You are here
Home > ebooks > Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi

Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi

Himachal Pradesh HPTET Child Development and Pedagogy Previous Papers Setwise

1. शिक्षण की आधुनिक संकल्पना के अनुसार‚ एक अध्यापक को मुख्य भूमिका निभानी चाहिए
(a) दार्शनिक की (b) मित्र की
(c) कार्यसहभागी की (d) अनुदेशक की
Ans: (c) शिक्षण की आधुनिक संकल्पना के अनुसार कक्षा-कक्ष में अध्यापक की भूमिका कार्यसहभागी की होनी चाहिए ताकि छात्रों के कौशल में विकास हो सके।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


2. वर्तमान शिक्षा व्यक्ति को जीवन से अलग करती है क्योंकि
(a) यह जीवन का समग्र भाग नहीं है
(b) यह व्यक्ति को दाना-पानी देने में असमर्थ है
(c) यह व्यक्ति को नौकरी देने में असमर्थ है
(d) यह व्यक्ति की मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति नहीं करती है
Ans: (a) शिक्षा का मुख्य उद्देश्य व्यक्तित्व का सर्वांगिण विकास करना है परन्तु वर्तमान शिक्षा अपने उद्देश्य से भटक गई है और अब केवल रोजगार परक रह गई है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


3. आपकी कक्षा के कुछ छात्रों का ध्यान पढ़ने से हट गया है। आप उनका ध्यान पुन: केन्द्रित करने के लिए कौनसा उपाय करेंगे?
(a) छोटी-सी शारीरिक क्रिया करवाना
(b) थोड़ी देर के लिए कक्षा को निलंबित करना
(c) बच्चों को ध्यान लगाने के लिए कहना
(d) कक्षा को खेल के लिए भेजना
Ans: (c) कक्षा-कक्ष में छात्रों के ध्यान भंग होने पर अध्यापक द्वारा पुन: ध्यान केन्द्रित करने को कहना चाहिए क्योंकि ध्यान भंग होना किसी प्रकार का दोष या गलती नहीं है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


4. एक विषय पर सर्वाधिक एवं आधुनिकीकृत सूचना किस दोत से प्राप्त होती है?
(a) विश्वकोश
(b) इन्टरनेट
(c) नवीनतम अकादमिक पत्रिकाएँ
(d) अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन
Ans: (b) एक विषय पर सर्वाधिक एवं आधुनिकीकृत सूचना प्रदाता दोत इन्टरनेट है जिसके द्वारा आसानी से सूचना का आदान प्रदान कर सकते है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


5. महात्मा गांधी द्वारा चलाई गई शिक्षा की प्रणाली जानी जाती है
(a) बुनियादी शिक्षा प्रणाली (b) व्यावसायिक शिक्षा प्रणाली
(c) बाल केन्द्रित शिक्षा प्रणाली (d) हस्तकला शिक्षा प्रणाली
Ans: (a) महात्मा गांधी द्वारा चलाई गई शिक्षा की प्रणाली बुनियादी शिक्षा प्रणाली या वर्धाशिक्षा प्रणाली के नाम से जानी जाती है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


6. जब अध्यापक प्रथम बार कक्षा-कक्ष में प्रवेश करे तो उसे बात करनी चाहिए
(a) विद्यालय भवन के बारे में
(b) विद्यालय के प्रधानाध्यापक के बारे में
(c) पाठ्यपुस्तक के बारे में
(d) अपने एवं छात्रों के बारे में
Ans: (d) अध्यापक द्वारा प्रथम बार कक्षा-कक्ष में प्रवेश करने पर छात्र-शिक्षक अन्तर्क्रिया अनिवार्य है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


7. निम्न में से कौन-सा छात्रों के पलायन का कारण नहीं होता?
(a) अरुचिकर विद्यालयी कार्यक्रम
(b) अध्यापक का पक्षपातपूर्ण व्यवहार
(c) बहुत अधिक गृह कार्य
(d) बहुत अधिक छुट्टियाँ
Ans: (d) विद्यालय से छात्रों के पलायन के कारण निम्न है- → विद्यालय का वातावरण → अरुचिकर पाठ्यक्रम → पक्षपातपूर्ण व्यवहार → आवश्यकता से अधिक गृहकार्य देना → कठोर दण्ड व्यवस्था आदि
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


8. अध्यापक का कौन-सा कार्य उपयुक्त अधिगम वातावरण बनाने में मदद नहीं करता?
(a) बच्चों को सुरक्षा का भाव देना
(b) बच्चों को स्वतंत्रता का भाव देना
(c) बच्चों को अन्य बच्चों की आलोचना करने देना
(d) बच्चों को निर्भय बनाना
Ans: (c) अध्यापक द्वारा किया गया कार्य ही अधिगम वातावरण को बनाने का कार्य करता है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


