूह
(b) बिंदु मानचित्र (ii) जनसंख्या का वितरण
(c) विकीर्ण आरेख (iii) पवन की दिशा
(d) तारक आरेख (iv) सापेक्षिक रूप से क्रमिक परिवर्तन
कूट :
(a) (b) (c) (d) (a) (b) (c) (d)
(a) (iv) (ii) (iii) (i) (b) (ii) (iv) (iii) (i)
(c) (iv) (ii) (i) (iii) (d) (ii) (iv) (i) (iii)
उत्तर-(c)विधि उपयोग
(a) सममान रेखा सापेक्षिक रूप से क्रमिक परिवर्तन
(b) बिन्दु मानचित्र जनसंख्या का वितरण
(c) विकीर्ण आरेख प्राकृतिक समूह
(d) तारक आरेख पवन की दिशा
50. समगभीरता रेखाओं की सहायता से निम्नांकित में क्या दर्शाया जाता है?
(a) समुद्री जल की लवणता
(b) महासगरीय जल की गहराई
(c) महासागरीय कटकों की ऊँचाई
(d) लहर की आयाम
उत्तर-(b)−समगभीरता रेखाओं की सहायता से महासागरीय जल की गहरायी को दर्शाया जाता है। महासागरीय जल की लवणता की समान मात्रा प्रदर्शित करने वाली रेखा आइसोहेलाइन कहलाती है।

Top
error: Content is protected !!