9. प्रकृतिवाद के अनुसार शिक्षा का केन्द्र होना चाहिए
(a) अध्यापक (b) बालक
(c) पाठ्यक्रम (d) उपरोक्त में से कोई नहीं
Ans: (b) प्रकृतिवाद के प्रमुख चिंतक रुसों है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


10. जब अध्यापक एक छात्र को सफलता का अहसास कराता है तो वह उपयोग कर रहा होता है
(a) तत्परता के नियम का (b) अभ्यास के नियम का
(c) प्रभाव के नियम का (d) मानसिक तत्परता के नियम का
Ans: (c) अध्यापक द्वारा छात्र को सफलता का अहसास करना प्रभाव के नियम का उपयोग करना है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


11. प्रतिभावान बच्चों की शिक्षा के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रावधान है
(a) योग्यता के आधार पर समूह बनाना
(b) दोहरी कक्षोन्नति देना
(c) कार्यक्रम को समृद्ध बनाना
(d) विशिष्ट विद्यालयों का प्रावधान करना
Ans: (c) प्रतिभावान बच्चों की शिक्षा के लिए शैक्षिक कार्यक्रम को समृद्ध बनाना सर्वश्रेष्ठ प्रावधान है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


12. आपकी कक्षा के एक विद्यार्थी में झूठ बोलने की आदत है। आप उसके साथ कैसा व्यवहार करेंगे?
(a) झूठ न बोलने के लिए कहेंगे
(b) उसे सजा देंगे
(c) उसकी उपेक्षा करेंगे
(d) उसे विश्वास में लेंगे एवं परामर्श देंगे
Ans: (d) छात्रों के दोषों को दूर करने के लिए छात्र के साथ आत्मीयता का सम्बन्ध बनाना चाहिए ताकि पता चल सके की दोष का कारण क्या है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


13. स्कूल प्रशासन कमजोर बच्चों के लिए आयोजित अतिरिक्त कक्षाओं में से कुछ आपको आवंटित करता है। एक अध्यापक के रूप में आपकी क्या प्रतिक्रिया होगी?
(a) प्रतिवाद करेंगे और कक्षा नहीं लेंगे
(b) निर्णय के पुनर्विचार का आग्रह करेंगे
(c) विद्यार्थियों से कहेंगे कि वे स्वयं तैयारी करें
(d) इसे अपने दायित्व के रूप में स्वीकार करेंगे
Ans: (d) स्कूल प्रशासन द्वारा दिये गए वे सभी कार्य (जो दोष रहित हैं) उसे अध्यापक को अपना दायित्व समझकर स्वीकार कर लेना चाहिए।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


14. राष्ट्रीय शिक्षा नीति‚ 1986 के अनुसार शिक्षा पर निवेश कुल राष्ट्रीय उत्पादन का प्रतिशत होना चाहिए
(a) 6% (b) 10% (c) 4% (d) 3%
Ans: (a) भारत के प्रधानमंत्री राजीव गांधी द्वारा शिक्षा में सुधार के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 लागू किया गया जिसमें शिक्षा के लिए धन की कमी को पूरा करने के लिए कुल GDP का 6% शिक्षा पर खर्च करने का प्रावधान किया गया था।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


15. शिक्षण कार्य प्रारम्भ करने से पूर्व शिक्षक को
(a) छात्रों को खड़ा करना चाहिए
(b) छात्रों को मानसिक रूप से तैयार करना चाहिए
(c) श्याम-पट को साफ करना चाहिए
(d) छात्रों को चुप रहने के लिए कहना चाहिए
Ans: (b) शिक्षण कार्य प्रारम्भ करने से पूर्व शिक्षक को छात्रों को मानसिक रूप से तैयार करना चाहिए क्योंकि इससे छात्रों की ग्रहण क्षमता बढ़ जाती है एवं कक्षा-कक्ष में अनुशासन स्थापित हो जाता है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


16. अध्यापन की पद्धति के रूप में व्याख्यान प्रणाली के बारे में निम्नलिखित कथनों का अध्ययन करें:
A. सूचना प्रदान करने की यह एक कुशल विधा है।
B. विद्यार्थियों को आलोचनात्मक दृष्टि से सोचने के लिए प्रेरित करने हेतु यह एक प्रभावपूर्ण प्रणाली है। इनमें से कौन-सा कथन सही है?

(a) केवल A (b) केवल B
(c) A तथा B दोनों (d) न A न B
Ans: (c) व्याख्यान प्रणाली एक कुशल विधा है जिसके द्वारा विद्यार्थियों को आलोचनात्मक दृष्टि से सोचने के लिए प्रेरित किया जा सकता है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


17. सलीम संगीत में निष्णात है परन्तु गणित में अच्छा नहीं कर पाता। गणित के अध्यापक के रूप में आप सलीम को क्या कहेंगे?
(a) उससे कहेंगे कि संगीत का कोई भविष्य नहीं है
(b) उससे संगीत छोड़कर गणित की पढ़ाई करने को कहेंगे
(c) उसके अभिभावकों को बुलाकर बात करेंगे
(d) उससे कहेंगे कि वह गणित में भी अच्छा प्रदर्शन कर सकता है और उसे गणितीय अवधारणाएँ समझायेंगे
Ans: (d) किसी विद्यार्थी को उसके मनपसंद विषय से कभी दूर नहीं करना चाहिए और न ही छोड़ने के लिए कहना चाहिए अगर वह अन्य विषय में कमजोर है तो उसे उस विषय पर विशेष प्रशिक्षण देना चाहिए।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


18. शिक्षण करते समय आपको लगे कि जो कुछ आपने पढ़ाया है वह सही नहीं है तो आप
(a) प्रकरण अधूरा छोड़ देंगे तथा दूसरा प्रकरण शुरू कर देंगे
(b) छात्रों से कहेंगे कि गलती हुई और उसे ठीक कर देंगे
(c) छात्रों का उससे ध्यान हटा देंगे
(d) छात्रों को डाँट पिलायेंगे
Ans: (b) शिक्षण कार्य के समय अगर शिक्षक द्वारा कोई तथ्य गलत कह दिया जाय तो शिक्षक को चाहिए कि वह अपनी गलती को तुरन्त सुधार कर सही तथ्य प्रस्तुत करे।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


19. एक लंबे व्याख्यान को देते हुए अध्यापक काे
(a) बीच में विराम लेना चाहिए
(b) लगातार बोलना चाहिए
(c) बीच में प्रश्न पूछने चाहिए
(d) अपनी भाव-भंगिमा बदलनी चाहिए
Ans: (a) लम्बे व्याख्यान देते समय अध्यापक को बीच में विराम लेना चाहिए क्योंकि लगातार व्याख्यान से नीरसता की उत्पत्ति होगी और सम्बंधित विषय उबाऊ हो जाएगा।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


20. प्रतिभावान बालक की पहचान अवलोकन द्वारा नहीं की जा सकती क्योंकि
(a) अवलोकन वस्तुनिष्ठ तकनीक नहीं है
(b) अवलोकन व्यक्तिनिष्ठ प्रविधि है
(c) अवलोकन सिर्फ विशेषज्ञों द्वारा ही किया जा सकता है
(d) उपरोक्त में से सभी
Ans: (a) वस्तुनिष्ठता के द्वारा किसी छात्र की बुद्धि लब्धि जान सकते हैं‚ कि वह किस स्तर पर है‚ अवलोकन वस्तुनिष्ठ तकनीक नहीं है इसलिए अवलोकन द्वारा प्रतिभाशाली बालक की पहचान नहीं की जा सकती है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


21. बुद्धि के लिए कौन-सा कथन सत्य नहीं है?
(a) बुद्धि सीखने की योग्यता है
(b) बुद्धि समस्या हल करने की योग्यता है
(c) बुद्धि परिश्रम करने की योग्यता है
(d) बुद्धि नवीन परिस्थिति के साथ अनुकूलन करने की योग्यता है
Ans: (c) बुद्धि वह शक्ति है जिसके द्वारा नवीन परिस्थियों में व्यक्ति खुद को अनुकूल कर सकता है साथ ही समस्याओं को हल कर सकता है और कुछ नया।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


22. आपकी कक्षा की एक लड़की की रुचि स्पोर्ट्स में है और वह स्पोर्ट्स में अपने कैरियर को बढ़ाना चाहती है। आप उसे क्या परामर्श देंगे?
(a) लड़कियों का खेल जगत में कोई भविष्य नहीं है
(b) उसे अपनी आकांक्षा की पूर्ति हेतु कठोर परिश्रम करना चाहिए
(c) उसे सिर्फ पढ़ाई में ध्यान लगाने को कहेंगे
(d) लड़कियाँ खेलों में उत्कृष्ट नहीं कर सकती क्योंकि वे शारीरिक रूप से कमजोर होती है
Ans: (b) किसी विद्यार्थी को उसके मनपसंद विषय से कभी दूर नहीं करना चाहिए और न ही छोड़ने के लिए कहना चाहिए अगर वह अन्य विषय में कमजोर है तो उसे उस विषय पर विशेष प्रशिक्षण देना चाहिए।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


23. निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए:
A. स्लाइड प्रोजेक्टर (i) दृश्य साधन
B. टी वी (ii) श्रव्य साधन
C. चार्ट (iii) दृश्य-श्रव्य साधन
D. आवाज रिकॉर्डर (iv) साधन A B C D A B C D

(a) (iv) (iii) (i) (ii) (b) (iv) (ii) (iii) (i)
(c) (iii) (iv) (ii) (i) (d) (i) (ii) (iii) (iv)
Ans: (a) स्लाइड प्रोजेक्टर→प्रक्षेपण साधन टी. वी.→ श्रव्य-दृश्य साधन चार्ट → दृश्य साधन आवाज रिकार्डर→ श्रव्य साधन
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


24. सर्वाधिक प्रभावी मूल्यांकन पद्धति है
(a) वार्षिक परीक्षा प्रणाली (b) सपुस्तक परीक्षा प्रणाली
(c) सेमेस्टर प्रणाली (d) वस्तुनिष्ठ प्रश्नपत्र पद्धति
Ans: (c) सर्वाधिक प्रभावी मूल्यांकन सेमेस्टर प्रणाली है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


25. वस्तुओं को क्रम से जमाने की क्षमता बालक में विकसित होती है जब वह
(a) इन्द्रियगति अवस्था में हो (b) पूर्व क्रिया अवस्था में हो
(c) मूर्त क्रिया अवस्था में हो (d) औपचारिक क्रिया अवस्था में हो
Ans: (b) पूर्व क्रिया अवस्था 2-7 वर्ष तक होती है इसमें बालक में वस्तुओं को क्रम से लगाने की क्षमता का विकास हो जाता है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


26. पद ‘व्यापक मूल्यांकन’ का तात्पर्य है
(a) अलग-अलग समय किया जाने वाला मूल्यांकन
(b) अध्यापकों के एक समूह द्वारा किया जाने वाला मूल्यांकन
(c) लंबी अवधि के कई टेस्ट
(d) विद्यार्थी की संवृद्धि के शैक्षणिक व सहशैक्षणिक आयामों का मूल्यांकन
Ans: (d) व्यापक मूल्यांकन का तात्पर्य सभी आयामों का एक साथ मूल्यांकन करना है।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


27. जब कोई बच्चा किसी शब्द का गलत उच्चारण करता है तो आप क्या करेंगे?
(a) कहेंगे कि ऐसे मत बोलो
(b) शुद्ध उच्चारण बतायेंगे
(c) गलत उच्चारण के लिए उसे डाटेंगे
(d) ध्यान नहीं देंगे
Ans: (b) बच्चे द्वारा गलत शब्द का उच्चारण करना यह बताता है कि बच्चे को शब्द के बारे में ज्ञान नहीं है अत: अध्यापक को चाहिए कि वह बालक को सही उच्चारण बताए और पुन: उच्चारण करने को कहे।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


28. अधिगम स्थानान्तरण की योग्यता को बढ़ाने के लिए अध्यापक को नहीं करना चाहिए
(a) स्व-क्रिया को प्रोत्साहित करना
(b) रटने की प्रवृत्ति को प्रोत्साहित करना
(c) सूझ द्वारा सीखने का विकास करना
(d) सामान्यीकरण पर बल देना
Ans: (b) रटने की प्रवृत्ति को प्रोत्साहित करने से अधिगम स्थानान्तरण की योग्यता वाधित होगा अत: अध्यापकों को इस तरह के प्रोत्साहन से बचना चाहिए।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


29. छात्रों में अच्छे नागरिक के गुण कैसे समाहित किये जा सकते है?
(a) उन्हें अच्छी नागरिकता पर भाषण देकर
(b) उन्हें राष्ट्रीय नायकों से परिचित कराकर
(c) उन्हें कतिपय सामुदायिक सेवा कार्य आवंटित करके
(d) उन्हें भारतीय संविधान से परिचित कराकर
Ans: (b) छात्रों में अच्छे नागरिकों के गुण विकसित करने के लिए उनके पाठ्य-पुस्तक में ऐसे तथ्यों का संकलन करना चाहिए जो महान व्यक्तियों से सम्बंधित हो।
Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


30. प्रभावी एवं सफल नेतृत्व का आधार है
(a) प्रशंसा (b) सम्पूर्ण समूह का हित
(c) समूह की सेवा (d) स्वयं का हित
Ans: (b) प्रभावी एवं सफल नेतृत्व का आधार सम्पूर्ण समूह का हित है।

Himachal Pradesh HPTET Child Development & Pedagogy Previous Papers in Hindi


Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!